India
  • search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

अमेरिका को रूस का करारा जवाब, बाइडेन की पत्नी, बेटी समेत टॉप अफसरों पर लगाया बैन

|
Google Oneindia News

मॉस्को, 28 जून : अमेरिका ने हाल ही में यूक्रेन में हमले को लेकर रूस पर कई तरह के आर्थिक प्रतिबंध लगाए थे। इतना ही नहीं, बाइडेन की सरकार ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की बेटियों समेत उनके कई नज़दीकी लोगों पर आर्थिक प्रतिबंध लगाने का एलान किया था। इसका करारा जवाब देते हुए रूस ने भी अमेरिका के कई बड़े लोगों पर प्रतिबंध लगा दिए है। रूसी विदेश मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि, रूस में पुतिन की सरकार ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की पत्नी उनकी बेटी समेत 23 टॉप अमेरिकी अफसरों पर प्रतिबंध लगा दिए हैं। मंत्रालय का कहना है कि, अमेरिका ने रूस पर और यहां के बड़े-बड़े लोगों पर लगातार प्रतिबंध लगाता जा रहा है, इसको देखते हुए मास्को ने भी अमेरिका पर इन प्रतिबंधों का ऐलान किया है।

photo

अमेरिकी प्रतिबंधों से नाराज रूस
मीडिया में चल रही खबरों के मुताबिक, रूस ने बाइडेन की बेटी और उनकी बेटी पर प्रतिबंध लगा दिए हैं। कुछ समय पूर्व अमेरिका ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की बेटियों समेत उनके कई नज़दीकी लोगों पर आर्थिक प्रतिबंध लगाने का एलान किया था। इस सूची में रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोफ़ का परिवार और कुछ बड़े रूसी बैंक भी शामिल थे। ये क़दम ऐसे वक़्त आया था जब यूक्रेन में रूसी सेना की क्रूरता की तस्वीरों समते कई नए प्रमाण सामने आए थे.हालांकि, रूस ने कहा था कि ये तस्वीरें यूक्रेनी अधिकारियों ने फ़र्जी तरीके से बनाई हैं।

अमेरिका ने लगाए थे प्रतिबंध
इससे पहले भी अमेरिका ने रूस के औद्योगिक क्षेत्रों पर प्रतिबंधों का दायरा बढ़ाते हुए मॉस्को से लकड़ी के उत्पाद, औद्योगिक इंजन, बॉयलर और बुलडोजर समेत कई वस्तुओं पर रोक लगा दी थी। अमेरिका का कहना था कि सात प्रमुख औद्योगिक शक्तियों ने रूसी तेल के आयात को चरणबद्ध तरीके से समाप्त करने या प्रतिबंधित करने को लेकर प्रतिबद्धता जतायी थी।

यूक्रेन जंग ने रूस की तस्वीर बदली
बता दें कि, यूक्रेन पर हमले के बाद रूस को अमेरिका समेत पश्चिमी देशों से भारी विरोध का सामना करना पड़ रहा है। इन सभी देशों ने रूस को अलग-थलग करने के लिए रूस पर कई आर्थिक प्रतिबंध लगा दिए, जिसकी वजह से रूस की अर्थव्यवस्था को तगड़ा झटका लगा। अमेरिका ने रूस से आयात होने वाले तेल पर बैन लगा दिया था, साथ ही एयरस्पेस भी बंद कर दिया था. वहीं पश्चिमी देशों द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों के खिलाफ व्लादिमीर पुतिन ने कड़ी प्रतिक्रिया दी थी और इन बैन की इन घोषणाओं को युद्ध के ऐलान की तरह बताया था. राष्ट्रपति पुतिन ने कहा है कि रूस ना पहले झुका था ना अब झुकने के मूड में है।

अमेरिका ने फिर प्रतिबंधों का ऐलान किया
अमेरिका ने सोमवार (27 जून) को रूस पर नए G-7 प्रतिबंधों की घोषणा की। ये नए प्रतिबंध रूस के डिफेंस सेक्टर को कमजोर करने के लिए लगाया जा रहा है। खबरों के मुताबिक इन प्रतिबंधों का उद्देश्य रूस का यूक्रेन के खिलाफ इस्तेमाल किए जाने वाले घातक हथियारों पर लगाम लगाना है। बता दें कि रूस यूक्रेन पर अत्याधुनिक घातक हथियारों से हमला कर उसे पूरी तरह बर्बाद करने पर अमादा हो चुका है। इसको देखते हुए अमेरिका ने अब रूस के हथियारों पर लगाम लगाने के लिए नए प्रतिबंधों की घोषणा की है।

ये भी पढ़ें : बाइडेन का पुतिन पर शिकंजा, रूस के खिलाफ अमेरिका ने नए G7 प्रतिबंधों की घोषणा कीये भी पढ़ें : बाइडेन का पुतिन पर शिकंजा, रूस के खिलाफ अमेरिका ने नए G7 प्रतिबंधों की घोषणा की

Comments
English summary
US president joe bidens wife and daughter have been banned from russia along with 23 americans the russian foreign minsitry said on tuesday. as a reaction to the constantly expanding US sanctions against russian political and public figures, 25 american citizns are addes to a top stop list, the ministry said in a note accompanying the list.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X