• search
जयपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

Rafale Reached India : कौन हैं विंग कमांडर अभिषेक त्रिपाठी, जो फ्रांस से राफेल उड़ाकर ला रहे भारत

By गणपत सिंह मांडोली
|

जालोर। वर्षों का इंतजार अब खत्म होने वाला है। 29 जुलाई की दोपहर दो से तीन बजे के बीच राफेल विमान भारत की सरजमीं पर उतरने वाले हैं। फ्रांस से यूएई होते हुए भारत आ रहे राफेल विमान को अंबाला एयरबेस पर उतारा जाएगा। अंबाला एयरबेस के आस-पास के तीन किलोमीटर के दायरे में धारा 144 लागू है। पूरा देश राफेल विमानों का बेसब्री से इंतजार किया जा रहा है।

Wing Commander Abhishek Tripathi with

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो पांच में से एक राफेल विमान को सुरक्षित भारत लेने की जिम्मेदारी विंग कमांडर अभिषेक त्रिपाठी के कंधों पर है। अभिषेक त्रिपाठी मूलरूप से उत्तर प्रदेश के हरदोई के रहने वाले हैं, मगर राजस्थान से इनका गहरा रिश्ता है।

    Rafale Air Refuelling : UAE से सीधे भारत की उड़ान पर राफेल, हवा में ही भरे ईंधन | वनइंडिया हिंदी
    जालोर में जन्मे विंग कमांडर अभिषेक त्रिपाठी

    जालोर में जन्मे विंग कमांडर अभिषेक त्रिपाठी

    अभिषेक त्रिपाठी का जन्म 9 जनवरी 1984 को राजस्थान के जालोर शहर में हुआ। यहीं पर रहकर अभिषेक ने आर्य वीर दल की शाखाओं में पहलवान बनकर कुश्ती के दांव पेच भी सीखे। दरअसल, उस समय अभिषेक के पिता अनिल त्रिपाठी जालोर शहर के ब्रह्मपुरी स्थित भूमि विकास बैंक में मैनेजर व माता मंजू त्रिपाठी सेल टैक्स विभाग में कार्यरत थीं। अभिषेक की शादी यूपी की प्रियंका त्रिपाठी से हुई है।

    जानिए कौन हैं यह IAS Monika Yadav जिसकी राजस्थान की पारम्परिक वेशभूषा में तस्वीर हो रही वायरल

     जालोर के गुर्जरों का बास में बीता बचपन

    जालोर के गुर्जरों का बास में बीता बचपन

    विंग कमांउडर अभिषेक त्रिपाठी के माता पिता शुरुआत में ब्रह्मपुरी में किराए के मकान में रहते थे। फिर इन्होंने राजेन्द्र नगर के गुर्जरों का बास में घर खरीदा था। वर्ष 2000 तक इनका परिवार यहीं पर रहा। फिर घर बेचकर इनका जयपुर शिफ्ट हो गया। छोटे भाई अनुभव त्रिपाठी के साथ अभिषेक का बचपन जालोर में ही बीता। दसवीं कक्षा तक की पढ़ाई जालोर के इमानुएल सेकंडरी स्कूल से की। फिर जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी दिल्ली से एमएससी करने के बाद अभिषेक ने जहां भारतीय वायुसेना ज्वाइन की। वहीं, उनके भाई अनुभव त्रिपाठी वर्तमान में अमेरिका में एक मल्टीनेशनल कंपनी में इंजीनियर हैं।

     आसमां में उड़ने वाले को पसंद था 'दंगल'

    आसमां में उड़ने वाले को पसंद था 'दंगल'

    भारतीय वायुसेना में रहकर आसमां की सैर करने वाले विंग कमांउडर अभिषेक त्रिपाठी को बचपन में कुश्ती दंगल काफी पसंद था। जालोर में रहने के दौरान पड़ोसी आर्य वीर दल के महामंत्री शिवदत्त आर्य की प्रेरणा से उन्होंने आर्य वीर दल की शाखा ज्वाइन की थी। 1997 में आर्य वीर दल जालोर में आयोजित जिला स्तरीय कुश्ती प्रतियोगिता में दूसरा स्थान प्राप्त किया था।

     पिता भी बेहतरीन खिलाड़ी

    पिता भी बेहतरीन खिलाड़ी

    विंग कमांडर अभिषेक त्रिपाठी व उसके भाई के साथ-साथ पिता भी बेहतरीन खिलाड़ी रहे हैं। ​अभिषेक ने कई बार मेजर ध्यानचंद स्मृति क्रॉस कंट्री प्रतियोगिता में भी भाग लिया। पिता अनिल त्रिपाठी बैडमिंटन के अच्छे खिलाड़ी रहे हैं। जालोर से शुरुआती शिक्षा के बाद अभिषेक उच्च अध्ययन के लिए जयपुर आए गए थे। जयपुर के मानसरोवर स्थित सीडलिंग पब्लिक स्कूल से यहां से 11वीं और 12वीं उत्तीण की। वर्ष 2001 में एनडीए ज्वाइन की। फ्लाइंग लेफ्टिनेंट, स्क्वाडर्न लीडर से होते हुए विंग कमांडर के पद तक पहुंचे।

     जालोर में भी दौड़ी खुशी की लहर

    जालोर में भी दौड़ी खुशी की लहर

    वर्षों के ​इंतजार और खासे विवादित रहे राफेल विमान आखिरकार भारत पहुंचने ही वाले हैं। इस उपलब्धि पर जालोर में भी खुशी की लहर है। विंग कमांडर अभिषेक त्रिपाठी के बचपन को करीब से देखने वाले शिवदत्त आर्य बताते हैं कि माता-पिता ने इनकी बचपन में बहुत अच्छी तरह परवरिश कर देश की सेवा करने के लिए एक सपना देखा था, जो उन्होंने पूरा कर दिखाया और अब वे पूरे भारत के लिए गर्व के उस पल का हिस्सा बनने वाले हैं।

     आर्य वीर दल के साथियों को अभिषेक पर गर्व

    आर्य वीर दल के साथियों को अभिषेक पर गर्व

    विंग कमांडर को बचपन में जालोर आर्य वीर दल में कुश्ती के दांव पेच सीखा चुके आर्य समाज प्रधान दलपत और अध्यक्ष कृष्ण कुमार कहते हैं कि विंग कमांडर त्रिपाठी हंसमुख मिजाज के व्यक्तित्व के धनी हैं। हमें गर्व है कि हमारा भी कुछ समय उनके साथ गुजरा। पूरे भारत को विंग कमांडर अभिषेक पर गर्व हो रहा है। यह हमारे लिए भी गर्व की बात है।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Rafael Wing Commander Abhishek Tripathi Biography in Hindi Family, Childhood And More
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X