• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

महिला अनुयायियों का रेप कर कहता था, गॉड के कहने पर किया, 15 साल की जेल

|

सियोल। दक्षिण कोरिया के एक चर्च में पादरी को अपनी आठ महिला अनुयायियों को रेप करने का दोषी पाये जाने के बाद 15 साल जेल की सजा सुनाई गई है। विवादित धार्मिक गुरू जैरोक ली को गुरुवार को अदालत ने सजा सुनाई। ली अपनी महिला अनुयायियों के कहता था कि भगवान का आदेश है, कि वो उनसे संबंध बनाए। भगवान के आदेश की बात कहकर वो उन्हें धमकाता और रेप करता था।

75 साल के ली को पाया दोषी

75 साल के ली को पाया दोषी

दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल की एक अदालत ने उसको सजा सुनाते हुए कहा कि ये मामला इसलिए और अधिक गंभीर हो जाता है क्योंकि उसने धार्मिक आस्था का फायदा उठा महिलाओं को अपना शिकार बनाया। 75 साल के ली पर कई गंभीर मामले साबित हुए। वो 30 सालों से ऐसे अपराध कर रहा था।

लाखों में हैं फॉलोवर

लाखों में हैं फॉलोवर

ली मानमिन सेंट्रल चर्चा का हेड है। दावा है कि उसके करीब डेढ लाख फॉलोवर हैं और दुनियाभर में 10 हजार ब्रान्च हैं। ली के साथ विवाद काफी पुराने रहे हैं। वो खुद के भगवान होने का दावा भी भक्तों के बीच करता रहा है। कुछ साल पहले उसने छोटा सा चर्च शुरू किया और धीरे-धीरे लाखों में अपने फॉलोवर बना लिए।

अदालत में नहीं दिखा पछतावा

अदालत में नहीं दिखा पछतावा

अदालत में जांच अधिकारियों ने बताया कि वो अपने प्रभाव और शक्तियों का गलत इस्तेमाल कर महिला अनुयायियों का यौन शोषण करता था। वह कहता था कि उससे सेक्स ना किया तो भगवान उसे खत्म कर देंगे। गुरुवार को अदालत में भी उसने अपने किए पर कोई पछतावा नहीं दिखाया और सारे मामले को ही गलत कहता रहा।

ईवीएम की जगह बैलेट पेपर से चुनाव कराने की याचिका सुप्रीम कोर्ट में खारिज

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
South Korean pastor jailed 15 years for raping followers
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X