• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

जानिए, 13 हजार KM दूर US से उड़कर आए एक कबूतर को क्यों मारना चाहता है ऑस्ट्रेलिया?

|

नई दिल्ली। कबूतर (Pigeon) बहुत ही शांत और भोले पक्षी होते हैं, कई देशों में उन्हें शांती का प्रतीक भी माना जाता है। कबूतर अक्सर खाने और आसरे की तलाश में काफी लंबी दूरी तय कर लेते हैं। ऐसा ही एक कबूतर सिर्फ अपने पंखों के दम पर प्रशांत महासागर (Pacific Ocean) को पार कर अमेरिका (America) से ऑस्ट्रेलिया (Australia) पहुंच गया। करीब 13 हजार किलोमीटर का सफर तय कर अनजान देश पहुंचते ही उसे अब अपनी जान बचाने के लिए छिपना पड़ रहा है। लेकिन ऐसा क्या हुआ कि ऑस्ट्रेलिया उस एक कबूतर की जान का दुश्मन बन गया है?

कबूतर की जान का दुश्मन बना ऑस्ट्रेलिया

कबूतर की जान का दुश्मन बना ऑस्ट्रेलिया

मामला बेहद की गंभीर है, दरअसल भारत समेति पूरी दुनिया कोरोना वायरस महामारी से जूझ रही है। इस बीच जानवरों और पक्षियों में भी बर्ड फ्लू समेत कई गंभीर बीमारी के लक्षण मिल रहे हैं। ऐसे में ऑस्ट्रेलिया सरकार नहीं चाहती कि कोई बाहरी पक्षी या जीव दूसरे देश से बीमारी लेकर उनके देश आए। ऑस्ट्रेलियायी सरकार को अमेरिका से आए एक सफेद कबूतर से जैविक सुरक्षा के लिए खतरा महसूस हो रहा है।

रेस से भाग गया था कबूतर

रेस से भाग गया था कबूतर

वहां की सरकार का मानना है कि एक कबूतर कई बीमारियों के फैलने की वजह बन सकता है। मीडिया रिपोर्ट से मिली जानकारी के मुताबिक ऑस्ट्रेलिया पहुंचे सफेद कबूतर अमेरिका में होने वाली कबूतरों की रेस से भाग गया था। इस कबूतर का नाम जो (Joe) बताया जा रहा है और इसके पैर पर नीले रंग का एक बैच भी है। ये बैच कबूतरों को रेस के दौरान आसानी से पहचाने जाने के लिए पैरों में बांधा जाता है।

दो महीने में तय किया सफर

दो महीने में तय किया सफर

बताया जा रहा है कि यह कबूतर पिछले साल अमेरिका के ऑरेगॉन से 29 अक्तूबर को गायब हुआ और अपने पंखों के सहारे 13 हजार किलोमीटर की यात्रा कर 26 दिसंबर को ऑस्‍ट्रेलिया पहुंचा। ऑस्‍ट्रेलिया पहुंचते ही यह कबूतर अब चर्चा का केंद्र बना हुआ है। ऑस्‍ट्रेलिया की सरकार इसे एक घुसपैठिए के तौर पर देख रही है, सैली बर्ड नाम के अधिकारी ने बताया कि क्वारंटीन प्रशासन ने उन्हें इस कबूतर को पकड़ने के लिए बुलाया है।

कबूतर ने तोड़ा विश्व रिकॉर्ड!

कबूतर ने तोड़ा विश्व रिकॉर्ड!

सैली बर्ड के मुताबिक कबूतर में बर्ड फ्लू की भी आशंका हो सकती है, इसलिए इस कबूतर को जान से मारा जाएगा। माना जा रहा है कि ये अब तक की सबसे लंबी उड़ान भरने वाला कबूतर है। इससे पहले सबसे लंबी उड़ान भरने का विश्व रिकॉर्ड करीब 11,600 किलोमीटर का है। उधर, अमेरिका में ओक्लाहोमा स्थित अमेरिकन रेसिंग पिजन यूनियन के स्पोर्ट डेवलपमेंट मैनेजर डियोन रॉबर्ट्स ने कहा कि कबूतर के पैर में बंधा नीला बैंड नकली है।

VIDEO : 'लो पधारो तैयार है भोजन प्रसादी जीमो सा' की आवाज सुनकर दाना चुगने आते हैं लाखों कबूतर

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Why does Australia want to kill pigeon flying 13 thousand KM away from the US
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X