• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

तालिबान सरकार लड़कियों को देगी छूट, 'शरारती महिलाएं' घरों में कैद रहेंगी

|
Google Oneindia News

काबुल, 19 मई : अफगानिस्तान में महिलाओं की आजादी को लेकर तालिबान सरकार का रवैया ठीक नहीं रहा है। देश में तालिबानी शासन में लड़कियों की पढ़ाई बंद करवा दी गई। लेकिन खबर है कि अफगानिस्तान में महिलाओं की आजादी को लेकर जल्द ही तालिबान सरकार की तरफ से गुड न्यूज मिलने वाली है।

हक्कानी ने Naughty महिलाओं को लेकर कही बड़ी बात

हक्कानी ने Naughty महिलाओं को लेकर कही बड़ी बात

देश के आंतरिक मंत्री व तालिबान के उप नेता सिराजुद्दी हक्कानी ने कहा है कि वह इस बार जल्द 'गुड न्यूज' देंगे लेकिन शरारती (Naughty) महिलाओं को घरों में ही रहना होगा।

तालिबान सरकार ने महिलाओं की पढ़ाई पर रोक लगाई

तालिबान सरकार ने महिलाओं की पढ़ाई पर रोक लगाई

तालिबानी सरकार अफगानिस्तान में महिलाओं को लेकर अब तक कोई अच्छी खबर नहीं दी है। सरकार बनते ही उन्होंने सबसे पहले लड़कियों की पढ़ाई पर रोक लगा दी। इसके खिलाफ महिलाएं सड़कों पर उतर आईं। जब महिलाएं मैदान में उतरीं तो छठी कक्षा तक छात्राओं को स्कूल जाने की इजाजत दे दी गई, लेकिन अन्य महिलाओं के लिए पहनावे से लेकर अन्य मुद्दों पर सख्त पाबंदियां जारी है।

प्रदर्शन करने वाली महिलाएं घरों में रहेंगी

प्रदर्शन करने वाली महिलाएं घरों में रहेंगी

हक्कानी ने कहा है कि, तालिबान सरकार छात्राओं को हाईस्कूल जाने की इजाजत देगी। इसको लेकर जल्द ही गुड न्यूज मिलेगी। हालांकि, हक्कानी ने यह भी साफ कर दिया कि, जिन महिलाओं ने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया था, वे अपने घरों में ही रहेंगी।

तालिबान सरकार का लड़कियों के प्रति कठोर रवैया

तालिबान सरकार का लड़कियों के प्रति कठोर रवैया

हक्कानी के इस बयान के बाद तालिबानी शासन के महिलाओं के प्रति कठोर रवैया खुलकर सामने आ गया है। उनका लड़कियों को लेकर किया गया वादा खोखला साबित हुआ है। सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक अफगानिस्तान में तालिबान की सरकार बनते ही सबसे पहले उन्होंने छात्राओं के स्कूल-कॉलेज जाने पर ही रोक लगा दी।

शरारती महिलाएं घरों में रहेंगी

शरारती महिलाएं घरों में रहेंगी

जब तालिबान सरकार से पूछा गया कि उनके राज में महिलाएं घरों से बाहर निकलने में डरती क्यों हैं, इस पर नेता हक्कानी ने कहा कि, हम शरारती महिलाओं को घरों में ही रखेंगे। जब हक्कानी से पूछा गया कि शरारती महिलाओं से आपका मतलब क्या है, अफगान सरकार के मंत्री ने कहा कि, यह तो मजाक है, दरअसल वह उन महिलाओं के बारे में बात कर रहे हैं, जो दूसरों के इशारों पर तालिबान सरकार को कठघरे में खड़ा करने की कोशिश कर रहे हैं।

तालिबान सरकार का महिलाओं को बुर्का पहनने का फरमान

तालिबान सरकार का महिलाओं को बुर्का पहनने का फरमान

बता दें कि, अफगानिस्तान के आंतरिक मंत्री हक्कानी को अमेरिका ने ग्लोबल टैररिस्ट घोषित कर रखा है। एफबीआई ने उस पर1 करोड़ डॉलर का इनाम घोषित किया हुआ है। हक्कानी ने सीएनएन से चर्चा में कहा कि, छठी कक्षा तक की छात्राओं को स्कूल जाने की इजाजत पहले ही मिल चुकी है। हम जल्द ही अच्छी खबर देंगे। हालांकि, उन्होंने यह नहीं बताया कि महिलाओं को गुड न्यूज कब तक मिलेगी। बताते चले कि तालिबान सरकार ने अफगानिस्तान में महिलाओं को बुर्का पहनने का फरमान जारी किया है। तालिबान के इस फरमान से नाराज देश के कई महिला संगठन सड़कों पर इसका विरोध कर रही हैं।

ये भी पढ़ें :अफगान लड़कियों की पढ़ाई पर पाबंदी, अपनी बेटियों को विदेशों में पढ़ाते हैं तालिबानी नेता, कबूलनामाये भी पढ़ें :अफगान लड़कियों की पढ़ाई पर पाबंदी, अपनी बेटियों को विदेशों में पढ़ाते हैं तालिबानी नेता, कबूलनामा

Comments
English summary
A senior Taliban official has repeated that the group will allow more rights for women but he had a message for 'naughty women...
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X