जानिए कौन है न्यूयॉर्क में लोगों पर ट्रक चढ़ाने वाला

Posted By: BBC Hindi
Subscribe to Oneindia Hindi

न्यूयॉर्क में हुए ट्रक हमले के संदिग्ध का नाम अमरीकी मीडिया ने सैफ़ुल्लो साइपोव बताया है.

साइपोव 2010 में उज़बेकिस्तान से अमरीका आए थे और उनके पास अमरीका में रहने के वैध दस्तावेज़ हैं.

बुधवार को हुए हमले में 8 लोगों की मौत हो गई है और 11 घायल हैं.

फ़रवरी 1988 में पैदा हुए ग्रीन कार्ड धारक सैफ़ुल्लो साइपोव ओहायो, फ्लोरिडा और न्यूजर्सी में रह चुके हैं.

अमरीका में रह रहे उज़्बेक मूल के ब्लॉगर और धार्मिक कार्यकर्ता मिराख़मत मुमीनोव ने बीबीसी को बताया है कि साइपोफ़ तीन बच्चों के पिता हैं.

मुमीनोव के मुताबिक अमरीका आने के बाद साइपोव का झुकाव इंटरनेट के ज़रिए कट्टरपंथ की ओर हो गया था.

न्यूयॉर्कः 'मेरे सामने ही ट्रक ने दो लोगों को रौंदा'

न्यूयॉर्क हमलाः अब तक क्या हुआ

ट्रक
Reuters
ट्रक

साइपोव के अमरीका आने के बाद दोनों की मुलाक़ात ओहायो में हुई थी.

मुमीनोव बताते हैं, "वो बहुत ज़्यादा पढ़े लिखे नहीं हैं और अमरीका आने से पहले उन्हें क़ुरान के बारे में भी कोई जानकारी नहीं थी. जब वो यहां थे तो सामान्य व्यक्ति थे."

मुमीनोव कहते हैं कि जब साइपोव को ड्राइवर के रूप में काम नहीं मिला तो वो काफ़ी परेशान हो गए और अवसाद में चले गए. काम न मिलने की वजह से उन्हें गुस्सा भी था.

मुमीनोव बताते हैं, "अपने कट्टरंपथी विचारों की वजह से वो अकसर अन्य उज़्बेक लोगों से बहस करते थे और बाद में फ्लोरिडा चले गए थे."

इसके बाद दोनों का संपर्क टूट गया.

फ्लोरिडा का अपार्टमेंट
Getty Images
फ्लोरिडा का अपार्टमेंट

कैसा था आचरण

साइपोव को बीते साल मिसौरी प्रांत में ट्रैफ़िक नियमों का उल्लंघन करने पर गिरफ़्तार किया गया था.

न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक साइपोव जब अमरीका आए तो उनकी अंग्रेज़ी बहुत अच्छी नहीं थी. वो ट्रक या उबर ड्राइवर के रूप में काम खोज रहे थे.

कई साल पहले उनसे फ्लोरिडा में मुलाक़ात करने वाले कोबिलजोन मतकारोव ने अख़बार को बताया, "जब मैं उन्हें जानता था तो वो बहुत अच्छे इंसान थे. वो अमरीका को पसंद करते थे. वो बहुत ख़ुश लगते थे. वो आतंकवादी नहीं लगते थे, लेकिन मैं उन्हें भीतर से नहीं जानता था."

वॉशिंगटन पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक साइपोफ़ को गोली लगी है और उनकी जान बच जाएगी. पुलिस के पास उनके असली मक़सद तक पहुंचने का मौका है.

रिपोर्टों के मुताबिक उन्हें 'लोन वुल्फ़' हमलावर माना जा रहा है जो स्वयं प्रेरित थे और इस्लामिक स्टेट से जुड़ा कोई व्यक्ति उन्हें दिशा निर्देश नहीं दे रहा था.

न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्र्यू क्योमो ने कहा है कि हमले के पीछे बड़ी साज़िश होने के सबूत अभी नहीं मिले हैं.

अमरीका मीडिया ने पुलिस के हवाले से बताया है कि उनके ट्रक में इस्लामिक स्टेट का हवाला देने वाला एक लिखित नोट मिला है.

कुछ रिपोर्टों में कहा गया है कि हमले के बाद जब वो अपने वाहन से निकले तो 'अल्लाह हू अकबर' का नारा लगा रहे थे।

BBC Hindi
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
manhattan truck attack Know the who is trucker New York
Please Wait while comments are loading...