• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

सऊदी अरब की ऐतिहासिक जीत पर क्या कह रहा है खाड़ी देशों का मीडिया

फ़ुटबॉल के सुपरस्टार्स से भरी अर्जेंटीना की टीम को फ़ीफ़ा रैंकिंग में 51 वें स्थान पर मौजूद सऊदी अरब की टीम ने हराया. इस जीत पर क्या लिख रहा खाड़ी देशों का मीडिया

By BBC News हिन्दी
Google Oneindia News
फुटबॉल विश्वकप
Reuters
फुटबॉल विश्वकप

क़तर में चल रहे फ़ुटबॉल विश्वकप 2022 में मंगलवार को इस टूर्नामेंट का अब तक का सबसे बड़ा उलट-फेर देखने को मिला. दो बार विश्व विजेता रही अर्जेंटीना को सऊदी अरब ने 2-1 से हरा दिया.

मैच की शुरूआत में ही अर्जेंटीना के स्टार खिलाड़ी लियोनल मेसी ने पेनाल्टी किक का फ़ायदा उठाते हुए एक गोल दाग दिया.

लेकिन सेकेंड हॉफ़ में सऊदी अरब की ओर से सालेह अल-शहरी और फिर सालेम अल-दसारी ने एक के बाद एक दो गोल किए और फिर अर्जेंटीना के हाथ से ये मैच निकल गया.

सऊदी अरब
Getty Images
सऊदी अरब

इस मैच के शुरू होने से पहले तक विश्लेषक मान रहे थे कि अर्जेंटीना का ये पहला मैच वह बेहद आसानी से जीत जाएगी लेकिन जो नतीजा आया उसने फ़ुटबॉल फ़ैंस और खेल के जानकारों को हैरान कर दिया.

सऊदी अरब के लिए ये जीत बहुत बड़ी है, इसका अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है कि देश में जीत के जश्न में सार्वजनिक छुट्टी का एलान किया गया है.

ना सिर्फ़ सऊदी अरब बल्कि खाड़ी के सभी देश इस जीत को अप्रत्याशित मान रहे हैं. यहां से निकलने वाले अखबारों ने इस मैच की बढ़ चढ़ कर कवरेज की है और इसे इतिहास में दर्ज होने वाला दिन बनाया है.

फ़ीफ़ा विश्व कप: सऊदी अरब ने कैसे अर्जेंटीना को इटली का रिकॉर्ड तोड़ने से रोका

फ़ीफ़ा वर्ल्ड कप 2022: क़तर का हया कार्ड क्या है, सऊदी अरब ने इस कार्ड को लेकर क्या किया फ़ैसला

लियोनल मेसी
Getty Images
लियोनल मेसी

'ऐसा दिन फिर कभी नहीं आएगा’

सऊदी अरब की टीम
Getty Images
सऊदी अरब की टीम

दुबई से निकलने वाला अख़बार खलीज टाइम्स लिखता है- मंगलवार को जब अर्जेंटीना मैदान में उतरी तो उसके पास लगातार 36 महीने तक कोई भी मैच न हारने का आत्मविश्वास था. अर्जेंटीना को इस बात का अंदाज़ा नहीं रहा होगा कि बीते 28 सालों में एक भी वर्ल्ड कप मैच ना जीत पाने वाला सऊदी अरब उसके इस विजयरथ को रोक देगा.

अख़बार लिखता है की सऊदी अरब के फ़ैस के लिए ये जीत का जश्न लंबा चलेगा.

एक अरब फैन ने खलीज टाइम्स से कहा, “हम इतिहास लिख रहे हैं, हम पूरी रात इसका जश्न मनाते रहेंगे, ये जीत ऐतिहासिक है.”

कासिम नाम के एक फ़ैन ने कहा- “मैं आज के बारे में बात नहीं कर सकता, ये इतिहास में दर्ज होने वाला दिन है, मैं बहुत खुश हूं कि हमने मैच जीता. इस तरह का दिन फिर कभी नहीं आएगा.”

