• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Video: ब्राजील के राष्‍ट्रपति बोलसोनारो ने सही समय पर मदद के लिए की पीएम मोदी की तारीफ, देश की तरफ से कहा Thank You

|

ब्रसीलिया। अमेरिका के राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के बाद अब ब्राजील के राष्‍ट्रपति जैर बोलसोनारो ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की है। इस वर्ष गणतंत्र दिवस में मुख्‍य अतिथि के तौर पर भारत आने वाले बोलसोनारो ने देश के नाम अपने संबोधन में पीएम मोदी का नाम लिया है और उनका शुक्रिया अदा किया है। कोरोना वायरस महामारी संकट के बीच ही मलेरिया की दवा हाइइोक्‍लीक्‍लोरोक्‍वीन (एचसीक्‍यू) की मांग अमेरिका के अलावा ब्राजील की तरफ से भी की गई थी। भारत ने पिछले दिनों इस दवा के निर्यात पर लगे बैन को हटा लिया है। बोलसोनारो ने इससे पहले रामायण का जिक्र किया था।

<strong>यह भी पढ़ें-हाइड्रोक्‍सीक्‍लोरोक्विन का 70 प्रतिशत उत्पादन भारत में</strong> यह भी पढ़ें-हाइड्रोक्‍सीक्‍लोरोक्विन का 70 प्रतिशत उत्पादन भारत में

मलेरिया की दवाई से हटा प्रतिबंध

मलेरिया की दवाई से हटा प्रतिबंध

बोलसोनारो ने सही समय पर भारत की तरफ से मिली मदद के लिए पीएम मोदी को थैंक्‍यू कहा। उन्‍होंने एचसीक्यू पर लगे बैन को हटाने की मंजूरी के लिए भारत का आभार जताया। इस दवाई का प्रयोग बड़े पैमाने पर कोरोना वायरस के इलाज के लिए किया जा रहा है। बुधवार को राष्‍ट्र के नाम अपने संबोधन में उन्‍होंने कहा, 'भारत के प्रधानमंत्री के साथ मेरी सीधी वार्ता का नतीता है कि हमें शनिवार तक मलेरिया की दवा हाइड्रोक्‍सीक्‍लोरोक्‍वीन को तैयार करने के लिए कच्‍चा सामान मिल सकेगा ताकि हम कोविड-19 के मरीजों का इलात कर सकें। इसके अलावा मलेरिया, लुपुस और अर्थराइटिस के मरीजों का इलाज भी किया जा सकेगा।'

    Coronavirus: PM Modi ने भेजी दवा, तो Brazil President ने कहा आप हमारे लिए Hanuman | वनइंडिया हिंदी

    भारत ने दी संजीवनी बूटी

    उन्‍होंने आगे कहा, 'मैं सही समय पर लिए गए फैसले के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारत के लोगों का ब्राजील के लोगों की तरफ से शुक्रिया अदा करता हूं।' जब से ब्राजील में कोरोना महामारी की शुरुआत हुई है तब से यह बोलसोनारो का पांचवां संबोधन था। इससे पहले भी वह दवाई के निर्यात पर लगे बैन को हटाने के लिए पीएम मोदी को धन्‍यवाद कह चुके हैं। बोलसोनारो ने पीएम मोदी को एक चिट्ठी लिखी थी। इसी चिट्ठी मे उन्‍होंने भारत के फैसले को रामायण में भगवान हनुमान की तरफ से लक्ष्‍मण के लिए संजीवनी बूटी लाने जैसा करार दिया था।

    26 जनवरी के मुख्‍य अतिथि थे बोलसोनारो

    26 जनवरी के मुख्‍य अतिथि थे बोलसोनारो

    बोलसोनारो ने इस चिट्ठी में लिखा, 'जिस तरह से भगवान हनुमान हिमालय से भगवान राम के भाई लक्ष्‍मण के इलाज के लिए पवित्र दवाई लेकर आए थे और जैसे जीसस ने उन लोगों को ठीक किया जो बीमार थे, भारत और ब्राजील भी इस वैश्विक संकट में साथ आकर इस बीमारी से बाहर आएंगे।' बोलसोनारो ने चिट्ठी में संजीवनी बूटी का नाम तो नहीं लिखा है मगर उनका इशारा उसी तरफ था। ब्राजील के राष्‍ट्रपति बोलसोनारो इस वर्ष गणतंत्र दिवस के मौके पर बतौर चीफ गेस्‍ट पहली बार भारत की यात्रा पर आए थे। ब्राजील के राष्‍ट्रपति ने शनिवार को पीएम मोदी को कॉल किया था।

    14 दवाईयों के निर्यात को मंजूरी

    14 दवाईयों के निर्यात को मंजूरी

    उनकी तरफ से भी मलेरिया की दवाई पर लगे बैन को हटाने का अनुरोध पीएम मोदी से किया गया था। सोमवार को ही पीएम मोदी के प्रधान सचिव पीके मिश्रा की अगुवाई में हुई एक कमेटी की मीटिंग में सोमवार को ही इस बात का फैसला ले लिया गया था कि जिन 14 दवाईयों के निर्यात पर प्रतिबंध लगा हुआ है, उसे हटा लिया जाएगा। कमेटी की तरफ से घरेलू मांग का अनुमान लगाने के बाद और वर्तमान में हो रही आपूर्ति के बाद फैसला लिया गया कि हाइड्रोक्‍सीक्‍लोरोक्‍वीन और पैरासिटामोल की सप्‍लाई को मंजूरी दी जाएगी।

    English summary
    Coronavirus: Brazil President Jair Bolsonaro in his address to his nation thanks PM Modi.
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X