अपने बच्चे को स्तनपान कराएगी ट्रांसजेंडर महिला, पहली बार होगा ऐसा

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। विश्व इतिहास में पहली बार 30 साल की महिला ट्रांसजेडर अपने बच्चे को दूध पिलाएगी। डॉक्टरों के लिए ये एक बड़ी कामयाबी मानी जा रही है क्योंकि ट्रांसजेडर ने इसके लिए स्तन और वजाइना की किसी तरह की कोई सर्जरी नहीं कराई है। हालांकि इस ट्रांसजेंडर ने बच्चे को जन्म नहीं दिया है, बच्चा उसने गोद लिया है। डॉक्टरों की टीम ने इसके लिए महिला के हार्मोन लेवल में बदलाव किए हैं और उनके शरीर को ब्रेस्टफीड कराने लायक बनाया है।

transgender woman is the first in the world to breastfeed her baby

डेली मेल में छपी खबर के अनुसार, टांसजेंडर महिला को ब्रेस्टफीड के लायक बनाने में न्यूयॉर्क के माउंट सिनाई सेंटर फॉर ट्रांसजेंडर मेडिसिन एंड सर्जरी के डाक्टर्स ने सफलता हासिल की है। अमूमन ऐसे मामलों में कई सर्जरी की जाती हैं लेकिन बिना रि-असाइनमेंट सर्जरीज जैसे ब्रेस्ट ऑगमेनटेशन या वजीनोप्लास्टी के किसी टांसजेंडर का बच्चे को स्तनपान कराने का ये पहला मौका है।

महिला को ये ट्रीटमेंट देने वाले डॉक्टर रीसमैन ने कहा कि वो अपने मरीज के सफल इलाज को लेकर संतुष्ट हैं और उनके लिए ये एक बड़ी कामयाबी है। उन्होंने बताया कि इसके लिए उनकी टीम ने कनाडा की हार्मोन रिप्लेसमेंट थेरेपी का डोज मरीज को दिया। ये सारी प्रक्रिया बच्चे के जन्म से तीन माह पूर्व ही पूरी की गई, इस डोज के चलते बच्चे के जन्म के छह सप्ताह से लेकर छह माह तक ये महिला ब्रेस्टफीड करा सकेगी।

भारतीय सेना के अफसरों को फंसाने के लिए चीन और पाकिस्तान कर रहे लड़कियों का इस्तेमाल

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
transgender woman is the first in the world to breastfeed her baby

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.