• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

श्रीलंका के राष्‍ट्रपति सिरीसेना ISIS से बोले, 'मेरे देश को अकेला छोड़ दीजिए'

|

कोलंबो। 21 अप्रैल को श्रीलंका में ईस्‍टर संडे के मौके पर ब्‍लास्‍ट्स को यहां पर हुआ सबसे खतरनाक आतंकी हमला कहा जा रहा है। हमले में 253 लोगों की मौत हो गई थी और इसकी जिम्‍मेदारी आईएसआईएस ने ली थी। अब श्रीलंका के राष्‍ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना ने संगठन से कहा है कि 'मेरे देश को अकेला छोड़ दे।' राष्‍ट्रपति सिरीसेना के मुताबिक इन हमलों की साजिश एक विदेशी मास्‍टरमाइंड की ओर से रची गई थी। ईस्‍टर के मौके पर श्रीलंका के तीन लग्‍जरी होटल्‍स और चर्च को निशाना बनाया गया था।

colombo-300

यह भी पढ़ें: पीएम विक्रमसिंघे ने आतंकी हमलों के बाद जनता से कहा मुझे माफ कर दीजिएयह भी पढ़ें: पीएम विक्रमसिंघे ने आतंकी हमलों के बाद जनता से कहा मुझे माफ कर दीजिए

यह भी पढ़ें-यह भी पढ़ें-26/11 और फिर कोलंबो ब्‍लास्‍ट में बाल-बाल बचने वाले भारतीय शख्‍स की कहानीयह भी पढ़ें-यह भी पढ़ें-26/11 और फिर कोलंबो ब्‍लास्‍ट में बाल-बाल बचने वाले भारतीय शख्‍स की कहानी

सीरिया में मिली हार का बदला था हमला

जाचंकर्ताओं की ओर से कहा गया है कि ईस्‍टर पर हमलों के लिए जिस बम का प्रयोग किया उन्‍हें लोकल स्‍तर पर तैयार किया गया था। पुलिस को हमलों के पीछे दो संगठनों पर शक है इनमें से एक है नेशनल तौहीद जमात और दूसरा है जमीयतुल मिलाथू इब्राहिम। सोमवार को आईएसआईएस की ओर से एक नया वीडियो जारी किया गया है। इस वीडियो में पांच वर्ष बाद आईएसआईएस सरगना अबु बकर अल बगदादी को पहली बार देखा गया। बगदादी ने इस वीडियो को जारी कर साबित कर दिया कि वह अभी जिंदा है। इसके साथ ही उसने यह भी कहा कि सीरिया में आईएसआईएस को जो नुकसान हुआ है, श्रीलंका में हुए हमले उसका ही बदला है।

लोकसभा चुनावों से जुड़ी हर जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

English summary
President Maithripapa Sirisena has made an appeal to terrorist organisation ISIS and he has asked the organisation to leave his country alone.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X