• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

नॉर्थ कोरिया में पॉर्न फिल्म देख रहा था लड़का, प्रिंसिपल समेत पूरे परिवार को किम जोंग ने देश से निकाला

|
Google Oneindia News

प्योंगयांग: उत्तर कोरिया के सनकी तानाशाह किम जोंग उन अपने अजीब फैसलों के लिए पूरी दुनिया में प्रसिद्ध हैं। कोरोना वायरस देश में ना फैले, इसके लिए जो भी कोरोना मरीज मिला, नॉर्थ कोरिया के तानाशाह ने उसे मरवा दिया, ऐसी रिपोर्ट आई थी। लेकिन, ताजा रिपोर्ट एक बच्चे के पॉर्न फिल्म देखने को लेकर है। एक बच्चे ने अपने घर में पॉर्न फिल्म देखने की गुस्ताखी क्या कर दी, किम जोंग उन गुस्से में आग बबूला हो गए।

पॉर्न फिल्म के खिलाफ अभियान

पॉर्न फिल्म के खिलाफ अभियान

किम जोंग उन ने नॉर्थ कोरिया में पॉर्न फिल्मों के खिलाफ अभियान चला रखा है। खासकर बच्चों के पॉर्न फिल्म देखने पर पूरी तरह से प्रतिबंध है और अगर कोई बच्चा पॉर्न फिल्म देखने की जहमत करता है तो फिर उसे ऐसी सजा दी जाती है, कि कोई दूसरा शख्स पॉर्न फिल्म देखने की हिम्मत नहीं कर सकता है। डेलीएन की एक रिपोर्ट के मुताबिक नॉर्थ कोरिया में एक बच्चा अपने घर में पॉर्न फिल्म देख रहा था और किम जोंग उन को इसकी खबर लग गई, बस फिर क्या था, उस बच्चे के साथ साथ उसके परिवार को सनकी तानाशाह ने घर जिले से दरबदर कर दिया।

घर में पॉर्न फिल्म देख रहा था लड़का

घर में पॉर्न फिल्म देख रहा था लड़का

रिपोर्ट के मुताबिक घर में पैरेट्स के नहीं होने की वजह से लड़के ने घर के अंदर चोरी से पॉर्न फिल्म देखना शुरू कर दिया। लेकिन पुलिस को सर्वलांस के जरिए पता चल गया कि घर में बच्चा पॉर्न फिल्म देख रहा है। बस फिर क्या था बच्चे की तलाश करते करते पुलिस उसके घर तक पहुंच गई और बच्चे को पॉर्न फिल्म देखते हुए पकड़ लिया। जिसके बाद बच्चे के साथ उसके पूरे परिवार को नॉर्थ कोरिया के सबसे आखिरी हिस्से में छोड़ दिया गया है। यानि, बच्चे की पॉर्न फिल्म देखने की सजा सनकी तानाशाह ने पूरी परिवार को दी है।

पॉर्न फिल्म देखना गुनाह

पॉर्न फिल्म देखना गुनाह

रिपोर्ट के मुताबिक पॉर्न फिल्मों के खिलाफ किम जोंग उन ने बेहद कड़ा अभियान चला रखा है। रिपोर्ट के मुताबिक पिछले साल से ही किम जोंग उन का ये अभियान बेहद कड़ाई के साथ चलरहा है। हाईस्कूलों के अंदर भी लड़के और लड़कियों के पॉर्न फिल्म देखने पर सख्त मनाही है और अगर कोई पॉर्न फिल्म देखते हुए पकड़ा जाता है तो उसके खिलाफ बेहद सख्त सजा का प्रावधान है। किम जोंग उन का मानना है कि अगर किशोर पॉर्न फिल्मों से दूर रहे तो उसके जीवन का निर्माण हो सकता है और पॉर्न फिल्म देखने वालों की मानसिकता खराब हो जाती है और वो गलत काम में संलिप्त हो सकते हैं। नॉर्थ कोरिया में पॉर्न फिल्म और पॉर्न फिल्मों से जुड़ी सामग्रियों की आयात और निर्यात करने वालों के लिए तो मौत की सजा का ही प्रावधान किया किया गया है। ऐसे दोषियों को लेबर कैंप भेज दिया जाता है या फिर मौत की सजा दे दी जाती है।

स्कूल के प्रिसिपल को भी सजा

स्कूल के प्रिसिपल को भी सजा

रिपोर्ट के मुताबिक सिर्फ पॉर्न फिल्म देखने के आरोप में सिर्फ लड़का और उसके परिवार को ही सख्त सजा नहीं सुनाई गई है बल्कि उस लड़के के टीचर को भी सख्त सजा सुनाई गई है। रिपोर्ट के मुताबिक लड़का जिस स्कूल में पढ़ता था उस स्कूल के प्रिंसिपल को लेबर कैंप भेज दिया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक किम जोंग उन पॉर्न फिल्म देखने वालों को इसलिए इतनी सख्त सजा दे रहा है क्योंकि वो मानता है कि पॉर्न फिल्म देखने से लोगों की मानसिकता खराब होती है। रिपोर्ट के मुताबिक नॉर्थ कोरिया में पॉर्न फिल्म देखने के खिलाफ सख्त सजा का प्रावधान भी किया गया है। पॉर्न फिल्म देखने वालों के लिए 5 साल से 15 साल तक सजा का प्रावधान है।

अप्रवासी भारतीयों की शादी दुनिया में सबसे मजबूत, पाकिस्तान-बांग्लादेश की रिपोर्ट भी अच्छी, देखिए टॉप-20 लिस्टअप्रवासी भारतीयों की शादी दुनिया में सबसे मजबूत, पाकिस्तान-बांग्लादेश की रिपोर्ट भी अच्छी, देखिए टॉप-20 लिस्ट

English summary
While a boy in North Korea was watching a pornographic film at home, Kim Jong Un sentenced the family as well as the principal to severe punishment.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X