• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिवाली पर यहां होती है कुत्‍तों की पूजा, 5 दिनों तक मनाया जाता है यह त्योहार , देखें तस्‍वीरें

|

नई दिल्‍ली। भारत ही नहीं दुनिया भर में दीपों का पर्व दीपावली बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। हर स्‍थान की अपनी संस्‍कृति और परंपरा होती है। दिवाली के पर्व पर एक ऐसा देश हैं जहां दीपावली के प्रकाशोत्‍सव के त्‍योहार पर ऐसी परंपरा प्रचलित हैं जिसके बारे में आप सुनेगे तो पहली बार में आप सोच में पड़ जाएंगे। दरअसल, नेपाल में दीपावली के पर्व पर कुत्‍तों की पूजा होती है उन्‍हें भगवान की तरह फूल माला पहनाकर, तिलक लगाकर पूजा की जाती है और उनको विधिवत भोजन करवाया जाता है। नेपाल में इस पर्व को कुकुर तिहार बोला जाता है और ये दिवाली के बाद पांच दिनों तक मनाया जाता है।

कुत्‍तों की पूजा होती है और खिलाया जाता है भोजन

कुत्‍तों की पूजा होती है और खिलाया जाता है भोजन

हर बात की तरह इस बार भी नेपाल की राजधानी काठमांडू समेत अन्‍य जिलों में नेपाली लोगों ने कुकुर तिहार मनाया। ये दिवाली के दूसरे दिन मनाया जाता है। जिसमें कुत्तों की पूजा की जाती है और उन्हें भोजन दिया जाता है। यह मनुष्यों और कुत्तों के बीच के अटूट रिश्‍ते को दर्शाता है। एएनआई ने इस बार काठमांडू के डॉग सेल्‍टर होम की तस्‍वीरें साझा की जिसमें आप देख सकते हैं कि लोग कैसे कुत्‍तों को फूल माला पहना कर उसकी पूजा कर रहे हैं।

यहां के राष्ट्रपति को इस कुत्ते से था इतना प्यार कि बनवा दी सोने की मूर्ति, समारोह कर किया ग्रेंड इनाग्रेशन

पांच दिन तक मनाया जाता है ये त्‍योहार

पांच दिन तक मनाया जाता है ये त्‍योहार

नेपाल में इस प्रकाशपर्व को कुकुर तिहार पर्व बिलकुल वैसे ही मनाया जाता है भारत में दिवाली मनाई जाती है परंतु दीपावली के दूसरे दिन कुकुर तिहार मनाया जाता है इस अवसर पर खास व्यंजन भी तैयार किए जाते हैं। साथ ही उन्हें दही खिलाई जाती है।

अमिताभ बच्‍चन से शख्‍स ने पूछा- आप दान क्यों नहीं करते, तो बिग बी ने दिया ये करारा जवाब

इसलिए की जाती है कुत्‍ते की पूजा

इसलिए की जाती है कुत्‍ते की पूजा

इस दौरान लोग कुत्‍ते के अलावा जैसे गाय, कुत्ते, कौआ की भी पूजा करते है और कुत्‍ते की पूजा करते हुए ये कामना करते हैं कि कुत्ते हमेशा उनके साथ बने रहें। कुकुर तिहार में विश्वास करने वाले लोग कुत्ते को यम देवता का संदेशवाहक मानते हैं। नेपाली लोगों का मानना है कि कुत्‍ता यम देवता का संदेहवाहक है और उसकी पूजा करने से देवता प्रसन्‍न होगे।

पटाखे के बॉक्‍स पर परिणीति चोपड़ा की फोटो देख भड़का फैन, तो एक्‍ट्रेस ने दिया ये जवाब

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The worship of dogs performed on Diwali in Nepal, this festival is celebrated for five days
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X