• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पाकिस्तान में आत्मघाती बम धमाका, कई लोगों के मरने की आशंका, तालिबान से दोस्ती का असर?

|
Google Oneindia News

क्वेटा, सितंबर 05: तालिबान को समर्थन देने वाले पाकिस्तान को लेकर जिस बात की आशंका जताई जा रही थी, वही सबकुछ अब पाकिस्तान में रहा है। अशांत दक्षिण-पश्चिमी पाकिस्तान में एक भीषण बम धमाका किया गया है, जिसमें कई लोगों के मारे जाने की आशंका जताई जा रही है। अभी तक 3 लोगों के मारे जाने की पुष्टि की जा चुकी है और दर्जनों लोगों के घायल होने की खबर है। बताया जा रहा है कि मौत के आंकड़ों में इजाफा हो सकता है। रिपोर्ट के मुताबिक, एक पुलिस चौकी के पास आत्मघाती हमलावर ने बम विस्फोट किया है।

पाकिस्तान में बम धमाका

पाकिस्तान में बम धमाका

पाकिस्तान के क्वेटा के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी अजहर अकरम ने कहा कि हमलावर बलूचिस्तान प्रांत की राजधानी क्वेटा से लगभग 25 किलोमीटर (15 मील) दक्षिण में क्वेटा-मस्तंग रोड पर अर्धसैनिक फ्रंटियर कोर द्वारा संचालित चौकी की ओर चल रहा था। उन्होंने कहा कि बम विस्फोट के बाद सुरक्षा चौकी से कुछ दूरी पर हमलावर के शरीर के कई हिस्से मिले हैं। अकरम ने कहा कि कुछ घायलों की हालत गंभीर है और मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है। ये हमला आज सुबह के वक्त किया गया है, लेकिन अभी तक बम धमाके की जिम्मेदारी किसी भी संगठन ने नहीं ली है। लेकिन बलूच अलगाववादी समूहों ने सुरक्षा बलों पर इसी तरह के हमले का दावा किया है। प्रतिबंधित बलूच लिबरेशन आर्मी और बलूच लिबरेशन फ्रंट लगभग दो दशकों से निचले स्तर के विद्रोह में लगे हुए हैं और गैस और खनिज समृद्ध प्रांत के लिए स्वतंत्रता की मांग कर रहे हैं। इस क्षेत्र में इस्लामिक आतंकवादियों की भी मौजूदगी है।

बलूचिस्तान में आजादी की जंग

बलूचिस्तान में आजादी की जंग

बलूचिस्तान, ईरान और अफगानिस्तान की सीमा से लगा, दक्षिण-पश्चिम पाकिस्तान का एक प्रमुख प्रांत है, जहां चीन, चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे से संबंधित परियोजनाओं पर काम कर रहा है। सड़क निर्माण, बिजली संयंत्र और कृषि विकास सहित परियोजनाओं पर अरबों डॉलर की लागत आई है। लेकिन, इससे बलूचिस्तान के लोगों को कोई फायदा नहीं मिल रहा है। वहीं, बलूचिस्तान से पैसे कमाकर पाकिस्तान की सरकार देश के बाकी हिस्सों का पेट भरती है, लेकिन बलूचिस्तान में लोंगों की आर्थिक स्थिति काफी खराब है। जिसको लेकर पाकिस्तान से बलूचिस्तान को आजाद कराने की जंग चल रही है। फ्रीडम फाइटर्स का कहना है कि वो पाकिस्तान से बलूचिस्तान को आजाद करवाकर मानेंगे। दूसरी तरफ पाकिस्तान की सेना ने बलूचिस्तान में बर्बरता की सारी हदें पार कर दी हैं। वहीं, अब टीटीपी के आतंकी भी बलूचिस्तान में पहुंच गये हैं, जो पूरे पाकिस्तान में शरीयत लागू करना चाहते हैं।

चीन के खिलाफ भारी गुस्सा

चीन के खिलाफ भारी गुस्सा

चीन ने हाल के वर्षों में अरब सागर पर ग्वादर के गहरे पानी के बंदरगाह को विकसित करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। लेकिन आर्थिक गलियारा परियोजनाओं पर काम कर रहे पाकिस्तानियों और चीनियों पर हमले हुए हैं। पिछले महीने एक आत्मघाती हमलावर ने चीनी इंजीनियरों को ले जा रही एक बस पर भी हमला हुआ था, जिसमें 9 चीनी इंजीनियरों की मौत हो गई थी। वहीं, सड़क के किनारे खेल रहे दो पाकिस्तानी बच्चों की मौत हो गई थी बलूचिस्तान के फ्रीडम फाइटर्स ने पिछले महीने भी क्वेटा में राष्ट्रीय झंडे बेचने वाले एक स्टोर पर हथगोला फेंका था, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई थी और चार अन्य घायल हो गए, जो पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाने के लिए झंडे खरीद रहे थे।

भारत से 'अच्छे संबंध' बनाने की कोशिश में था तालिबान, लेकिन पाकिस्तान ने 'खेल' कर दिया?भारत से 'अच्छे संबंध' बनाने की कोशिश में था तालिबान, लेकिन पाकिस्तान ने 'खेल' कर दिया?

English summary
Many people are feared dead in the bomb blast in Quetta, Pakistan.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X