• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दुनिया में बढ़ सकती है कच्चे तेल की सप्लाई, नाइजीरिया के 100 नए प्रोजेक्ट की खबर आते ही दाम गिरे

|

नई दिल्ली, अप्रैल 17: पिछले साल कोरोना महामारी पूरी दुनिया में फैल गई। जिस वजह से भारत में भी लॉकडाउन लागू करना पड़ा। इसके बाद जब हालात सामान्य हुए तो महंगाई की मार से लोग बेहाल हो गए, जहां पेट्रोल-डीजल की कीमतों ने सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए। हालांकि अब एक राहत भरी खबर आई है, जहां दुनियाभर में कच्चे तेल की सप्लाई बढ़ने की बात कही जा रही है। जैसे ही सप्लाई बढ़ेगी, वैसे ही अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में भारी गिरावट होगी। इसका साफ असर भारत में भी देखेगा।

पेट्रोल के दाम

जानकारी के मुताबिक नाइजीरिया साल 2025 तक तेल और गैस की 100 परियोजनाओं को शुरू करने वाला है। इसके अलावा अफ्रीका में अगले पांच सालों में तेल और गैस की जितनी परियोजनाएं शुरू होंगी, उसमें नाइजीरिया की हिस्सेदारी 23 फीसदी रहेगी। इस खबर के बाहर आते ही शनिवार को अंतरराष्ट्रीय बाजार में कुछ नरमी आई, लेकिन अभी भारत में पेट्रोल-डीजल के दामों में कोई बदलाव नहीं हुआ है।

सऊदी अरब से तेल कम ख़रीदने का भारत पर क्या असर पड़ेगा?सऊदी अरब से तेल कम ख़रीदने का भारत पर क्या असर पड़ेगा?

राजधानी दिल्ली की बात करें शनिवार को वहां पर पेट्रोल 90.40 रुपये प्रति लीटर, जबकि डीजल 80.73 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। हालांकि दो दिन पहले पेट्रोल-डीलज में क्रमश: 16 और 14 पैसे की कटौती हुई थी। वहीं मुंबई में पेट्रोल 96.82 और डीजल 87.81 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। एक्सपर्ट्स की मानें तो अंतरराष्ट्रीय बाजार में दाम कम होने के कुछ दिन बाद उसका असर भारत में दिखता है।

English summary
Nigeria Crude Oil Supply 100 new project
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X