• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

नासा के अंतरिक्ष यात्रियों ने स्पेसएक्स के कैप्सूल से समुद्र में की लैंडिंग, 45 वर्षों में ऐसा पहली बार हुआ

|

वॉशिंगटन। अमेरिका की स्पेस एजेंसी नासा के दो अंतरिक्ष यात्री रविवार देर रात एक निजी कंपनी स्पेस एक्स के कैप्सूल में सवार होकर समुद्र में उतरे हैं। जानकारी के अनुसार ये दोनों ही अंतरिक्ष यात्री तकरीबन दो महीने तक अंतरिक्ष में उड़ान भरने के बाद मेक्सिको की खाड़ी में उतरे हैं। बता दें कि पिछले 45 वर्षों में ऐसा पहली बार हुआ है जब नासा के अंतरिक्ष यात्री समुद्र में उतरे हैं। माना जा रहा है कि इन दोनों ही अंतरिक्ष यात्रियों के सफलतापूर्वक लौटने के बाद स्पेस एक्स के अगले महीने के अभियान की शुरुआत हो सकती है।

जानिए क्या है वो ऐतिहासिक Israel-UAE Peace Deal जिस पर Nobel के लिए हुआ ट्रंप का नामांकन

nasa

28,000 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार

जानकारी के अनुसार ये अंतरिक्ष यात्री एक दिन से भी कम समय में अंतरिक्ष से धरती पर पहुंचे हैं। परीक्षण उड़ान के पायलट डाउ हर्ले व बॉब बेहनकेन अंतरिक्ष से धरती के लिए शनिवार को रवाना हुए थे। स्पेस एक्स के अधिकारियों ने कहा कि धरती पर वापस आने पर आप दोनों का स्वागत है, स्पेस एक्स में उड़ान भरने के लिए धन्यवाद। पायलट ने इस कैप्सूल को ड्रैगन एंडेवर का नाम दिया था। यह कैप्सूल 28 हजार किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से धरती की ओर आया, जिसके बाद 560 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से इस कैप्सूल ने वायुमंडल में प्रवेश किया। आखिर में इस कैप्सूल ने 24 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से मेक्सिको की खाड़ी में लैंडिंग की।

1900 डिग्री था तापमान

जिस रफ्तार से यह कैप्सूल वापस धरती पर आया है, उसकी वजह से इसकी बाहरी सतह पर काफी तेज घर्षण हुआ और इसका तापमान 1900 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था। यही नहीं धरती पर वापस लौटते हुए कैप्सूल पर 4-5 गुना अधिक गुरुत्वाकर्षण बल को महसूस किया गया। जिस वक्त यह कैप्सूल समुद्र में गिरा, उस वक्त स्पेसएक्स का जहाज पहले से ही 40 कर्मचारियों के साथ मौजूद था। जहाज में डॉक्टर, नर्स आदि मौजूद थे। इन सभी कर्मचारियों को कोरोना के चलते 14 दिन पहले ही क्वारेंटीन कर दिया गया था, जिसके बाद इन्हें जहाज पर भेजा गया था।

ट्रंप ने दी बधाई

स्पेस एक्स के कैप्सूल की सफल लैंडिंग के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी ट्वीट करके इस वीडियो को साझा किया। उन्होंने ट्वीट कर लिखा अंतरिक्ष यात्रियों ने पहली बार 45 वर्षों में स्पैलशडाउन किया है, यह अपने आप में बेहद रोमांचक है। स्पेस एक्स की ओर से पहले बताया गया कि कैप्सूल के पास समुद्र में हमारा जहाज आधे घंटे में पहुंच जाएगा, इसके बाद इस कैप्सूल को खोला जाएगाऔर इसमे दोनों ही अंतरिक्ष यात्रियों की चिकित्सीय जांच होगी, इसके बाद दोनों अपने घर के लिए उड़ान भरेंगे। बता दें कि इससे पहले 24 जुलाई 1975 में नासा के अंतरिक्ष यात्री पानी पर लौटे थे, इसके बाद अब अंतरिक्ष यात्रियों ने स्पलैश डाउन किया है।

इसे भी पढ़ें- माइक पोंपियो का चीन की सॉफ्टवेयर कंपनियों को लेकर बड़ा बयान, लगाया संगीन आरोप

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
NASA astronauts makes splashdown in spaceex capsule for the first time after 45 years.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X