• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

बाइडेन के बेटे ने क्या ‘गंदगी फैलाई’, मॉस्को की मेयर की बीवी से क्या है रिश्ता...बता दें पुतिन- डोनाल्ड ट्रंप

|
Google Oneindia News

वॉशिंगटन/मॉस्को, मार्च 30: अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप यूक्रेन युद्ध को लेकर लगातार राष्ट्रपति जो बाइडेन पर आक्रामक हैं और अब उन्होंने राष्ट्रपति जो बाइडेन के बेटे हंटर बाइडेन और मॉस्को के मेयर की पत्नी को लेकर रूसी राष्ट्रपति से खुलासा करने का अनुरोध किया है। यूक्रेन युद्ध को लेकर पहले ही अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की रेटिंग अमेरिका में काफी गिर चुकी है तो दूसरी तरफ डोनाल्ड ट्रंप उन्हें बख्शने के मूड में नहीं हैं।

बाइडेन पर बरसे डोनाल्ड ट्रंप

बाइडेन पर बरसे डोनाल्ड ट्रंप

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से मदद मांगी है। उनसे अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन के बेटे हंटर के बारे में कोई भी समझौता करने वाली जानकारी का खुलासा करने के लिए कहा है। 24 फरवरी को यूक्रेन पर शुरू हुए रूसी हमले के बाद डोनाल्ड ट्रंप बाइडेन पर काफी आक्रामक हैं और लगातार बाइडेन को घेरने वाले बयान दे रहे हैं और अब उन्होंने इस लड़ाई में जो बाइडेन के बेटे हंटर बाइडेन को घसीट लिया है।

डोनाल्ड ट्रंप ने क्या कहा?

एक इंटरव्यू के दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि, "राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, जो अब हमारे देश के प्रशंसक नहीं हैं, वो अब बताएं कि मॉस्को की पत्नी के मेयर ने दोनों बाइडेन को 3.5 मिलियन अमरीकी डालर क्यों दिए? मुझे लगता है कि पुतिन को इसका जवाब पता होगा और हमें यह जानना चाहिए।' इसके साथ ही डोनाल्ड ट्रंप ने मीडिया संगठनों पर 2020 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के दौरान हंटर बाइडेन के लैपटॉप के विवाद को कवर नहीं करने का भी आरोप लगाया, जब उन्होंने दावा किया था कि यह "रूसी प्रोपेगेंडा" का हिस्सा है। आपको बता दें कि, अमेरिका में हो रहे राष्ट्रपति चुनाव के वक्त हंटर बाइडेन पर रूस के साथ मिलीभगत के आरोप लगे थे। दावा किया गया था, कि हंडर बाइडेन के लैपटॉप से दो ऐसे ई-मेल मिले थे, जो रूस से उनकी नजदीकी का खुलासा कर रहे थे, लेकिन बाद में एफबीआई ने आरोपों को खारिज कर दिया और कहा कि, लैपटॉप में कुछ नहीं मिला है।

चीनी झंडा लगाकर बरसा दो बम

चीनी झंडा लगाकर बरसा दो बम

यूक्रेन युद्ध को लेकर डोनाल्ड ट्रंप लगातार बयानबाजी कर रहे हैं और इससे पहले उन्होंने कहा था कि, अमेरिकी विमानों में चीन का झंडा लगाकर रूस पर बम बरसा देना चाहिए। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 5 मार्च को कहा था कि, ''अमेरिका को अपने एफ-22 लड़ाकू विमानों पर चीनी झंडा लगाना चाहिए और रूस को बम से उड़ा देना चाहिए। और फिर हम कहेंगे, कि ये काम चीन ने किया है''। डोनाल्ड ट्रंप ने आगे कहा कि, ''हमारे ऐसा करने के बाद रूस और चीन आपस में लड़ेंगे और हम बैठकर देखेंगे"। डोनाल्ड ट्रंप के इतना बोलने के साथ ही कार्यक्रम में मौजूत तमाम लोग हंसने लगे और डोनाल्ड ट्रंप भी हंस रहे थे।

नाटो पर बरसे डोनाल्ड ट्रंप

नाटो पर बरसे डोनाल्ड ट्रंप

जिस नाटो को लेकर रूस ने यूक्रेन पर हमला किया है, उस नाटो को मार्च महीने में ही डोनाल्ड ट्रंप ने 'कागजी बाघ' बताया है और कहा है कि, ''आखिर किस प्वाइंट पर जाकर देश कहना शुरू करेंगे, कि, नहीं, अब हम मानवता के खिलाफ होने वाले अपराधों को बर्दाश्त नहीं करेंगे। हम हम इसे नहीं होने देंगे... हम इसे जारी नहीं नहीं रहने देंगे।" आगे बोलते हुए डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि, "हमें बाडेन को यह कहने से रोकना होगा और हमें ये बात सुननी होगी, कि हम रूस पर हमला नहीं कर सकते, क्योंकि वो एक परमाणु संपन्न देश है"। ट्रम्प ने कहा कि, ''जैसा कि सीबीएस न्यूज द्वारा रिपोर्ट किया गया है, आप जानते हैं कि यह कौन कह रहा है? ठीक है, यह तथ्य या कल्पना है, कि हम रूस पर हमला नहीं करेंगे। आप देखिए, वे एक परमाणु शक्ति हैं।' ओह, हमें बताने के लिए धन्यवाद''। डोनाल्ड ट्रंप राष्ट्रपति जो बाइडेन की उस बयान की आलोचना कर रहे थे, जिसमें उन्होंने रूस के खिलाफ सैन्य अभियान छेड़ने से मना कर दिया है।

डोनाल्ड ट्रंप की रेटिंग बढ़ी

डोनाल्ड ट्रंप की रेटिंग बढ़ी

पिछले महीने जारी किए गये नए सर्वेक्षण के अनुसार, करीब दो तिहाई अमेरिकियों का मानना है कि अगर डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के राष्ट्रपति होते तो रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन यूक्रेन पर आक्रमण नहीं करते। हार्वर्ड सेंटर फॉर अमेरिकन पॉलिटिकल स्टडीज-हैरिस पोल सर्वेक्षण में करीब दो तिहाई अमेरिकियों ने जो बाइडेन की रणनीति पर सवाल उठाए हैं और सर्वे में शामिल 62 प्रतिशत अमेरिकियों का कहना है कि, अगर डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के राष्ट्रपति होते, तो वो व्लादिमीर पुतिन को यूक्रेन में युद्ध अपराध नहीं करने देते। सबसे दिलचस्प बात ये है, कि जो बाइडेन की अपनी ही डेमोक्रेटिक पार्टी के 39 प्रतिशत लोगों ने डोनाल्ड ट्रंप पर भरोसा जताया है, जबकि 85 प्रतिशत रिपब्लिकन्स ने कहा है कि, डोनाल्ड ट्रंप इस युद्ध को रोक सकते थे।

ना दवाई, ना खाना, ना तेल, ना कागज...10 घंटे से कटी है बिजली... श्रीलंका में काफी ज्यादा बिगड़े हालातना दवाई, ना खाना, ना तेल, ना कागज...10 घंटे से कटी है बिजली... श्रीलंका में काफी ज्यादा बिगड़े हालात

Comments
English summary
Donald Trump has said that Putin should disclose what relations Joe Biden and Hunter Biden have with the wife of the mayor of Moscow.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X