• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

रूस के लिए जासूसी कर रहा था अमेरिकी डॉक्टर, पत्नी भी कर रही थी मदद, FBI की जाल में ऐसे फंसे

Google Oneindia News

वाशिंगटन, 30 सितंबरः अमेरिका सेना के एक डॉक्टर और उसकी पत्नी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इनपर रूस के लिए जासूसी करने का आरोप लगा है। बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक सेना के इस डॉक्टर का नाम जेमी ली हेनरी उनकी पत्नी का नाम एना गैब्रिएलियन है। अमेरिका की खुफिया एजेंसियों ने इन दोनों पर एक सैन्य अस्पताल में मरीजों के बारे में गोपनीय जानकारी साझा करने की योजना बनाने का आरोप है।

स्वास्थ्य संबंधी जानकारी लीक करने का आरोप

स्वास्थ्य संबंधी जानकारी लीक करने का आरोप

रिपोर्ट के मुताबिक, 39 वर्षीय जेमी हेनरी और 36 वर्षीय गैब्रिएलियन ने कथित तौर पर एक अंडरकवर FBI एजेंट को बताया कि वे रूस के लिए देशभक्ति से प्रेरित थे। मैरीलैंड के बाल्टीमोर की एक अदालत में दायर एक अभियोग में इन दोनों पर स्वास्थ्य संबंधी जानकारी लीक करने की साजिश का आरोप लगा है। रिपोर्ट के मुताबिक ये सारी जानकारी रूसी दूतावास के एक कर्मचारी को दे रहे थे। मेजर जेमी हेनरी पर लगे आरोपों के बाद फिलहाल उन्हें पद से कार्यमुक्त कर दिया गया है।

सेना के एक बड़े अस्पताल में हेनरी ने किया है काम

सेना के एक बड़े अस्पताल में हेनरी ने किया है काम

हेनरी ने एक बड़े सैन्य फोर्ट ब्रैग अस्पताल में काम किया है जबकि उनकी पत्नी गेब्रियलियन पर बाल्टीमोर में जॉन्स हॉपकिन्स अस्पताल की जानकारी लीक करने का आरोप है, जहां वह काम करती हैं। गेब्रियलियन पर एजेंट को यह बताने का भी आरोप है कि उन्होंने अमेरिका द्वारा यूक्रेनी सेना को दिए गए पिछले प्रशिक्षण के बारे में जानकारी साझा की है। 2015 में हेनरी ने खुद का ट्रांसजेंडर घोषित किया था। ऐसा करने वाले वह पहले एक्टिव-ड्यूटी आर्मी अधिकारी थे।

गेब्रियलियन को रूसी भाषा पर है कमांड

गेब्रियलियन को रूसी भाषा पर है कमांड

जॉन्स हॉपकिन्स के वेबपेज के अनुसार, हेनरी की पत्नी गेब्रियलियन अंग्रेजी और रूसी दोनों बोलती हैं। दोनों आरोपी गुरुवार को बाल्टीमोर में संघीय अदालत में पेश हुए। अदालत ने पत्नी गेब्रियलियन को इलेक्ट्रॉनिक निगरानी के साथ घर में नजरबंदी में 5 लाख डॉलर के एक असुरक्षित बांड पर रिहा करने का आदेश दिया, जबकि हेनरी को घरेलू नजरबंदी और इलेक्ट्रॉनिक निगरानी में बंधन के बिना रिहा कर दिया गया।

FBI के जाल में ऐसे फंसे दंपति

FBI के जाल में ऐसे फंसे दंपति

रिपोर्ट के मुताबिक अगस्त महीने में एक एफबीआई एजेंट ने अपनी पहचान एक रूसी दूतावास के कर्मचारी के रूप में बदल कर गैब्रिएलियन से संपर्क किया और उससे कई महीने पहले फोन और ईमेल के माध्यम से दूतावास को दी गई सहायता के बारे में पूछा। इस दौरान वह एजेंस से बाल्टीमोर होटल में भी मिली और वहां उसने स्वीकार किया कि वह रूस के प्रति देशभक्ति से प्रेरित है। अपनी देशभक्ति साबित करने के लिए वह कुछ भी करेगी। भले ही उसे इसके लिए नौकरी से निकाला जाना पड़े या जेल जाना पड़े।

5 साल की हो सकती है सजा

5 साल की हो सकती है सजा

गेब्रियलियन ने कथित तौर पर एजेंट को बताया कि हेनरी फिलहाल रूस के लिए एक अधिक महत्वपूर्ण स्रोत है, क्योंकि हेनरी के पास अधिक उपयोगी जानकारी हैं क्योंकि वह यू.एस. सैन्यकर्मी रहा है। ग्रेबियलिन ने कथित तौर पर एजेंट को बताया कि वे रूस की मदद स्वेच्छा से कर रहे हैं, क्योंकि वे ऐसा करना चाहते हैं। बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार अगर दोनों इस मामले में दोषी पाए जाते हैं, उन्हें अधिकतम पांच साल जेल की सजा मिल सकती है।

सउदी अरब ने की विश्वविद्यालय में योग की शुरुआत, छात्राओं ने भी लिया हिस्सासउदी अरब ने की विश्वविद्यालय में योग की शुरुआत, छात्राओं ने भी लिया हिस्सा

Comments
English summary
US Army doctor spied for Russia, wife also supported: Report
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X