• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

NASA की कामयाब उड़ान, 185 दिनों बाद स्पेस से धरती पर लौटीं अंतरिक्षयात्री केट रूबिन्स

|
Google Oneindia News

वॉशिंगटन, अप्रैल 17: अंतरिक्ष में सैकड़ों घंटे बिताने के बाद, 185 दिनों तक रहने के बाद आखिरकार अंतरिक्षयात्री केट रूबिन्स सुरक्षित धरती पर लौट आई हैं। नासा ने केट रूबिन्स के धरती पर उतरने का वीडियो जारी किया है, जिसमें उन्हें अंतरिक्ष से पृथ्वी पर सुरक्षित उतरते देखा जा रहा है। धरती पर उतरने के बाद केट रूबिन्स के खुशियों का ठिकाना नहीं रहा और उन्होंने 6 महीने से ज्यादा वक्त अंतरिक्ष में बिताने के बाद धरती पर खुली हवा में सांस लेना शुरू कर दिया है। नासा का ये मिशन बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा था, जिसे कामयाबी के साथ अंजाम तक पहुंचाया गया है।

धरती पर उतरीं केट रूबिन्स

धरती पर उतरीं केट रूबिन्स

अंतरिक्षयात्री केट रूबिन्स ने पृथ्वी से 200 मील दूर अंतरिक्ष में 6 महीनों से ज्यादा वक्त बिताया। केट रूबिन्स 185 दिनों तक अंतर्राष्ट्रीय स्पेस स्टेशन यानि आईएसएस में रहीं। अंतरिक्ष में 6 महीने से ज्यादा वक्त बिताने वाली केट रूबिन्स ने अंतरिक्ष से ही अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के दौरान अपना वोट भी डाला था। केट रूबिन्स ने अंतरिक्ष में रहने के दौरान कई महत्वपूर्ण वैज्ञानिक रिसर्च को अंजाम दिया है। वहां उन्होंने 30 नवंबर को पहली बार आईएसएस में उगाई गई मूली की फसल को भी काटा। नासा ने अंतरिक्ष में मूली उत्पादन प्रयोग का नाम प्लांट हेबिटेट-02 रखा था।

कामयाब रहा मिशन

धरती से 200 मील दूर अंतर्राष्ट्रीय स्पेस स्टेशन में 6 महीने तक रहना कतई आसान नहीं था लेकिन केट रूबिन्स ने अपने मिशन को कामयाबी के साथ अंजाम दिया है। पृथ्वी पर सुरक्षित वापसी के बाद सबसे पहले केट रूबिन्स अपने घर ह्यूस्टन स्थित नासा सेंटर जाएंगी। और फिर 21 अप्रैल को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए वो अपने इस मिशन के बारे में दुनिया को जानकारी देंगीं।

पूरा किया दो स्पेसवॉक

रिपोर्ट के मुताबिक केट रूबिन्स के साथ सर्गेई रिझीकोव और सर्गेई कुडवर्चकोव भी अंतरिक्ष स्पेशन गये थे। केट रूबिन्स दुनिया की वो कामयाब महिला वैज्ञानिक बन गई हैं, जिन्होंने अंतरिक्ष में कामयाबी के साथ दो स्पेसवॉक को पूरा किया। नासा के मुताबिक शुक्रवार रात 9 बजकर 34 मिनट पर अंतरिक्षयात्रियों को लेकर स्पेस क्राफ्ट सोयूज एमएस-17 आईएसएस से पृथ्वी के लिए रवाना हुआ और फिर शनिवार को कजाकिस्तान में लोकल समय के मुताबिक 10 बजकर 55 मिनट पर पृथ्वी पर सुरक्षित उतरा। स्पेसक्राफ्ट की सुरक्षित लैंडिंग कजाकिस्तान के दक्षिण पूर्व में स्थिति शहर झेजकाजगान में लैंड किया।

एलन मस्क की कंपनी स्पेसएक्स को नासा से मिला चंद्रमा पर जाने के लिए अंतरिक्ष यान बनाने का ठेकाएलन मस्क की कंपनी स्पेसएक्स को नासा से मिला चंद्रमा पर जाने के लिए अंतरिक्ष यान बनाने का ठेका

English summary
NASA astronaut Kate Rubins has returned to Earth after being in space for 185 days.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X