• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

गाजा की 10 साल की मासूम ने बताई तबाही की कहानी, पूछा- वो हम छोटे बच्चों को क्यों मार रहे हैं

|

गाजा, मई 18: इजरायल और फिलिस्तीन के बीच अब भी जंग जारी है। इजरायल किसी भी कीमत पर इस्लामिक चरमपंथी संगठन को बख्शने के मूड में नहीं है लेकिन हमास लोगों के बीच छिपकर इजरायल को निशाना बनाता है और जवाबी कार्रवाई में बेगुनाह आम आदमी मारे जा रहे हैं। गाजा पट्टील से जो तस्वीरें आ रही हैं, वो फिलिस्तीन की बर्बादी की कहानी बयां कर रहे है। इस बीच 10 साल की मासूम की भी जान जाने वाली थी लेकिन ये बच गई। लेकिन, ये जो कहानी बता रही है वो युद्ध की तबाही की दर्दनाक दास्तान है।

मासूम ने बताया तबाही का सच

मासूम ने बताया तबाही का सच

10 साल की मासूम का यह वीडियो मिडिल इस्ट की समाचार एजेंसी मिडिल इस्ट आई यानि एमईई की तरफ से जारी की गई है, जिसे ट्विटर पर हजारों लोग शेयर कर रहे हैं। ये तस्वीरें गाजा की हैं, जहां इस्मालिक चरमपंथी संगठन हमास का नियंत्रण है। इस वीडियो में लड़की बताती है कि किस तरह से इजरायली एयरफोर्स ने उसके घर को बर्बाद कर दिया। ये मासूम बताती है कि इजरायली फोर्स ने इसके घर के साथ साथ इसके पड़ोसी के घर को भी तबाह कर दिया, जिसमें 8 बच्चे और 2 महिलाओं की दर्दनाक मौत हो गई।

    Israel Palestine Conflict: फिलिस्तीन के खिलाफ इजरायल के समर्थन में उतरा अमेरिका? | वनइंडिया हिंदी
    लड़की बता रही है बेबसी की कहानी

    लड़की बता रही है बेबसी की कहानी

    ये बच्ची सिर्फ 10 साल की है और इसकी बेबसी की कहानी आंखों में आंसू ले आते हैं। ये तस्वीरें बताती हैं कि शांति की इंसानों के लिए एकमात्र विकल्ल है और युद्ध सिर्फ विनाश की कहानी लिखता है। 15 मई को पोस्ट किए गये इस वीडियो में ये मासूम बिलखते हुए बताती है कि 'मुझे नहीं पता मुझे क्या करना है, मै परेशान हूं, मुझे कुछ नहीं पता कि मुझे क्या करना है'।

    चारों तरफ बिखरा है मलबा

    10 साल की मासूम बिलखती हुई बताती है कि 'मुझे कुछ सूझ नहीं रहा है कि मुझे क्या करना है। मैं डरी हुई हूं लेकिन उतना भी नहीं। मैं अपने लोगों के लिए कुछ करना चाहती हूं।' इस वीडियो में मासूम रोते हुए अपनी बात कहती रहती है। वहीं, उसके चारों तक बर्बादी का मंजर दिखाई दे रहा है। हर तरफ मलबों का ढेर है, बिल्डिंगें गिरी हुई हैं और हर तरह अफरातफरी का माहौल है।

    'बच्चों को क्यों मारते हो'

    'बच्चों को क्यों मारते हो'

    10 साल की बच्ची इस वीडियो में कहती दिख रही है कि 'मेरे घरवाले कहते हैं कि वो हमसे नफरत करते हैं, वो हमें पसंद नहीं करते हैं क्योंकि हम मुसलमान हैं। आप देख रहे हैं कि मेरे आसपास बच्चे हैं लेकिन आप उनपर बम गिराते हैं। आप बच्चों को क्यों मारते हो। ये ठीक नहीं है'। दरअसल, पिछले 10 दिनों से इजरायल और फिलिस्तीन के बीच काफी तनाव है। फिलिस्तीनी आतंकी संगठन हमास अब तक इजरायल पर 3 हजार से ज्यादा रॉकेट छोड़ चुका है और बदले में इजरायली फोर्स हमास को निशाना बना रही है। अब तक इस लड़ाई में 200 से ज्यादा बेगुनाह फिलिस्तीनी मारे जा चुके हैं वहीं 10 से ज्यादा इजरायली भी मारे गये हैं। इजरायल में हमास के रॉकेट भयानक कहर बरपा सकते थे लेकिन आइरन डोम की वजह से इजरायल को ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचा है।

    इजरायली पीएम को इस देश ने बताया 'झूठा', नेतन्याहू ने जताया था समर्थन के लिए आभारइजरायली पीएम को इस देश ने बताया 'झूठा', नेतन्याहू ने जताया था समर्थन के लिए आभार

    English summary
    The painful story of a 10-year-old Palestine girl, asked the world, why are the Israelis killing us young children.
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X