अर्जेंटीना इस टूर्नामेंट की बेहतरीन टीमों में गिनी जा रही है ऐसे में पहले मैच में ही सऊदी अरब का उसे हरा देना खाड़ी देश और सऊदी फैंस के लिए सातवें आसमान पर पहुंचे वाली खुशी देने जैसा है.

अख़बार के संवाददाता अपना अनुभव बयां करते हुए लिखते हैं कि भले ही ये मैच अर्जेंटीना के फैंस के दिल तोड़ने वाला क्यों ना हो लेकिन फिर भी अर्जेंटीना के फैंस को जब भी रिपोर्टर बात करने के लिए रोकते वे बड़ी शालीनता के साथ रुक रहे थे.

अर्जेंटीना के एक फैन वाकिन ने खलीज टाइम्स से बात करते हुए कहा, “ मुझे लगता है कि सारे खिलाड़ियों को ये यक़ीन था की वो जीत जाएंगे. मेसी भी पूरी तरह स्वस्थ्य नहीं थे, उनके टखने में दिक्कत थी. अर्जेंटीना को लग रहा था कि वो ये मैच बीते सभी मैचों की तरह जीत जाएगी लेकिन ये विश्व कप है और यहां मैच पलटते वक्त नहीं लगता.”

अपनी बात ख़त्म करते हुए वाकिन ने सऊदी अरब की टीम को जीत की बधाई दी.

ईरान के फ़ुटबॉल खिलाड़ियों ने राष्ट्रगान न गाकर क्या बड़ी दुश्मनी मोल ले ली है?

FIFA वर्ल्ड कप 2022: क़तर में होने जा रहे इस टूर्नामेंट के बारे में बड़ी बातें

'अरब के लिए गर्व का दिन’

फुटबॉल विश्वकप
Getty Images
फुटबॉल विश्वकप

खाड़ी के मशहूर चैनल अलजज़ीरा ने मंगलवार को हुए मुक़ाबले पर लिखा कि मंगलवार का दिन अरब जगत के लिए बेहद खुशी वाला दिन था.

सऊदी अरब ने स्टार फ़ुटबॉलर लियोनल मेसी वाली अर्जेंटीना टीम को 2-1 से हराया. इस मैच से पहले सऊदी अरब ने विश्वकप में महज़ तीन मैच ही जीते हैं वो भी आज से 28 साल पहले.

पहले सऊदी अरब ने इतिहास रचा और उसके कुछ घंटों बाद ट्यूनिशिया ने डेनमार्क के साथ ज़बरदस्त मैच खेला और ये मुकाबला बिना गोल के ड्रॉ रहा.

एजुकेशन सिटी स्टेडियम में ट्यूनिशिया और डेनमार्क के मैच के दौरान नज़ारा बेहद दिलचस्प था. ट्यूनिशियन फ़ैंस लाल-सफ़ेद रंग की पोशाक में इतने उत्साहित और भारी तादाद में थे कि डेनमार्क के फ़ैंस को स्टेडियम में तलाशना पड़ रहा था.

एजुकेशन सिटी स्टेडियम में ट्यूनिशिया और डेनमार्क का मैच
Getty Images
एजुकेशन सिटी स्टेडियम में ट्यूनिशिया और डेनमार्क का मैच

जब भी कोई ट्यूनिशियाई खिलाड़ी अगर बॉल छूता भी तो उनके फ़ैंस उसे चियर करते, तालियों की गड़गड़ाहट से स्टेडियम गूंज उठता.

सऊदी अरब बनाम अर्जेंटीना के मैच को लेकर अलजज़ीरा लिखा है कि सात बार बैलेन-डी-ऑर जीतने वाले लियोनल मेसी जोश से लबरेज़ सऊदी खिलाड़ियों के आगे अर्जेंटीना की मदद नहीं कर सके.

