• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

म्यांमार संकट पर भारत सरकार का अलर्ट, घर में रहने की अपील, फ्लाइट शेड्यूल जारी

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली: म्यांमार (Myanmar) में सरकार को बर्खास्त करते हुए सेना (Military Rule) ने एक साल के लिए आपातकाल (Emergency) लागू कर दिया है। जिसे देखते हुए भारत सरकार (Indian Government) ने म्यांमार में रहने वाले भारतीयों (Indians in Myanmar) के लिए अलर्ट (Alert) जारी किया है। म्यांमार स्थित भारतीय दूतावास (Indian Embassy In Myanmar) ने भारतीयों के लिए अलर्ट जारी करते हुए कहा है कि म्यांमार में बदले राजनीतिक हालात को देखते हुए सभी भारतीयों को जरूरी सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है। म्यांमार में रहने वाले भारतीयों से आग्रह है कि वो गैरजरूरी घर से बाहर नहीं निकलें। और जरूरत पड़ने पर तुरंत भारतीय दूतावास से संपर्क करें।

JAYSHANKAR

नई दिल्ली के लिए 11 फरवरी को फ्लाइट

म्यांमार में सेना ने सत्ता संभालने के बाद तमाम अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों (Flight to New Delhi) पर पाबंदी लगा दी है। जिसके बाद म्यांमार के यंगून से नई दिल्ली के लिए 4 फरवरी की फ्लाइट भी कैंसिल कर दी गई है। म्यांमार स्थित भारतीय दूतावास ने आधिकारिक जानकारी देते हुए कहा है कि अब 11 फरवरी को यंगून से नई दिल्ली की फ्लाईट शेड्यूल की गई है।

AIR INDIA

अमेरिका ने भी अलर्ट जारी किया

म्यांमार में सत्ता हथियाने के बाद सेना ने देश में एक साल के लिए आपातकाल (Emergency) लगाते हुए सभी अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों (Flights ban in Myanmar) पर पाबंदी लगा दी है। म्यांमार में स्थित अमेरिकी दूतावास (American Embassy) की तरफ से सोमवार को ट्विटर के जरिए ये जानकारी दी गई है कि यंगून स्थित इंटरनेशनल एयरपोर्ट जाने वाले सबसे व्यस्त रास्ते को बैरिकेट कर बंद कर दिया है। अमेरिकी दूतावास की तरफ से ये भी कहा गया है कि हमें रिपोर्ट मिले हैं सभी उड़ानों पर पाबंदी लगा दी गई है। अमेरिका ने भी म्यांमार में रहने वाले अमेरिकन्स के लिए गाइडलाइंस जारी करते हुए कहा है कि बिना जरूरी काम के लोग घर से बाहर नहीं निकलें। और किसी भी आपात स्थिति में तुरंत अमेरिकी दूतावास से संपर्क करें।

म्यांमार में मिलिट्री शासन, भारत की प्रतिक्रिया

म्यांमार और भारत सिर्फ पड़ोसी देश नहीं हैं, बल्कि दोनों देशों के बीच काफी अच्छे संबंध हैं। लिहाजा, म्यांमार की सत्ता सेना के हाथों में आना भारत के लिए किसी झटके से कम नहीं है। कोरोना संक्रमण के दौरान भी भारत ने वैक्सीन की बड़ी खेप म्यांमार को भेजी है। म्यांमार में सेना द्वारा सत्ता तख्तापलट को लेकर भारतीय विदेश मंत्रालय ने गरही चिंता जताते हुए एक प्रेस नोट जारी किया है। जिसमें कहा गया है कि म्यांमार में लोकतांत्रिक प्रक्रिया बहाली का हमेशा भारत सरकार ने समर्थन किया है। भारत का मानना है कि किसी भी देश में कानून का शासन और लोकतांत्रिक प्रक्रिया के तहत की राजनीतिक फैसले होने चाहिए। हम म्यांमार में भी लोकतांत्रिक सरकार चाहते हैं। फिलहाल भारत सरकार म्यांमार की हर घटना पर बारीकी से निगरानी कर रहा है।

Special Report: म्यांमार में तानाशाह सैन्य शासन पर क्या सोचता है चीन और पाकिस्तान?Special Report: म्यांमार में तानाशाह सैन्य शासन पर क्या सोचता है चीन और पाकिस्तान?

English summary
ALERT for Indians residing in Myanmar, appeal to stay home, flight schedule issued
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X