India
  • search
जबलपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

मतदान के दिन कई जिलों में बारिश का मंडरा रहा खतरा, मौसम विभाग की एडवाइजरी

|
Google Oneindia News

भोपाल, 05 जुलाई: मध्यप्रदेश में बुधवार को नगरीय निकाय चुनाव के पहले चरण के लिए वोट डाले जाएंगे। प्रदेश के 11 निकायों में वोटिंग शुरू होने के पहले कई जगहों पर आसमान में बादलों ने डेरा जमा लिया है। मौसम विभाग ने भी अलर्ट के साथ एडवाइजरी जारी की है। कई क्षेत्रों में भारी बारिश की चेतावनी है, लेकिन निर्वाचन आयोग ने चुनाव वाले इलाकों में बारिश से निपटने के पर्याप्त इंतजामों का दावा किया गया हैं।

वोटिंग के वक्त बारिश की चिंता

वोटिंग के वक्त बारिश की चिंता

मप्र में नगरीय निकाय चुनाव के पहले चरण की वोटिंग के पहले मौसम विभाग की चेतावनी ने प्रत्याशियों की चिंता बढ़ा दी है। प्रदेश के 11 निकायों में बुधवार को होने वाले मतदान के दौरान यदि भारी बारिश हुई, तो मतदान प्रतिशत में भी इसका असर पड़ सकता है। अपने स्तर पर तो मतदाता लोकतंत्र के इस उत्सव में आहूतियां देने की जरुर कोशिश करेंगे, फिर भी यदि मौसम ने साथ नही दिया तो चुनाव कार्य में लगे कर्मियों के साथ आम मतदाताओं को भी कई परेशानियाँ उठाना पड़ सकती है।

 ऑरेंज-यलो अलर्ट, एडवाइजरी जारी

ऑरेंज-यलो अलर्ट, एडवाइजरी जारी

मौसम विभाग ने प्रदेश के कई हिस्सों में गरज चमक के साथ तेज बारिश की चेतावनी जारी की है। पिछले 24 घंटों में प्रदेश के जबलपुर, भोपाल, नर्मदापुरम, शहडोल, रीवा, इंदौर, ग्वालियर, सागर, चंबल संभाग के कई हिस्सों में बारिश दर्ज हुई है। मौसम विभाग के मुताबिक इंदौर, उज्जैन, नर्मदापुरम, भोपाल , जबलपुर और सागर, रीवा, शहडोल चंबल और ग्वालियर संभाग के कई जिलों में बारिश की संभावना है। इसके अलावा मालवांचल के कई क्षेत्रों में ऑरेंज और महाकौशल बुंदेलखंड के हिस्सों में यलो अलर्ट है।
मौसम विभाग की एडवाइजरी
1. वोटिंग के दौरान और पोलिंग बूथों पर नहीं करें मोबाइल का इस्तेमाल
2. किसी भी इलेक्ट्रॉनिक गैजेट का इस्तेमाल नहीं करने की सलाह
3. इलेक्ट्रॉनिक गैजेट से बढ़ जाता है बिजली गिरने का खतरा
4. पोलिंग बूथों पर मोबाइल के उपयोग से गिर सकती है बिजली
5. आज और कल इंदौर और भोपाल संभाग में भारी बरसात की चेतावनी
6. खुले आकाश में आज और कल मोबाइल इस्तेमाल से बचें

मतदान केन्द्रों में वॉटर प्रूफ़िंग की व्यवस्था का दावा

मतदान केन्द्रों में वॉटर प्रूफ़िंग की व्यवस्था का दावा

निर्वाचन आयोग के सचिव राकेश सिंह ने दावा किया है कि यदि मतदान वाले क्षेत्रों में तेज बारिश हुई तो वहां पहले से कई इंतजाम रहेंगे। मतदान केन्द्रों में स्थानीय स्तर पर सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने कहा गया है। वाटर प्रूफिंग समेत, कई इंतजाम किए गए है। यह भी निर्देश जारी किए गए है कि पंचायत चुनाव में जिन क्षेत्रों में घटनाए हुई, वैसी पुनरावृत्ति आने वाले मतदान में न हो। अतिरिक्त पुलिस बल तैनाती के निर्देश भी दिए गए है। साथ ही कही भी गड़बड़ी मिलने पर ऐसी व्यवस्था की गई है कि 15 मिनिट के भीतर वहां अधिकारी पहुंचे।

मतदान केन्द्रों में जल निकासी की व्यवस्था

मतदान केन्द्रों में जल निकासी की व्यवस्था

6 जुलाई को जिन निकायों में वोटिंग है, यदि वहां बारिश के कारण जल-भराव के हालात बनते है, तो उसके इंतजाम भी किए गए है। प्रशासनिक स्तर पर जेसीबी मशीन और अन्य कर्मचारियों को रिजर्व रखा गया है। सूचना मिलते ही ऐसे पोलिंग बूथ पर टीम पहुंचेगी और जल निकासी की व्यवस्था करेंगी। ताकि पोलिंग बूथ वाले ग्राउंड में मतदाताओं को आने-जाने में कोई समस्या न हो।

ये भी पढ़े-Weather Updates: MP के इन इलाकों में येलो-ऑरेंज अलर्ट, जानिए अगले 4 दिनों तक कैसा रहेगा मानसूये भी पढ़े-Weather Updates: MP के इन इलाकों में येलो-ऑरेंज अलर्ट, जानिए अगले 4 दिनों तक कैसा रहेगा मानसू

Comments
English summary
danger of rain in many districts on the day of polling, advisory of the Meteorological Department
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X