• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

हवाई जहाज में कोरोना फैलने का कितना खतरा है, WHO ने बताया

|

नई दिल्ली- विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि हवाई यात्रा के दौरान कोविड-19 संक्रमण का खतरा 'बहुत कम' है, लेकिन इसके जोखिम से इनकार नहीं किया जा सकता है। कई ऐसी स्टडी सामने आई है, जिससे पता चलता है कि हवाई यात्रा के दौरान संक्रमण होने की संख्या बहुत ही कम है। जानकारी के मुताबिक अब विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि 'विमान के अंदर संक्रमण संभव है, लेकिन जोखिम बहुत ही कम लगता है। यात्रियों की संख्या और केसों की संख्या को देखते हुए तो ऐसा ही कहा जा सकता है।' डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि हालांकि, तथ्य ये हैं कि जो बात सामने आई हैं, उसमें ऐसे मामले बहुत कम ही देखने को मिले हैं, लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि ऐसा हो नहीं सकता।

What is the risk of coronavirus infection in Plane, WHO said

गौरतलब है कि अमेरिकी रक्षा विभाग के एक अनुसंधान में भी यही बात बताई गई है कि हवाई जहाज के अंदर कोरोना संक्रमण होने का खतरा बहुत ही कम है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कुछ विदेशी एयरलाइन्स ने यहां तक दावा किया है कि विमान के अंदर कोरोना फैलने का जोखिम नहीं के बराबर है। अमेरिकी साउथवेस्ट एयरलाइंस ने इन दावों के आधार पर यहां तक कहा था कि वह तो बीच वाली सीट खाली रखने के फैसले पर पुनर्विचार कर सकता है। ग्लोबल एयरलाइंस संस्था आईएटीए ने 8 अक्टूबर को बताया था कि इस साल 120 करोड़ यात्रियों ने हवाई सफर किया है, जिनमें सिर्फ 44 ऐसे मामले सामने आए हैं। इन आंकड़ों के हिसाब से 27 लाख हवाई यात्रियों में से सिर्फ 1 को कोरोना संक्रमण होने की आशंका है।

हालांकि, कुछ वैज्ञानिकों ने आईएटीए के दावों पर सवाल उठाए थे। अमेरिका में संक्रमण वाली बीमारियों के स्पेशलिस्ट डॉक्टर डेविड फ्रीडमैन ने कहा था कि ये दावा 'गलत गणना' पर आधारित है, इसिलए उन्होंने आईएटीए की ब्रीफिंग का हिस्सा बनने से भी इनकार कर दिया था। हालांकि, आईएटीए का जवाब है कि कम जोखिम का उसका आंकलन प्रासंगिक और भरोसेमंद है।

वैसे विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि उसे विमान में संक्रमण होने के दो मामलों की जानकारी है, एक लंदन से हनोई की फ्लाइट में और एक सिंगापुर से चीन जाने वाली फ्लाइट में। इस आधार पर डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि बीमार यात्री और कोविड-19 से संक्रमित लोगों को यात्रा की इजाजत नहीं दी जानी चाहिए। हालांकि, इसके साथ ही विश्व स्वास्थ्य संगठन ने यह भी कहा है कि आधुनिक जेट विमानों का वेंटिलेशन सिस्टम वायरस और जर्म्स को बहुत जल्दी फिल्टर कर सकता है।

इसे भी पढ़ें- बिहार को कोरोना वैक्सीन के बीजेपी के वादे पर भड़के शशि थरूर, मोदी सरकार को बताया बेशर्म

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
What is the risk of coronavirus infection in Plane, WHO said
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X