• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कनाडा और चीन के बीच बढ़ी तल्खी, अब पीएम जस्टिन ट्रूडो ने लिया ये बड़ा फैसला

|

नई दिल्ली। हांगकांग में विवादित कानून पारित होने के बाद चीन के साथ कई देशों के रिश्ते तनावपूर्ण होते जा रहे हैं। इस बीच कनाडा ने हांगकांग के साथ प्रत्यर्पण संधि रद्द कर दिया है। शुक्रवार को प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने कहा, प्रभावी रूप से कनाडा, हांगकांग को संवेदनशील सैन्य वस्तुओं के निर्यात की अनुमति नहीं देगा। इतना ही नहीं कनाडा यह भी मान लेगा कि हांगकांग को भेजी जाने वाली सभी संवेदनशील वस्तुएं मुख्य रूप से चीन की धरती पर जाती हैं। इस बीच कनाडा के विदेश मंत्री ने नए कानून को स्वतंत्रता के लिए एक महत्वपूर्ण कदम बताया।

Trouble between Canada and China, now PM Justin Trudeau takes this big decision

प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो के फैसले के बाद चीन ने हांगकांग सुरक्षा कानून की आलोचना के लिए कनाडा को फटकार लगाई है उधर, कनाडा द्वारा हांगकांग के साथ प्रत्यर्पण संधि रद्द करने को लेकर स्थानीय अधिकारियों ने निराशा व्यक्त की है। बता दें कि कनाडा और चीन के बीच साल 2018 के बाद से संबंध कुछ अच्छे नहीं रहे हैं। इसकी वजह कनाडा ने अमेरिकी वारंट के तहत हुआवेई के मुख्य वित्तीय अधिकारी मेंग वानझोउ को गिरफ्तार किया जाना था। कनाडा के इस कदम के बाद चीन ने भी कनाडा के नागरिक माइकल कोवरी, एक पूर्व राजनयिक एक व्यवसायी माइकल स्पाइवर को जासूसी के आरोप में गिरफ्तार किया था।

चीनी सरकार द्वारा ने मनमाने ढंग से दो कनाडाई नागरिकों को गिरफ्तार किए हुए 18 महीने से अधिक समय हो गया है। चीन ने उन्हें वकील तक रखने की अनुमति भी नहीं दी है। दरअसल, चीन में हुआवेई के संस्थापक और सीईओ रेन झेंगफेई की बेटी मेंग को 1 दिसंबर, 2018 को अमेरिकी सरकार के अनुरोध पर वैंकूवर अंतरराष्‍ट्रीय हवाई अड्डे पर गिरफ्तार किया गया था। मेंग ईरान पर अमेरिकी प्रतिबंधों के खिलाफ थीं। मेंग की हिरासत के बाद बीजिंग ने बदले की कार्रवाई करते हुए कनाडाई नागरिक कोविग और एक व्‍यवसायी माइकल स्‍पॉयर को गिरफ्तार किया था।

बता दें कि चीन के साथ इस मुद्दे को निपटाने के लिए कनाडा सरकार पर भी दबाव बनाया गया था लेकिन प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने इस सुझाव को मानने से इनकार कर दिया कि चीन की जेल में बंद दो कनाडाई लोगों की रिहाई के बदले हुआवेई के कार्यकारी की रिहाई की व्यवस्था करनी चाहिए। ट्रूडो ने अपने एक बयान में कहा था कि अगर चीन सरकार यह निष्कर्ष निकालती है कि कनाडा के लोगों को गिरफ्तार कर के कनाडा सरकार को दबा सकती है तो चीन में रहने वाला कोई भी कनाडाई नागरिक सुरक्षित नहीं है।

चीन के पास सीमाई विवादों को भड़काने का एक पैटर्न, दुनिया को इसकी अनुमति नहीं देनी चाहिए: अमेरिका

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Trouble between Canada and China, now PM Justin Trudeau takes this big decision
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X