• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

जानिए क्या है अमेरिका में शटडाउन और इससे कौन होगा प्रभावित?

|

न्यूयॉर्क। वित्तीय संकटों से गुजर रहा अमेरिका को आर्थिक मंजूरी प्रदान करने वाला बिल कांग्रेस के ऊपरी सदन सीनेट में अटक जाने से डोनाल्ड ट्रंप सरकार को बड़ा झटका लगा है। आर्थिक बिल को मंजूरी ना मिलने से ट्रंप सरकार की मुश्किलें तो बढ़ती दिख रही है, लेकिन अमेरिका में लाखों सरकारी कर्मचारी की भी अब छुट्टी तय है। हालांकि, यूएस मिलिट्री पर इसका प्रभाव नहीं पड़ेगा, वे अपने जगहों पर ही डटें रहेंगे, लेकिन सोमवार से शटडाउन शुरू होता है तो अमेरिका में 10 लाख से ज्यादा संघीय कर्मचारियों को अपनी नौकरी छोड़ घर जाना होगा। आइए जानते है क्या शटडाउन और क्या होगा इसका प्रभाव।

क्या है शटडाउन?

क्या है शटडाउन?

आर्थिक संकट की वजह से शटडाउन के दौरान संघीय कर्मचारियों को 'आवश्यक/जरूरी' और 'अनावश्यक/गैरजरूरी' जैसे दो ग्रुप में बांट दिया जाता है। इसमें गैरजरूरी कर्मचारियों को थोड़े दिन की छु्ट्टी पर भेज दिया जाता है। इन कर्मचारियों को उस दौरान काम से मुक्त कर, शटडाउन समस्या के खत्म होने तक उनकी सैलरी रोक दी जाती है। वहीं, जरूरी कर्मचारियों को ऑफिस तो आना होता है, लेकिन उनकी भी सैलरी को रोक दिया जाता है। जब शटडाउन समस्या का समाधान हो जाता है, तब उनकी सैलरी ना सिर्फ फिर से शुरू होती है, बल्कि जितने दिन तक वे बिना सैलरी के रहे थे, वो सैलरी भी सरकार द्वारा भुगतान कर दिया जाता है।

क्या होता है शटडाउन का प्रभाव?

क्या होता है शटडाउन का प्रभाव?

शटडाउन के दौरान कुछ दिनों के लिए सरकारी संस्थाओं को बंद कर दिया जाता है। हालांकि, इससे मिलिट्री, एयर ट्राफिक कंट्रोल, फेडरल जेल और सोशल सिक्योरिटी पर इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। लाखों लोग को बेरोजगारी का सामना करना पड़ता है और सबसे ज्यादा प्रभाव और दबाव सत्ता में बैठी सरकार पर होता है। शटडाउन की वजह से सरकार के प्रति जनता में गुस्सा और अविश्वास पैदा होता है।

क्या शटडाउन के लिए डेमोक्रेट्स दोषी?

क्या शटडाउन के लिए डेमोक्रेट्स दोषी?

अमेरिकी कांग्रेस के सीनेट में आर्थिक मंजूरी प्रदान करने वाले बिल को मंजूरी नहीं मिलने के लिए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने डेमोक्रेटिक पार्टी को जिम्मेदार ठहराया है। इस विवाद की मुख्य जड़ डेमोक्रेटिक पार्टी की मांग है, उनका कहना है कि उन 7,00,000 से अधिक अनडॉक्यूमेंट इमिग्रेंट्स को निर्वासन से प्रोटेक्शन दिया जाए, जिन्होंने बच्चों के रूप में अमेरिका में एंट्री की थी। बराक ओबामा ने अपने कार्यकाल के दौरान इन इमिग्रेंट्स को 'ड्रिमर्स' कहा था, जिन्हें अमेरिका में अस्थायी कानूनी स्थिति प्रदान की गई थी। हालांकि, डोनाल्ड ट्रंप ने पिछले साल सितंबर में ही ओबामा प्रोग्राम को खत्म कर दिया था। डेमोक्रेट्स को लगता है कि ट्रम्प अपने प्रस्तावित यूएस-मेक्सिको वॉल सहित कठिन नए बॉर्डर कंट्रोल के लिए ही फंडिंग चाहते हैं। इमिग्रेंट्स को लेकर ट्रंप का रवैया शुरू से ही अच्छा नहीं रहा है, हाल ही में उन्होंने अफ्रीकी इमिग्रेंट्स को 'गंदे देशों के लोग' कहते हुए नस्लवादी टिप्पणी की थी।

क्या था 2013 का शटडाउन?

क्या था 2013 का शटडाउन?

बराक ओबामा के दूसरे कार्यकाल के दौरान अमेरिका को शटडाउन का सामना करना पड़ा था, जिसके लिए उस वक्त ट्रंप ने राष्ट्रपति को इसके लिए जिम्मेदार ठहाराया था। 2013 में 16 दिनों के शटडाउन के दौरान करीब 8,50,000 संघीय कर्मचारियों को अपनी नौकरियों से मुक्त कर दिया गया था। इस दौरान देश की इकनॉमी पर भी नेगेटिव प्रभाव पड़ा था। मैनेजमेंट और ऑफिस डिपार्टमेंट के दौरान करीब 1,20,000 नौकरियां खत्म हो गई और इकनॉमी ग्रोथ रेट को 2013 की अतिंम तिमाही में 0.2 से 0.6 प्रतिशत का नुकसान हुआ था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
US government shutdown: What’s closed, who is affected?
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X