• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

NASA ने अंतरिक्ष में कर दिया कमाल, अब खुलेंगे अरबों मील दूर घूम रहे ग्रहों के राज

|
Google Oneindia News

वाशिंगटन, 9 जनवरी: विश्व के सबसे ज्यादा शक्तिशाली और दुनिया की 'नई आंख' माने जाने वाले जेम्स वेब स्पेस टेलिस्कोप अंतरिक्ष में स्थापित हो गया है। इस टेलिस्कोप की लॉन्चिंग को लेकर लंबे वक्त से पूरी दुनिया की निगाहें नासा पर थी। नासा के मुताबिक ये टेलिस्कोप विश्व का सबसे शक्तिशाली स्पेस टेलीस्कोप है, जो ब्रह्मांड की खोज में अभूतपूर्व योगदान देने वाला है।

ब्रह्मांड की खोज में देगा अभूतपूर्व योगदान

ब्रह्मांड की खोज में देगा अभूतपूर्व योगदान

अब तक के सबसे शक्तिशाली अंतरिक्ष दूरबीन ( Space Telescope) ने शनिवार (8 जनवरी) को अपने फाइनल गोल्डन मिरर पैनल को खोलते हुए दो हफ्ते के लंबे डिप्लॉयमेंट फेज को पूरा किया है। अब यह स्पेस टेलिस्कोप ब्रह्मांडीय इतिहास के हर चरण के अध्ययन करने के लिए तैयार है।

जेम्स वेब स्पेस टेलिस्कोप तैनात

जेम्स वेब स्पेस टेलिस्कोप तैनात

अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा की तरफ से जेम्स वेब स्पेस टेलिस्कोप के कंट्रोल रूम में इंजीनियरिंग टीमों ने इसकी पुष्टि की। साथ ही इसकी खुशी भी मनाई गई। जेम्स वेब स्पेस टेलिस्कोप फ्लावर की आकृति का सोने से बना यह पैनल खुलने के बाद स्पेस में पूरी तरह से तैनात हो गया है।

अद्भुत मील का पत्थर सबित होगा टेलिस्कोप

अद्भुत मील का पत्थर सबित होगा टेलिस्कोप

अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा ने ट्वीट करते हुए इसकी जानकारी दी और कहा कि आखिरी विंग तैनात हो गया है। नासा के सीनियर इंजीनियर थॉमस जुर्बुचेन ने लाइव वीडियो फीड के दौरान कहा कि मैं इसके बारे में भावुक हूं, एक अद्भुत मील का पत्थर है।नासा के अनुसार दोपहर 1:17 बजे (1817 GMT) टीम ने सफलतापूर्वक तैनात होने घोषणा की।

अनसुलझे रहस्‍यों को सुलझाने में करेगा मदद

अनसुलझे रहस्‍यों को सुलझाने में करेगा मदद

बता दें कि यह जेम्स वेब स्‍पेस टेलिस्कोप सोलर सिस्‍टम के अलावा दूसरी दुनिया, एस्टेरॉयड, ब्लैक होल्स और आकाशगंगाओं के अनसुलझे रहस्‍यों को सुलझाने में मदद करेगा। अंतरिक्ष दूरबीन को नासा, यूरेपीय और कनाडाई स्पेस एजेंसी ने साथ मिलकर बनाया है। यहा तक की इसे अंतरिक्ष में तैनात होने वाली सबसे बेहतरीन वैज्ञानिक आंखें माना जा रहा हैं। जेम्स वेब स्‍पेस टेलिस्कोप को बनाने में 10,000 वैज्ञानिकों ने कड़ी मेहनत की है।

सूरज में 'आग के समंदर' को पहली बार स्पेसक्राफ्ट ने छुआ, सूर्य ग्रहण को लेकर भेजी दुर्लभ जानकारीसूरज में 'आग के समंदर' को पहली बार स्पेसक्राफ्ट ने छुआ, सूर्य ग्रहण को लेकर भेजी दुर्लभ जानकारी

Comments
English summary
Nasa’s James Webb Space Telescope Fully deployed in space
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X