India
  • search
जबलपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

MP पंचायत चुनाव: भिंड में पथराव, एक पुलिसकर्मी घायल, संवेदनशील केंद्रों पर बढ़ी निगरानी

|
Google Oneindia News

भोपाल, 25 जून: मध्यप्रदेश में तीन चरणों में हो रहे त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए पहले चरण की वोटिंग आज हो रही है। सुबह सात बजे से प्रदेश के 52 जिलों के 115 विकासखण्डों में वोट डाले जा रहे है। कुल 8702 ग्राम-पंचायतों में वोटिंग के लिए 26902 मतदान केंद्र बनाए गए है। मतदान किसी भी सूरत में प्रभावित न हो और किसी भी तरह की गड़बड़ी रोकने सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए थे। संवेदनशील मतदान केन्द्रों को चिन्हित कर यहाँ पहले से ही अतिरिक्त पुलिस फ़ोर्स भी तैनात रही।

live

पहले चरण में 1करोड़ 49 लाख 23 हजार 65 मतदाता
मप्र में पंचायत चुनाव को लेकर आज जहाँ-जहाँ पहले चरण के लिए वोटिंग संपन्न हुई। वहां मतदाताओं को मतदान करने विशेष इंतजाम किए गए थे। पहले चरण के लिए मालवा, चंबल, विंध्य, बुंदेलखंड, महाकौशल अंचल में सुबह 7 बजे से शांतिपूर्ण ढंग से मतदान प्रारंभ हुआ। दोपहर 3 बजे तक वोट डाले गए प्रदेश के कुछ जिलों में एक चरण में चुनाव पूरे हो गए, तो कुछ ऐसे जिले है जहाँ तीन चरणों में चुनाव होना है।

election

चंबल के भिंड में पथराव
निर्वाचन आयोग और प्रशासन ने पूरे प्रदेश में जहाँ शांति-पूर्ण ढंग से मतदान कराने व्यवस्थाएं की, वही सुबह मतदान शुरू होने के कुछ देर बाद भिंड के असनेट गांव में पथराव की खबर आई। कुछ तत्वों ने पोलिंग बूथ क्रमांक 148, 149 पर पथराव किया। बताया जा रहा है कि इस घटना में ग्रामीणों के पथराव से सब इंस्पेक्टर अमित सिकरवार बुरी तरह जख्मी हुए है। जिन्हें इलाज के लिए नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया। पथराव की अभी वजह साफ़ नहीं हो पाई है। स्थिति को नियंत्रण करने मौके पर अतिरिक्त पुलिस बल पहुंचा और उत्पाती तत्वों को खदेड़ा गया। कुछ लोगों को हिरासत में लेने की बात भी कही जा रही है।

voting

चप्पे-चप्पे पर तैनात पुलिस, चंबल में ड्रोन से नजर
जनपद पंचायतों में मतदान को लेकर सभी जिलों में सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए थे। मतदान के पूर्व ही संवेदनशील केन्द्रों को चिन्हित कर लिया गया था। वहां अतिरिक्त पुलिस फ़ोर्स भी तैनात किया गया था। गड़बड़ी फ़ैलाने वालों के खिलाफ जबलपुर में NSA के तहत कार्रवाई की पहले से ही बात कही गई थी। पुलिस प्रशासन ने इस बार ऐसे इंतजाम किए है कि जरुरत पड़ने पर 15 मिनिट के भीतर अतिरिक्त फ़ोर्स पहुँच जाए। यह पहला मौका कि जब चुनाव में बेहद संवेदनशील माने जाने वाले चंबल के मुरैना, भिंड क्षेत्र में ड्रोन से नजर रखी गई।

ये भी पढ़े-चुनाव जीती तो 'विकास की बैसाखी बनेगी दिव्यांग सुशीला, जानिए इस शहर में सुशीला की क्यों है चर्चाये भी पढ़े-चुनाव जीती तो 'विकास की बैसाखी बनेगी दिव्यांग सुशीला, जानिए इस शहर में सुशीला की क्यों है चर्चा

Comments
English summary
Voting for the first phase of village government begins in MP, tight security arrangements at sensitive centers
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X