• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पाकिस्तान में पहली बार हिन्दू लड़की बनी DSP, हिन्दू समुदाय में खुशी की लहर, मनीषा रोपेटा ने किया नाम रोशन

|

इस्लामाबाद, अप्रैल 18: पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान से अकसर अल्पसंख्यक हिंदुओं की किडनैपिंग और धर्म परिवर्तन की तस्वीरें सामने आती रहती हैं लेकिन ऐसा पहली बार हुआ है जब पाकिस्तान में किसी हिन्दू लड़की ने पुलिस विभाग में ऊंचे ओहदे पर पहुंचने में कामयाबी हासिल की हो। पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदाय को ऊंचे सरकारी पदों पर नहीं जाने दिया जाता है और किसी ने किसी तरह से उन्हें रोक दिया जाता है। लेकिन, 1947 में पाकिस्तान बनने के बाद 2021 में जाकर ऐसा मौका आया है जब कोई हिन्दू लड़की पाकिस्तान के किसी प्रांत में पुलिस महकमे में ऊचे ओहदे पर पहुंची हो। इस पाकिस्तानी हिन्दू लड़की का नाम है मनीषा रोपेटा, जिन्होंने सिंध प्रांत में डीएसपी बनने में कामयाबी हासिल की है।

डीएसपी बनीं मनीषा रोपेटा

डीएसपी बनीं मनीषा रोपेटा

पाकिस्तान के सिंध प्रांत में मनीषा रोपेटा की काफी चर्चा हो रही है और वजह है उनका डीएसपी पद के लिए चुना जाना। मनीषा रोपेटा पाकिस्तान की पहली हिन्दू महिला बन गई हैं, जो डीएसपी पद के लिए चुनी गई हैं। मनीषा रोपेटा की उम्र 26 साल है और वो पाकिस्तान के सिंध प्रांत के जैकबाबाद इलाके की रहने वाली हैं। मनीषा रोपेटा ने कुछ महीने पहले सिंध प्रांत द्वारा आयोजित सिंध लोकसेवा आयोग परीक्षा में 16वां स्थान हासिल किया है। रिपोर्ट के मुताकिब पाकिस्तान बनने के बाद ये पहला मौका है जब कोई हिन्दू महिला किसी प्रांत की डीएसपी बनेगी। जाहिर सी बात है, मनीषा रोपेटा की ये उपलब्धि काफी ज्यादा अहम है और उन्होंने उस देश में ऐतिहासिक मुकाम हासिल किया है, जहां अल्पसंख्यकों से इतना बर्बर व्यवहार किया जाता है। रिपोर्ट के मुताबिक मनीषा रोपेटा भले ही मूल तौर पर सिंध प्रांत की रहने वाली हैं लेकिन कई साल पहले उनका पूरा परिवार सिंध से कराची शिफ्ट कर गया था।

पाकिस्तान के युवा कर रहे हैं तारीफ

मनीषा रोपेटा की पाकिस्तानी युवा काफी तारीफ कर रहे हैं और उनकी इस उपलब्धि के लिए उन्हें बधाई दे रहे हैं। सोशल मीडिया ट्विटर पर मनीषा रोपेटा को काफी बधाई संदेश भेजे जा रहे हैं और लोग कामना कर रहे हैं कि भविष्य में वो काफी तरक्की करें और अपना एक अलग मुकाम बनाए ताकि आने वाले वक्त में दूसरी अल्पसंख्यक बेटियों को भी उनसे प्रेरणा मिले। कराची में रहने वाली मनीषा रोपेटा ने पहले फिजियोथेरेपी में डॉक्टरेट की उपाधि हासिल की थी और फिर वो सिंध लोकसेवा आयोग की परीक्षा की तैयारी में जुट गईं। अब जाकर मनीषा रोपेटा ने कामयाबी हासिल की है और वो अब सिंध प्रांत में डीएसपी बनेंगी।

हासिल किया 16वां स्थान

सिंध पुलिस की तरफ से भी मनीषा रोपेटा को उनकी कामयाबी के लिए बधाई दी गई है। सिंध पुलिस की लिस्ट के मुताबिक 152 सफल उम्मीदवार घोषित किए गये हैं जिनमें मनीषा रोपेटा ने 16वां स्थान हासिल किया है। सिंध पुलिस ने 2019 में परीक्षा का आयोजन करवाया था, जिसका रिजल्ट अब जाकर जारी किया गया है। सिंध लोकसेवा आयोग द्वारा ऑफिसियल प्रेस रिलीज में कहा गया है कि तीन चरणों में परीक्षा का आयोजन किया गया था जिसमें मनीषा रोपेटा ने 16वां स्थान हासिल किया है। मनीषा रोपेटा के भाई ने उनकी कामयाबी पर खुशी जाहिर करते हुए मीडिया को बताया कि उनका परिवार करीब 10 साल पहले कराची शिफ्ट कर गया था जिसका मकसद ही भाई-बहनों की पढ़ाई-लिखाई था। मनीषा के भाई रूप कुमार ने बताया कि उनकी बहन पाकिस्तान की पहली हिन्दू लड़की हैं, जिन्होंने डीएसपी बनने में कामयाबी हासिल की है।

कामयाबी पर मनीषा ने क्या कहा

सिंध पुलिस में डीएसपी पद पर चुने जाने के बाद मनीषा रोपेटा ने खुशी जताते हुए अपनी कामयाबी का सारा श्रेय अपने माता-पिता को दिया है। मनीषा रोपेटा से पहले पुष्पा कुमारी नाम की एक हिन्दू लड़की भी सिंध पुलिस में चुनी गईं थीं लेकिन वो सब-इंस्पेक्टर पद पर चुनी गईं थीं। डीएसपी बनने के बाद मनीषा रोपेटा ने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि उनका सपना पुलिस विभाग में जाना था और अब उन्हें कामयाबी मिली है। वो अपने तरफ से पूरी कोशिश करेंगी ताकि वो अपना बेस्ट पुलिस महकमे को दे सकें। वहीं मनीषा रोपेटा को उनकी कामयाबी पर बधाई देने के लिए कई अल्पसंख्यक नेता भी उनके घर पहुंचे हैं। जिनमें नवाज शरीफ की पार्टी के अल्पसंख्यक नेता खील दास कोहिस्तनी ने मनीषा रोपेटा को उनके घर जाकर उन्हें कामयाबी के लिए बधाई पेश की। इस मौके पर उन्होंने कहा कि 'मैं कामना करता हूं कि ज्यादा से ज्यादा संख्या में इस देश की बेटियां ऊंचे से ऊंचे पदों पर पहुंचे और अपना नाम रोशन करे।'

पाकिस्तान अखबार का बड़ा दावा- आज UAE में मिल सकते हैं भारत-पाकिस्तान के विदेश मंत्रीपाकिस्तान अखबार का बड़ा दावा- आज UAE में मिल सकते हैं भारत-पाकिस्तान के विदेश मंत्री

English summary
Manisha Ropeta became Pakistan's first minority Hindu female DSP. Manisha Ropeta is the first Hindu girl to have achieved such a high position in the police department.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X