जब रेफरी ने मैच ख़त्म करने के लिए सिटी बजाई तो मेसी निराशा में डूबा चेहरा लेकर ग्राउंड से वापसी करते नज़र आए. वहीं, सऊदी अरब ग्राउंड में अपने एतिहासित जीत का जश्न मना रहा था.

'मेरी ज़िंदगी का सबसे बेहतरीन खेल’

आबूधाबी से प्रकाशित होने वाला अख़बार द नेशनल लिखता है मंगलवार को जेद्दा की दुकानें, कैफ़े, दफ़्तर सऊदी के राष्ट्रगान से गूंज उठा. सऊदी अरब की अर्जेंटीना पर ज़बरदस्त जीत से पूरा देश मानो जश्न के रंग में डूब गया हो.

कुछ लोग सड़कों पर गाना गा रहे थे तो कुछ हाथों में सऊदी का झंडा लिए जश्न मना रह थे तो कुछ लोगों को सड़क पर मिठाई बांट कर अपनी खुशी ज़ाहिर कर रहे थे.

ऐसे ही एक सऊदी फैन ने 'द नेशनल’ से कहा, “मेरी आंखों में आंसू है- मुझे अभी भी यक़ीन नहीं हो रहा. ये मेरी जिंदगी का सबसे बेहतरीन मैच था.”

स्कूलों में लाइव दिखाया मैच

फुटबॉल विश्वकप
Getty Images
फुटबॉल विश्वकप

सऊदी अरब के स्कूलों में मैच लाइव दिखाया गया. स्कूल में मैच देखने वाले एक छात्र ने अख़बार से कहा, “ये दुनिया का सबसे अच्छा अहसास है, मुझे अपने देश, अपनी टीम पर गर्व है- उन्होंने अर्जेंटीना के खिलाफ़ एक चैंपियन की तरह खेला. उन्होंने मेसी और दुनिया के दबाव पर खुद को हावी नहीं होने दिया.”

सऊदी अरब की सड़कों पर जीत के बाद फैंस खिलाड़ियों के नाम के नारे और देश का झंडा लहरा रहे थे. यहां तक की दफ़्तरों में भी जश्न मनाया जा रहा था.

यादगार जीत

मेसी
Getty Images
मेसी

रियाद से छपने वाले अख़बार अरब न्यूज़ ने इस जीत को 'हिरोइक जीत’ का नाम दिया.

अख़बार लिखता है कि लुसैल स्टेडिसम में सऊदी अरब ने अर्जेंटीना को 2-1 से हरा कर दुनिया को हैरान कर दिया.

कोच हर्व रेनार्ड के नेतृत्व वाली टीम सऊदी अरब पहली अरब या एशियाई टीम है जिसने दो बार की विश्व विजेता अर्जेंटीना को टूर्नामेंट में हराया है. ये जीत फ़ीफ़ा विश्व कप के इतिहास के सबसे बड़े उलट-फ़ेरों में से एक के रूप में दर्ज होगा.

टीम के कोच रेनार्ड ने मैच के बाद कहा- हमने सऊदी अरब फुटबाल के लिए इतिहास रचा है और ये जीत हमेशा हमेशा के लिए दर्ज हो चुकी है.

अर्जेंटीना की ओर से पेनाल्टी शूट का फायदा उठाते हुए मेसी ने 10 मिनट में ही एक गोल कर टीम को बढ़त दिला दी. सेकेंड हाफ़ में लौरेटो मार्टिनेज़ ने गोल दागा लेकिन वह ऑफ़-साइट साबित हुआ. इसके बाद सऊदी अरब 48वें और 53वें मिनट पर गोल किए और टीम के नाम इतिहास दर्ज कर दिया.

ग्रुप-सी में चार टीमें हैं- अर्जेंटीना, पौलैंड, सऊदी अरब, मैक्सिको.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

BBC Hindi
Comments
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
media of Gulf countries saying on the historic victory of Saudi Arabia
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X