• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

‘भारत का अपना इतिहास, अपने विचार’... QUAD समिट के बीच वरिष्ठ अमेरिकी अधिकारी का बड़ा बयान

|
Google Oneindia News

टोक्यो/वॉशिंगटन/नई दिल्ली, मई 24: अमेरिका ने कहा है कि, हर देश के अपने अपने इतिहास होते हैं और उनके अलग अलग देशों से इतिहास के रिश्ते होते हैं, जिनके साथ उनके हित जुड़े होते हैं और भारत और रूस के बीच क्या संबंध रहे हैं, उसे अमेरिका समझता है। क्वाड शिखर सम्मेलन के बीच अमेरिका की तरफ से काफी अहम बयान आया है, क्योंकि क्वाड सम्मेलन में यूक्रेन युद्ध की गूंज सुनाई दी है और राष्ट्रपति जो बाइडेन ने यूक्नेर युद्ध को एक वैश्विक मुद्दा बताया है।

भारत पर क्या बोला अमेरिका

भारत पर क्या बोला अमेरिका

यूक्रेन के हमले को लेकर रूस की निंदा करने पर भारत के शामिल नहीं होने के सवाल पर व्हाइट हाउस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि राष्ट्रपति जो बाइडेन जानते हैं कि हर देश का अपना इतिहास और हित होता है। इंडिया टूडे की रिपोर्ट के मुताबिक, व्हाइट हाउस के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि, ‘राष्ट्रपति बाइडेन इस बात से बहुत अवगत हैं कि देशों के अपने इतिहास हैं, उनके अपने हित हैं, उनके अपने दृष्टिकोण हैं। अनिवार्य रूप से - और मुझे लगता है कि यह सच है, क्वाड के सभी सदस्यों के साथ, कुछ मतभेद हैं, लेकिन सवाल यह है कि उन्हें कैसे संबोधित किया जाता है और उनका मैनेजमेंट कैसे किया जाता है'। अमेरिकी अधिकारी ने कहा कि, ‘और मुझे लगता है कि इस तथ्य की व्यापक समझ है कि यूक्रेन में जो हो रहा है वह अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था के लिए एक गंभीर खतरा है। मुझे लगता है कि, मुद्दा यह है कि कैसे सभी देश एक साथ काम करने और सामान्य आधार खोजने के लिए बेहतर तरीके से काम करने को लेकर इस समस्या को संबोधित करते हैं'।

Quad Summit 2022: Joe Biden ने China को क्या कड़ा संदेश दिया ? Modi से क्या बोले ? | वनइंडिया हिंदी
‘भारत का अपना इतिहास, अपना विचार’

‘भारत का अपना इतिहास, अपना विचार’

व्हाइट हाउस के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि, इतिहास और विचारों में अंतर भारतीय परिप्रेक्ष्य को समझने में मदद करता है। उन्होंने कहा, "और मुझे लगता है कि राष्ट्रपति इस बात से बहुत अवगत हैं कि भारत का अपना इतिहास है, अपने विचार हैं, और आप जानते हैं, साथ ही, इस प्रकार की बातचीत करने से उन्हें भारतीय परिप्रेक्ष्य को समझने में मदद मिलती है और मैं इस तरह के बैठक से भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारत के दृष्टिकोण को समझने और एक आम सहमति बनाने के लिए एक मंच तैयार करता है'।

यूक्रेन पर क्या बोले बाइडेन

यूक्रेन पर क्या बोले बाइडेन

वहीं, क्वाड शिखर सम्मेलन में बोलते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने यूक्रेन पर रूसी आक्रमण को दुनिया के लिए एक ‘परिवर्तनकारी पल' बताया है और अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि, रूस-यूक्रेन युद्ध न केवल एक यूरोपीय, बल्कि वैश्विक मुद्दा है। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने मंगलवार को कहा कि, इंडो-पैसिफिक शक्तियां भागीदार बनने जा रही हैं और यूक्रेन टकराव के बीच वैश्विक प्रतिक्रिया का नेतृत्व करने जा रही हैं। बाइडेन ने टोक्यो में क्वाड लीडर्स समिट की बैठक में अपनी पहली टिप्पणी में कहा कि, दुनिया का नाव अभी एक अंधेरे वक्त से निकलने की कोशिश कर रहा है।

‘यूक्रेन युद्ध में मानवीय तबाही’

‘यूक्रेन युद्ध में मानवीय तबाही’

उन्होंने कहा कि, ‘यूक्रेन पर रूस के युद्ध ने मानवीय तबाही मचाई है और निर्दोष नागरिक सड़कों पर मारे गए हैं।" राष्ट्रपति बाइडेन ने क्वाड शिखर सम्मेलन में बोलते हुए कहा कि, ‘लोकतंत्र और निरंकुशता' के बीच विभाजन को उजागर होना चाहिए। वहीं, अमेरिकी राष्ट्रपति ने अपने भाषण की शुरूआत में ये भी कहा कि, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, जापान और भारत के बीच साझेदारी स्वास्थ्य सेवा और प्रौद्योगिकी और आपूर्ति श्रृंखला में लचीलापन लाने के लिए और इंडो-पैसिफिक में प्रमुख लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए केंद्रीय है।

1.40 लाख सैनिक, 953 लड़ाकू जहाज... ताइवान को निगलने को तैयार ड्रैगन, चीन का ऑडियो लीक1.40 लाख सैनिक, 953 लड़ाकू जहाज... ताइवान को निगलने को तैयार ड्रैगन, चीन का ऑडियो लीक

Comments
English summary
The US has said in the midst of the Quad Summit that countries have their own history and their own interests and Joe Biden understands the history of India-Russia.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X