• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

जॉनसन एंड जॉनसन की कोरोना वैक्सीन को WHO ने दी मंजूरी, कहा- हम महामारी नियंत्रित करने के और करीब

|
Google Oneindia News

जेनेवा: विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने अमेरिकी दवा कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन की कोरोना वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है। डब्ल्यूएचओ प्रमुख टेड्रोस एडेहनम ग्रेब्रेयेसस ने कहा कि जॉनसन एंड जॉनसन की कोविड-19 वैक्सीन के मंजूरी मिलने से हम महामारी को नियंत्रित करने के एक कदम और करीब हो गए हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ हर नया, सुरक्षित और प्रभावी वैक्सीन हमें इस वायरल को कंट्रोल करने के करीब ला रहा है। जॉनसन एंड जॉनसन की सिंगल डोज कोरोना वैक्सीन को मंजूरी मिलने के बाद इस वैक्सीन को अब अंतरराष्ट्रीय कोवैक्स मुहिम के तहत गरीब देशों को भेजा जाएगा। इस वैक्सीन को कोवैक्स अभियान के तहत उन देशों को सबसे पहले दिया जाएगा, जहां अभी कोरोना वैक्सीन नहीं पहुंच पाया है।

    WHO ने Johnson & Johnson की Corona Vaccine को दी मंजूरी, कही ये बात | वनइंडिया हिंदी

    Johnson & Johnson

    विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि जॉनसन एंड जॉनसन की कोरोना वैक्सीन को आपातकालीन उपयोग मंजरी दे दी गई है। उन्होंने ये भी कहा है कि ये कोरोना वैसक्सी बाकियों तुलना में ज्यादा तेज असर दिखाता है। बता दें कि जॉनसन एंड जॉनसन वैक्सीन की खास बात ये है क इसमें दो डोज की एक ही खुराक दी जाती है। बाकी अन्य कोरोना वैक्सीन की डोज मुख्य रूप से दो बार दी जाती है। लेकिन जॉनसन एंड जॉनसन कोविड-19 वैक्सीन की सिंगल डोज दी जाएगी।

    क्लिनिकल ट्रायल में पाया गया है कि जॉनसन एंड जॉनसन की वैक्सीन 67 प्रतिशत प्रभावी है। लेकिन उस क्लिनिकल ट्रायल में कोविड-19 के सभी रूपों पर विचार किया। गंभीर बीमारी को रोकने में जॉनसन एंड जॉनसन की कोरोना वैक्सीन 85.4 प्रतिशत कारगर साबित हुई है। कंपनी द्वारा साझा किए गए क्लिनिकल ट्रायल के नमूना डेटा भी दर्शाता है कि वैक्सीन बुजुर्गों और गंभीर बीमारी से पीड़ित लोगों के लिए अधिक प्रभावी है।

    डब्ल्यूएचओ प्रमुख टेड्रोस एडेहनम ग्रेब्रेयेसस ने कहा, हमें उम्मीद है कि यह नया टीका वैक्सीन की असमानताओं को कम करने में मदद करेगा। जॉनसन एंड जॉनसन के सिंगल डोज को लेकर डब्ल्यूएचओ ने कहा कि इससे सभी देशों में वैक्सीनेशन और अधीक सुविधाजनक बनने की उम्मीद है।

    ये भी पढ़ें- एस्ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन पर कुछ देशों ने लगाई रोक तो WHO ने कहा, 'ऐसा करने की कोई जरूरत नहीं है....'ये भी पढ़ें- एस्ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन पर कुछ देशों ने लगाई रोक तो WHO ने कहा, 'ऐसा करने की कोई जरूरत नहीं है....'

    English summary
    WHO approves Johnson & Johnson Coronavirus vaccines for emergency use ALL you need to know
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X