• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Video: सऊदी अरब के रेगिस्‍तान में हुआ Snowfall, जीरो डिग्री से नीचे पहुंचा पारा

|
Google Oneindia News

रियाद। सऊदी अरब इस समय मौसम के उतार-चढ़ाव से हैरान है। भारी बर्फबारी के बाद यहां पर कई जगहों पर बर्फ की मोटी चादर बिछ गई है और पर्यटकों को मौसम का यह रंग काफी पसंद आ रहा है। सिर्फ सऊदी अरब ही नहीं बल्कि संयुक्‍त अरब अमीरात (यूएई) के कई हिस्‍सों में मौसम काफी बदला हुआ है। राजकुमार अब्‍दुल अजीज बिन तुर्की अल फैसल ने बर्फ से ढंके सऊदी की कुछ तस्‍वीरें अपने ट्विटर अकांउट पर शेयर की हैं।

घर से बाहर न निकलने की सलाह

घर से बाहर न निकलने की सलाह

सऊदी अरब के उत्‍तर-पश्चिम क्षेत्र में स्थित दाहर पर्वतीय रेंज के कई क्षेत्रों में बर्फबारी के बाद तापमान जीरो डिग्री से भी नीचे चला गया है। इस बर्फबारी के कई वीडियोज और फोटोग्राफ्स सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। सऊदी अरब में मौसम वैज्ञानिकों ने लोगों से कहा है कि वे खुद को गर्म रखें और घर से बाहर न निकलें। इसके साथ ही लोगों को सूनसान इलाकों से दूरी रहने को कहा गया है। सऊदी अरब के जॉर्डन से लगी सीमा के करीब ताबुक क्षेत्र में काफी बर्फबारी हुई है और माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में मौसम में कोई बदलाव नहीं होगा।

पिछले वर्ष अप्रैल में हुई बर्फबारी

अरब के रेगिस्‍तान में इतनी बर्फ गिरना असाधारण माना जा रहा है और दूर-दूर से लोग इसे देखने आ रहे हैं। राजकुमार अब्‍दुल अजीज बिन तुर्की अल फैसल ने बर्फ से ढंके सऊदी की कुछ तस्‍वीरें अपने ट्विटर अकांउट पर शेयर की हैं। इसके अलावा उन्‍होंने वीडियो पर शेयर किया है जिसमें पहाड़ों बर्फबारी नजर आ रही है। हांलाकि यह पहला मौका नहीं है जब सऊदी अरब में बर्फबारी देखी गई है। पिछले वर्ष यहां पर अप्रैल में बर्फबारी ने सबको चौंका दिया था।

पूरे UAE में बदला है मौसम का मिजाज

यूएई के अलग-अलग जगहों पर रविवार को भारी बारिश हुई। इस बारिश के बाद अबु धाबी और अल दाफरा क्षेत्र में तापमान काफी नीचे चलना गया है। 70 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से यहां पर हवाएं चल रही हैं। जॉर्डन से लगा सऊदी अरब का बॉर्डर बिल्‍कुल सफेद हो चुका है। यहां पर हुई बर्फबारी की तस्‍वीरें सोशल मीडिया पर रविवार से वायरल हो गई हैं।

क्‍या है बर्फबारी की वजह

क्‍या है बर्फबारी की वजह

सऊदी अरब के मौसम विभाग ने ताबुक, अल मदीना, अल जॉव्‍फ, नॉर्दन बॉर्डस, हेल में अगले कुछ दिनों में मौसम बिगड़ने की आशंका जताई है। अथॉरिटीज ने कहा है कि लाल सागर पर इस समय 20 से 45 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली हवाओं अरब की खाड़ी में दबाव बना दिया है। इसकी वजह से मौसम में बदलाव देखने को मिल रहा है।

English summary
Snowfall in Saudi Arabia many parts covered in thik blanket of snow.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X