• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

SCO Summit 2021: अफगानिस्तान पर भारत के विचारों को एससीओ देशों ने माना, दुशांबे डिक्लेरेशन स्वीकार

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 17 सितंबर: ताजिकिस्तान की राजधानी दुशांबे में हुई शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की बैठक में सभी सदस्य देशों ने अफगानिस्तान पर भारत के नजरिए का समर्थन किया है। एससीओ देशों ने दुशांबे डिक्लेरेशन को स्वीकार किया है। एससीओ ने आतंक को रोकने और अफगानिस्तान में लोकतंत्र और शांति के हक में अपनी बात रखी है। आतंकवाद से मुक्त अफगानिस्तान में समावेशी सरकार पर भारत के पक्ष को दुशांबे डिक्लेरेशन में स्थान दिया गया है, जिसे सभी सदस्यों ने स्वीकार किया है।

SCO

अफगानिस्तान को लेकर एससीओ समिट में स्वीकार किए गए दुशांबे डिक्लेरेशन में कहा गया है, एससीओ सदस्य देशों ने अफगानिस्तान के लिए आतंकवाद, युद्ध और ड्रग्स से मुक्त एक स्वतंत्र, एकजुट, लोकतांत्रिक और शांतिपूर्ण राष्ट्र के रूप में अपना समर्थन व्यक्त करते हैं। एससीओ सदस्य का मानना ​​​​है कि एक समावेशी सरकार का होना सबसे महत्वपूर्ण है। जिसमें अफगान समाज के सभी धार्मिक और राजनीतिक समूहों का प्रतिनिधि हो।

सदस्य देशों ने अफगानिस्तान में आतंक के सभी स्वरूपों को खारिज किया। इस दौरान इस बात पर जोर दिया गया कि आतंकवाद और इसकी वित्तीय मदद पर भी पूरी तरह से रोक लगनी चाहिए। सदस्य देशों ने आतंकवाद, अलगाववाद और अतिवाद को बढ़ावा देने वालों पर भी लगाम कसने की जरूरत बताई। शंघाई सहयोग संगठन के सदस्य देशों ने इस बात पर जोर दिया कि वह ऐसी सभी शक्तियों के खिलाफ खड़े होंगे जो आतंकवाद का किसी भी रूप में सपोर्ट करते हैं।

क्या है एससीओ

एससीओ का जन्म 15 जून 2001 को हुआ था। जब चीन, रूस और चार मध्य एशियाई देशों कजाकस्तान, किर्ग़िस्तान, ताजिकिस्तान और उज्बेकिस्तान के नेताओं ने शंघाई सहयोग संगठन की स्थापना की और नस्लीय और धार्मिक चरमपंथ से निबटने और व्यापार और निवेश को बढ़ाने के लिए समझौता किया। भारत साल 2017 में एससीओ का पूर्णकालिक सदस्य बना। 2005 से उसे पर्यवेक्षक देश का दर्जा प्राप्त था। वर्तमान में एससीओ के आठ सदस्य चीन, कजाकस्तान, किर्गिस्तान, रूस, तजाकिस्तान, उज़्बेकिस्तान, भारत और पाकिस्तान हैं। इसके अलावा चार ऑब्जर्वर देश अफगानिस्तान, बेलारूस, ईरान और मंगोलिया हैं। इसके अलावा छह डायलॉग सहयोगी अर्मेनिया, अजरबैजान, कंबोडिया, नेपाल, श्रीलंका और तुर्की हैं। एससीओ का मुख्यालय चीन की राजधानी बीजिंग में है।

अमिताभ बच्चन से फैन ने पूछा- आपको टटपुंजिये की तरह पान मसाला का एड करने की क्या जरूरत है? एक्टर ने दिया ये जवाबअमिताभ बच्चन से फैन ने पूछा- आपको टटपुंजिये की तरह पान मसाला का एड करने की क्या जरूरत है? एक्टर ने दिया ये जवाब

English summary
SCO Summit 2021 India views on Taliban echo in Dushanbe declaration adopt in meet
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X