• search
जबलपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

ये कलेक्टर बिंदास है, ग्रीन फैसिलिटी के साथ अस्पताल को ग्रीन हॉउस में तब्दील करने की कवायद

|
Google Oneindia News

जबलपुर, 26 मई: भिंड,रीवा जैसे बिगड़ैल जिलों की सूरत बदलने का माद्दा रखने वाले युवा ऊर्जावान कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी लगता है कि जबलपुर में नए अवतार में है। इस जिले की कमान संभालने के बाद लगातार उनकी कार्यशैली लोगों को उनका मुरीद बना रही है। भूमाफियाओं के खिलाफ कड़े एक्शन हों या फिर सरकारी दफ्तरों विभागों का ढर्रा सुधारना उनकी डिक्शनरी में शामिल हो गया है। संभाग के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल नेताजी सुभाषचंद्र मेडिकल कॉलेज अस्पताल में उनके लगातार हो रहे औचक निरीक्षण किसकी गवाही दे रहे हैं। हफ्ते भर में चौथी बार जब कलेक्टर इस अस्पताल में पहुंचे तो पहले उन्होंने अपने दिए निर्देशों पर हुए अमल की तहकीकात की। जिन्होंने लापरवाही बरती उनको फिर फटकार लगाई। अब इस अस्पताल को ग्रीन कैंपस बनाने का फैसला लिया गया है जहां करीब 5 हजार हरे-भरे पौधे लगाए जायेंगे ।

med

मरीजों को लगे कि अस्पताल है, कबाड़खाना नहीं
कलेक्टर की मंशा है कि सरकारी अस्पतालों में बड़ी उम्मीद से आने वाले गरीब तबके के लोगों को हर सुविधा मिले। उन्हें यह महसूस न हो कि गरीबी की वजह से सिर्फ बदइंतमाजियां ही नसीब हो रही हैं। निजी अस्पतालों की तरह यहां पहुंचने वाले मरीजों को हर तरह का एहसास हो। अक्सर सरकारी अस्पतालों पर इल्जाम रहा है कि गंदगी बजबजाती रहती है और डॉक्टर वक्त पर मुहैया नहीं होतेए बाहर से आने वाले मरीज के परिजनों को ठहरने का इंतजाम नहीं होता। इस दर्द को समझते हुए कलेक्टर ने इस अस्पताल से स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को सुधारने का बीड़ा उठाया है।

petient

हर सुविधा के लिए ग्रीन सिग्नल देगा ग्रीन कैंपस
सप्ताह में चैथी मर्तबा मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचे कलेक्टर डॉण् इलैया राजा टी ने पिछले दिए हुए निर्देशों पर हुए पालन की जानकारी ली। जहां सुधार की गुंजाइश लगी दोबारा कहा गया कि संबंधित विभाग अपना ईमानदारी से काम करे। इसी दौरान अस्पताल कैंपस में हरियाली का अभाव देखते हुए उन्होंने करीब 5 हजार हरे भरे पौधे लगाए जाने के निर्देश दिए। इस सिलसिले में सामाजिक संस्था कदम के साथ बैठक भी की ताकि पर्यावरण की दृष्टि से अस्पताल को भी सुसज्जित किया जा से।

green

नई पार्किंग बनेगीए लगेंगे नीम के पौधे
कलेक्टर ने अस्पताल परिसर में सुव्यवस्थित नए पार्किंग स्थल की जरूरत भी बताई। आए दिन इन स्थलों पर होने वाले झगड़े और दूसरी समस्याओं से निपटने अलग से गार्ड भी तैनात किए जाऐंगे। इसके अलावा परिसर को हरा.भरा करने के लिए गैर सरकारी संगठन की मदद से कार्ययोजना बनाई जा रही हैए जिसमें रोपे जाने वाले पौधों में खाद सिंचाई की व्यवस्था नगर निगम करेगा। कलेक्टर ने अस्पताल परिसर में स्थित गार्डन को सुव्यवस्थित करने के निर्देश भी दिए।

ये भी पढ़े-GOOD NEWS: श्वासनली की रिपेयरिंग युवती को मिली नई जिंदगी, जबलपुर के सरकारी डाक्टर्स ने कायम की मिसालये भी पढ़े-GOOD NEWS: श्वासनली की रिपेयरिंग युवती को मिली नई जिंदगी, जबलपुर के सरकारी डाक्टर्स ने कायम की मिसाल

Comments
English summary
This collector is bindas, an exercise to convert the hospital into a green house with green facility
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X