• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

ये हैं बाज़ों के बादशाह

By Bbc Hindi
बाज़
Reuters
बाज़

18 नवंबर को दुनिया के कई देशों में विश्व फ़ाल्कनरी दिवस मनाया जाता है. फ़ाल्कनरी यानी बाज़ को पालने और कलाबाज़ी सिखाने वाले लोग.

बाज़
Reuters
बाज़

माना जाता है कि बाज़ की नज़र इंसान से 10 गुना ज़्यादा तेज़ होती है. इंसानी सभ्यता में सैकड़ों सालों तक बाज़ों का इस्तेमाल शिकार में मदद के लिए भी किया जाता रहा है.

क़रीब 60 फ़ीसदी बाज़ जन्म के पहले साल में ज़िंदा नहीं रह पाते हैं. औसतन एक बाज़ की उम्र 13 साल होती है. हालांकि कुछ बाज़ ऐसे भी रहे हैं, जिनकी उम्र 25 को छू पाई.

बाज़
Reuters
बाज़

मिस्र में इस मौक़े पर बाज़ों के ये पहरेदार अपने-अपने बाज़ों के साथ इकट्ठा हुए.

एक रिपोर्ट के मुताबिक़, बाज़ साल में क़रीब 15 हज़ार मील से ज़्यादा का सफ़र तय करता है.

बाज़
Reuters
बाज़

हर साल ये आयोजन एलेक्ज़ेंड्रिया के बोर्ग-अल-अरब में होता है.

बाज़ अपनी पैनी निगाह की वजह से निशाना साधने में तेज़ होता है और चोंच का इस्तेमाल हथियार की तरह करता है.

बाज़
Reuters
बाज़

आयोजन में शिरकत करने वाले बाज़ों को लाइन में बिठाया जाता है. बाज़ दुनिया का सबसे तेज़ पंछी है, जो क़रीब 200 मील प्रति घंटे की रफ़्तार से उड़ता है.

11 साल का अम्मार अपने बाज़ के साथ
Reuters
11 साल का अम्मार अपने बाज़ के साथ

मिस्र में बाज़ का एक अपना इतिहास रहा है. इस तस्वीर में 11 साल का अम्मार अपने बाज़ अशक़ार के साथ दिख रहा है.

BBC Hindi
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
These are the kings of the bazaes

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X