• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

US चुनाव फर्जीवाड़ा: हैकर ने कहा- रूस के कहने पर मैंने डेमोक्रेटिक पार्टी के कंप्यूटर किए हैक, हिलेरी के ईमेल भी चुराए

|

वॉशिंगटन। डोनाल्ड ट्रंप को अमेरिकी राष्ट्रपति बनाने के लिए रूस के हस्तक्षेप को लेकर शुक्रवार को कोर्ट में बहुत कुछ स्पष्ट हो गया है। कोर्ट में एक हैकर ने इस बात को स्वीकार कर लिया है कि अमेरिका में 2016 आम चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के कंप्यूटर सिस्टम को उसी ने ही हैक किए थे। अमेरिकी खुफिया एजेंसियों को जो शक था, वो अब हकीकत में बदल चुका है। हैकर ने कोर्ट में स्वीकार किया है कि इस खतरनाक काम को अंजाम देने के लिए रूस सरकार ने ही उसे बोला था।

हैकर- रूस के कहने पर डेमोक्रेटिक पार्टी के कंप्यूटर किए हैक

रुसी हैकर कोन्सटैंटिन कोज्लोव्स्की ने आज कोर्ट में कहा कि उसने डेमोक्रेटिक पार्टी के कंप्यूटर सिस्टम को हैक किया था और इसके लिए रुसी सरकार ने मुझे हायर किया था। हैकर ने कहा कि मैंने यह कहा टीम का मेंबर होने के नाते किया। हैकर कोज्लोव्स्की ने साथ में कहा कि उसने और उसके साथियों ने मिलकर चुनाव के वक्त डेमोक्रेटिक पार्टी की कैंडिडेट हिलेरी क्लिंटन के ईमेल भी चुराए थे।

रूस की 'द बेल' वेबसाइट ने दावा किया है कि हैकर कोज्लोव्स्की ने पिछले करीब एक दशक से एफएसबी (Federal Security Service)के लिए काम कर रहा है। हैकर कोज्लोव्स्की के अलावा और भी कई उसके साथी एफएसबी से जुड़े हुए हैं। अमेरिकी खुफिया एजेंसियां काफी वक्त से रूस पर 2016 आम चुनाव में हस्तक्षेप का आरोप लगाती आई है। वहीं, पुतिन ने इन आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए, ट्रंप के विरोधियों की बेकार कोशिश करार दिया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Russian hacker claims he was hired by Kremlin to target US Democratic Party
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X