• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अमेरिका में 12-15 साल के बच्चों को भी लगेगी कोरोना वैक्सीन, फाइजर-बायोएनटेक के टीके को दी हरी झंडी

|

वॉशिंगटन, 11 मई: कोरोना वायरस प्रकोप के बीच अमेरिकी खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) ने सोमवार (10 मई) को 12 से 15 साल के बच्चों के लिए फाइजर-बायोएनटेक के वैक्सीन को आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी दे दी है। एफडीए ने कहा कि महामारी के खिलाफ लड़ाई में एक और महत्वपूर्ण कार्रवाई करते हुए हमने किशोरों (12-15 वर्ष) में आपातकालीन उपयोग के लिए फाइजर-बायोएनटेक कोविड-19 वैक्सीन को अधिकृत किया है। एफडीए आयुक्त जेनेट वुडकॉक ने इस कदम को कोविड -19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में महत्वपूर्ण कदम बताया है। उन्होंने कहा कि इस फैसले से बच्चों को भी सामान्य जीवन में जीने का अवसर मिलेगा। इससे पहले वैक्सीन को 16 वर्ष से अधिक के उम्र के लोगों के लिए मंजूरी दी गई थी।

    America में अब 12+ को भी लगेगी Corona Vaccine, Pfizer टीके को मंजूरी । वनइंडिया हिंदी

    Coronavirus vaccine

    एफडीए आयुक्त जेनेट वुडकॉक ने कहा, इस कदम से हम कोरोना महामारी के प्रकोप से बच्चों को सुरक्षित कर सकते हैं। ये हमें सामान्य स्थिति में लौटने और महामारी को समाप्त करने के करीब लेकर आएगी। जेनेट वुडकॉक ने बच्चों के माता-पिता को वैक्सीन को लेकर भरोसा दिलाया है कि टीका सभी मानकों पर खड़ा पाया गया है।

    जेनेट वुडकॉक ने कहा, " मैं माता-पिता और अभिभावकों को यह आश्वासन दे सकती हूं कि एफडीए ने सभी उपलब्ध आंकड़ों की कठोर और गहन समीक्षा की है। उसके बाद ही इसे इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए मंजूरी दी गई है।''

    अमेरिकी कंपनी फाइजर ने मार्च 2021 में इस बात की घोषणा की थी कि उसका टीका 12 वर्ष से अधिक उम्र के बच्चों को कोरोना से सुरक्षित करता है। अमेरिका बच्चों के स्कूल खुलने का वक्त करीब आने से पहले उन्हें वैक्सीनेट करने की योजना पर काम कर रहा है।

    ये भी पढ़ें- कनाडा ने भारत को किया सहायता देने का ऐलान, 70 करोड़ रुपये की आर्थिक मदद, विदेशमंत्रियों ने की बातये भी पढ़ें- कनाडा ने भारत को किया सहायता देने का ऐलान, 70 करोड़ रुपये की आर्थिक मदद, विदेशमंत्रियों ने की बात

    फाइजर ने मार्च में आंकड़े जारी कर बताए थे कि 12-15 साल के 2,260 वॉलंटिअर्स को वैक्सीन दी गई थी। टेस्ट के डेटा में पाया गया कि पूरे वैक्सिनेशन के बाद इन बच्चों में कोरोना इन्फेक्शन का कोई केस नहीं पाया गया है। उन्होंने दावा किया है कि बच्चों पर उनका वैक्सीन 100 फीसदी असरदार है। फाइजर ने बताया था कि 18 साल के लोगों की तुलना में 12 से 15 साल की उम्र के जिन बच्चों को वैक्सीन की डोज दी गई थी, वो कोरोना से संक्रमित नहीं हुए थे।

    English summary
    US authorises Pfizer-BioNTech vaccine for Children 12-15 year olds
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X