• search
जयपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

जयपुर बम धमाके के दोषी आतंकियों को फांसी की सजा सुनाने वाले जज को जान का खतरा, घर पर बोतलें फेंकीं

|

जयपुर। 11 साल पहले राजस्थान की राजधानी जयपुर को सिलसिलेवार बम धमाकों से दहलाने वाला मामला फिर सुर्खियों में है। अब जयपुर बम ब्लास्ट के गुनहगारों को फांसी की सजा सुनाने वाले जज अजय कुमार शर्मा को जान का डर सता रहा है। हालांकि जज शर्मा फिलहाल रिटायर हो चुके हैं।

इंटलिजेंस ब्यूरो की रिपोर्ट का जिक्र

इंटलिजेंस ब्यूरो की रिपोर्ट का जिक्र

न्यूज 18 की खबर के मुताबिक जज अजय कुमार शर्मा ने राजस्थान डीजीपी भूपेंद्र सिंह को पत्र लिखकर सुरक्षा की मांग की है। जज शर्मा ने इंटलिजेंस ब्यूरो की रिपोर्ट का हवाला देते हुए अपने पत्र में लिखा है कि उन्हें और उनके परिवार को आतंकी ग्रुप निशाना बना सकते हैं, क्योंकि उन्होंने वर्ष 2009 में जयपुर में बम बलास्ट करने वाले दोषी 4 आतंकियों को दिसम्बर 2019 में फांसी की सजा सुनाई थी।

jaipur bomb blast : आजमगढ़ के वो चार आतंकी, जिन्होंने जयपुर में किए आठ बम धमाके, चारों दोषी

 पहले से दी गई सुरक्षा नहीं हटाए जाए

पहले से दी गई सुरक्षा नहीं हटाए जाए

जज ने अपने पत्र में इस बात की भी चिंता जताई है कि उन्हें चार गार्ड और दो पीएसओ की सुरक्षा मिली हुई थी। जो 31 जनवरी 2020 को रिटायर होने के बाद से उनके साथ है। लेकिन अब सूचना मिली है कि पुलिस लाइन के अधिकारी उन्हें दी गई सुरक्षा हटाने जा रहे हैं। जबकि सुरक्षा यथावत रखी जानी चाहिए। इसके अलावा जज ने अपनी चिंता की दूसरी वजह यह बताई है कि हाल ही उनके घर पर शराब की खाली बोतलें भेजकर उन्हें निशाना बनाया गया है।

संदिग्ध लोग कर रहे घर की रैकी

संदिग्ध लोग कर रहे घर की रैकी

रिटायर्ड जज शर्मा ने राजस्थान डीजीपी को लिखे अपने पत्र में बताया कि आजकल उनके घर की कोई संदिग्ध व्यक्ति रैंकी भी कर रहे हैं। मोटरसाइकिल सवार संदिग्ध लोग उनके घर के आस-पास चक्कर लगाते हैं। घर की फोटो भी खींची गई हैं। सुरक्षा नहीं दी गई तो उनके साथ कभी भी कुछ गलत हो सकता है, क्योंकि यह आतंकी संगठन बहुत खतरनाक है।

 जज नीलकंठ गंजू का उदाहरण

जज नीलकंठ गंजू का उदाहरण

जज अजय कुमार शर्मा ने खुद की जान को खतरा बताने के साथ ही पत्र में जज नीलकंठ गंजू भी उदाहरण दिया है। पत्र में लिखा है कि न्यायाधीश नीलकंठ गंजू ने 1984 में आतंकी मकबूल भटट को मौत की सजा सुनाई थी। बाद में दो अक्टूबर 1989 को आतंकवादियों को उनका सरआम कत्ल कर दिया था।

जयपुर बम ब्लास्ट के आंकड़े

जयपुर बम ब्लास्ट के आंकड़े

-13 मई 2008 को जयपुर में सीरियल बम ब्लास्ट हुए

-जयपुर के परकोटे में आठ जगहों पर हुए धमाकों में 71 लोगों की मौत

-जयपुर बम धमाकों में 185 लोग घायल हुए थे

-जयपुर बम धमाकों के 11 साल बाद चार आतंकी दोषी पाए गए

-20 दिसम्बर 2019 को जज अजय कुमार शर्मा ने आतंकी मोहम्मद सैफ, सरवर आजमी, सलमान और सैफुर्रहमान को फांसी की सजा सुनाई

जयपुर में भीख मांग रहे एमए-एमकॉम तक पढ़े-लिखे लोग, पुलिस सर्वे में बताई यह मजबूरी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
jaipur bomb blast Case Judge Ajay Kumar Sharma's life threat
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X