• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

TikTok के साथ किसी भी सौदे पर हस्ताक्षर करने के लिए तैयार नहीं ट्रंप, कहा-अभी कुछ नहीं कहूंगा

|

वाशिंगटन। चीनी वीडियो एप टिकटॉक को लेकर अमेरिका में घमासान जारी है, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि टिकटॉक की बिक्री को लेकर किए गए किसी भी डील पर तब तक हस्ताक्षर करने के लिए तैयार नहीं हैं जब तक कि वे उस प्रस्ताव को देख नहीं लेते हैं और इस वजह से वो अभी इस बारे में कुछ कह नहीं सकते हैं, ट्रंप ने कहा कि ये मामला देश की सुरक्षा से जुड़ा हुआ है, इसलिए यह सौदा 100 फीसदी होना चाहिए, चीन पर भरोसा करने के लिए तैयार नहीं हूं और इस वजह से अभी इस डील पर मैं कुछ नहीं कहूंगा।

किसी भी डील को लेकर अभी तैयार नहीं: ट्रंप

किसी भी डील को लेकर अभी तैयार नहीं: ट्रंप

इस बारे में बोलते हुए ट्रंप ने कहा कि गुरुवार को टिकटॉक के लेनदेन की स्थिति के बारे में उनके सामने एक रिपोर्ट पेश की जाएगी, जिसको देखने के बाद ही वो आगे का कोई कदम उठाएंगे। आपको बता दें कि 6 अगस्त को, ट्रंप ने एक कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर किए थे, जिसके तहत चीन की कंपनी बाइटडांस के साथ किसी भी अमेरिकी लेनदेन पर बैन लगाया गया था, ये प्रतिबंध मात्र 45 दिनों के लिए ही था।

यह पढ़ें: Corona Vaccine Update: अमेरिकी नागरिकों को FREE में मिलेगी कोविड-19 वैक्सीन, ट्रंप प्रशासन ने की घोषणा

'टिक टॉक के सबसे अधिक यूजर अमेरिका में'

'टिक टॉक के सबसे अधिक यूजर अमेरिका में'

राष्ट्रपति ट्रंप की ओर से जारी आदेश में कहा गया था कि कंपनी या तो किसी अमेरिकी कंपनी के लिए अपना स्वामित्व बदल दे या फिर अमेरिका में अपना कारोबार समेट कर चले जाए।। ध्यान देने वाली बात यह है कि चीनी ऐप टिक टॉक के सबसे अधिक यूजर अमेरिका में है, जिससे कंपनी को लंबा यूजर बेस खोना पड़ सकता है।

बाइटडांस ने उठाया ये कदम

बाइटडांस ने उठाया ये कदम

जबकि वहीं दूसरी ओर चीन की बाइटडांस ने टिकटॉक का वैश्विक मुख्यालय अमेरिका में स्थापित करने का निर्णय किया है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के इस पर रोक लगाने के आदेश से बचने के लिए कंपनी ने यह रास्ता निकाला है, टिकटॉक अमेरिका में मुख्यालय वाली नई कंपनी में बहुलांश हिस्सेदार बनी रहेगी। वहीं प्रौद्योगिकी कंपनी ओरेकल इसमें अल्पांश हिस्सेदार होगी।

चीन ने किया अमेरिका की बात से इंकार

मालूम हो कि अमेरिकी सरकार को चिंता है कि टिकटॉक डाटा को चीनी अधिकारियों के साथ साझा कर रहा है। हालांकि, टिकटॉक इस बात से हमेशा इनकार करता रहा है कि यह अमेरिका के लिए खतरा है और इसने प्रशासन की धमकी भरे प्रतिबंध को लेकर मुकदमा दायर किया है।

देश की सुरक्षा के लिए भारत ने भी उठाया ये कदम

देश की सुरक्षा के लिए भारत ने भी उठाया ये कदम

आपको बता दें कि देश की सुरक्षा के ही मद्देनजर भारत सरकार ने भी पिछले दिनों पूर्वी लद्दाख में चीनी सैनिकों के साथ हुई झड़प के बाद टिक टॉक पर बैन लगा दिया था और हाल में गेमिंग ऐप पबजी समेत 118 को भी प्रतिबंधित कर दिया गया है।

यह पढ़ें: PM मोदी का जन्मदिन आज, राष्ट्रपति-राहुल-शाह समेत दिग्गजों ने दी बधाई

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
US President Donald Trump is not ready to agree for a new TikTok deal. He also admitted that the US Treasury will not get a cut out of the deal.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X