• search
जयपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

ACP Kailash Bohra पुलिस सेवा से बर्खास्त, राजस्थान में पहली बार 24 घंटे में उतर गई RPS अफसर की वर्दी

|

जयपुर। तीस वर्षीय युवती से जांच के बदले रिश्वत में अस्मत मांगने वाले राजस्थान पुलिस सेवा (आरपीएस) के अधिकारी कैलाश बोहरा के खिलाफ सरकार ने सख्त एक्शन लिया है। राजस्थान सरकार ने आरपीएस कैलाश बोहरा को पुलिस सेवा से बर्खास्त कर दिया है।

महिला अत्याचार अनुसंधान यूनिट में प्रभारी ​था कैलाश बोहरा

महिला अत्याचार अनुसंधान यूनिट में प्रभारी ​था कैलाश बोहरा

राजस्थान में यह पहला मामला है, जिसमें सरकार ने महज 24 घंटे में कार्रवाई कर किसी दागी पुलिस अफसर को सेवा से हटाया है। जयपुर कमिश्नरेट में सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी) कैलाश बोहरा जयपुर शहर (पूर्व) जिले की महिला अत्याचार अनुसंधान यूनिट में प्रभारी के रूप में तैनात थे।

<strong>जयपुर कमिश्नरेट का ACP कैलाश बोहरा ऑफिस में युवती के साथ इस हाल में मिला, रिश्वत में मांगी थी अस्मत</strong>जयपुर कमिश्नरेट का ACP कैलाश बोहरा ऑफिस में युवती के साथ इस हाल में मिला, रिश्वत में मांगी थी अस्मत

राजस्थान विधानसभा में उठा प्रकरण

राजस्थान विधानसभा में उठा प्रकरण

एसीपी कैलाश बोहरा को निलंबित किए जाने और उसके खिलाफ सेवा से बर्खास्तगी काईवाई के संबंध में सोमवार को संसदीय कार्यमंत्री शांति धारीवाल ने राजस्थान विधानसभा में इसकी जानकारी दी।

मंत्री शांति धारीवाल ने बताया रेयरेस्ट रेयर मामला

मंत्री शांति धारीवाल ने बताया रेयरेस्ट रेयर मामला

संसदीय कार्यमंत्री शांति धारीवाल ने कैलाश बोहरा प्रकरण को रेयरेस्ट रेयर मामला बताया और कहा कि किसी को बर्खास्त करने से पहले प्रक्रिया अपनानी होती है। पहले उसे नोटिस दिया जाता है, लेकिन संविधान का अनुच्छेद-311 कहता है कि अगर कोई गंभीर मामला है तो उस प्रक्रिया को परे रखकर सीधे बर्खास्त किया जा सकता है।

 क्या है कैलाश बोहरा अस्मत मांगने का मामला

क्या है कैलाश बोहरा अस्मत मांगने का मामला

बता दें कि आरपीएस कैलाश बोहरा के पास जयपुर में महिला अत्याचार निवारण यूनिट की प्रभारी की जिम्मेदारी थी। तीस वर्षीय युवती ने जयपुर के जवाहर सर्किल पुलिस थाने में एक युवक व अन्य के खिलाफ शादी का झांसा देकर देहशोषण करने, धोखे से गर्भपात कराने का केस दर्ज कराया था।

 युवती को जांच के बहाने बार-बार बुलाता था ऑफिस

युवती को जांच के बहाने बार-बार बुलाता था ऑफिस

छह मार्च को युवती ने राजस्थान भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की जयपुर टीम को शिकायत दी कि उसके द्वारा दर्ज करवाए गए मुकदमों की जांच के सिलसिले में बोहरा उसे बार-बार अपने ऑफिस बुलाता था। वह 15 दिन पहले एसीपी कैलाश बोहरा से मिली तो बोहरा ने उससे रुपयों की मांग की। रुपयों नहीं देने पर उसने रिश्वत में युवती की अस्मत मांग ली।

 ऑफिस टाइम के बाद मिलने का दबाव बनाया

ऑफिस टाइम के बाद मिलने का दबाव बनाया

रिश्वत में अस्मत मांगने के बाद आरोपी एसीपी युवती पर ऑफिस टाइम के बाद मिलने के लिए दबाव बनाने लगा। छह मार्च को युवती की शिकायत मिलने के बाद एसीबी ने शिकायत के सत्यापन के लिए ACP बोहरा के मोबाइल को सर्विलांस पर लिया था, जिसमें उसकी युवती से अस्मत चाहने के संबंध में आपत्तिजनक बात रिकॉर्ड हुई है।

 रविवार को सिविल ड्रेस में ऑफिस पहुंचा

रविवार को सिविल ड्रेस में ऑफिस पहुंचा

रविवार को एसीपी कैलाश बोहरा ने पीड़िता युवती को अपने ऑफिस में बुलाया। बोहरा निजी कार लेकर सिविल ड्रेस में ऑफिस पहुंचे और खुद ही ऑफिस का लॉक खोला। फिर पीड़िता के ऑफिस पहुंचने पर वह उसे अपने साथ एसीपी कार्यालय के कमरे में ले गए। जहां युवती को अंदर बुलाकर दरवाजा बंद कर लिया। इधर, इशारा पाते ही एसीबी टीम ने बोहरा को आपत्तिजनक हालत में रंगे हाथ पकड़ लिया।

 आरोपी कैलाश बोहरा को 26 तक जेल

आरोपी कैलाश बोहरा को 26 तक जेल

सोमवार दोपहर एसीबी के मानवेंद्र सिंह चौहान की टीम ने आरोपी एसीपी कैलाश बोहरा को मिनी सचिवालय स्थित एसीबी कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे 26 मार्च तक के लिए जेल भेज दिया गया। इधर, गृह विभाग में ऑफिस खुलने के पहले ही बोहरा के निलंबन आदेश जारी कर दिए थे।

​कौन है अस्मत मांगने वाला एसीपी कैलाश बोहरा

​कौन है अस्मत मांगने वाला एसीपी कैलाश बोहरा

बता दें कि आरोपी कैलाश बोहरा 1996 में बतौर एसआई राजस्थान पुलिस में भर्ती हुआ था। जयपुर के बजाज नगर, सदर, शिवदासपुरा सहित कई अन्य थानों में इंस्पेक्टर रहा है। दो साल पहले प्रमोशन पाकर आरपीएस बना था। साल 2010 में जयपुर में सदर थानाप्रभारी रहते हुए बोहरा ने आर्म्स एक्ट के दो मुकदमों में एक ज्वैलर सहित दो युवकों की गिरफ्तारी की थी। इस मामले में पिछले दिनों हाईकोर्ट ने कैलाश बोहरा सहित आधा दर्जन पुलिसकर्मियों के खिलाफ सीबीआई जांच के आदेश दिए थे।

English summary
Kailash Bohra ACP Dismissed from Rajasthan Police Service in bribe Case of Jaipur Girl
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X