• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अपनी ही पत्नी की हत्या के आरोप में दोषी पति को कोर्ट ने किया रिहा, वजह जानकर चौंक जाएंगे

|

स्कॉटलैंड। स्कॉटलैंड की क्रिमिनल कोर्ट ने एक हत्या के आरोपी व्यक्ति को रिहा कर दिया। आरोपी ने अक्टूबर 2016 में अपनी पत्नी की तकिए से मुंह दबाकर हत्या कर दी थी। कोर्ट ने आरोपी को यह कहते हुए रिहा कर दिया कि, वह प्यार के हाथों मजबूर था इसलिए उसने यह कदम उठाया। जज ने इस घटना को एक्ट ऑफ लव बताया है। एक साल से अधिक सजा काटने के बाद 25 जनवरी को कोर्ट ने रिहा कर दिया। दरअसल आरोपी ने सजा मिलने के बाद रिहाई की मांग की थी। जिसके बाद इस मामले पर फिर से सुनवाई शुरू हुई थी।

कैंसर से तड़प रही थी पत्नी

कैंसर से तड़प रही थी पत्नी

अक्टूबर 2017 में आयरशायर के ट्रून कस्बे के रहने वाले 67 वर्षीय इयान गॉर्डन ने अपनी 63 वर्षीय पाट्रिसिया की तकिए से मुंह दबाकर हत्या कर दी थी। जिसके अपराध में उन्हें 40 महीने की सजा सुनाई गई थी। दरअसल गॉर्डन की पत्नी पेट्रीसिया पिछले 46 साल से कैंसर जैसी गंभीर बीमारी का सामना कर रही थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गॉर्डन पत्नी को इस तरह दर्द में धीरे-धीरे मरते हुए नहीं देखना चाहते था। इसलिए उसे पत्नी को मारने का मुश्किल कदम उठाना पड़ा।

अपनी पत्नी को प्यार करता था लेकिन वह उसे दर्द में नहीं देख सकता था

अपनी पत्नी को प्यार करता था लेकिन वह उसे दर्द में नहीं देख सकता था

कोर्ट में लॉर्ड ब्रॉडी और लॉर्ड टर्नबुल ने पिछले फैसले को बदलते हुए इयान को रिहा कर दिया और कहा कि, मानव जीवन को लेना हमेशा ही अत्यंत गंभीरता का मामला रहा है। लेकिन यह एक आसाधरण मामला है। जहां पर एक व्यक्ति अपनी पत्नी को प्यार करता था लेकिन वह उसे दर्द में नहीं देख सकता था। इसलिए उसने मृतका की मर्जी से यह कदम मजबूरी में उठाया। इयान ने 28 अप्रैल साल 2016 को अपनी पत्नी को मार दिया। इयान की बेटी गेल व्हाइट ने बताया कि उनकी मां दर्द में चिल्लाती थी, तड़पती थी। वह दर्द कम करने वाली दवाईयां ले रही थीं लेकिन वे सब बेअसर थी।

गॉर्डन का जेल जाना उनके लिए काफी मुश्किल वक्त था

गॉर्डन का जेल जाना उनके लिए काफी मुश्किल वक्त था

गेल ने बताया कि खुद भी उनकी मां हेल्थ प्रोब्लम्स और अस्पताल के डर को झेलना नहीं चाहती थी। मां की मौत के बाद उनके पिता डिप्रेशन और दर्द रहने लगे थे। डिफेंस काउंसिल गॉर्डन जैक्सन ने कोर्ट को बताया कि पेट्रीसिया की मौत और गॉर्डन का जेल जाना उनके लिए काफी मुश्किल वक्त था। उनके लिए यह किसी दोहरी मार की तरह था। साथ ही उन्होंने कहा कि उन्हें समझ नहीं आ रहा था कि गॉर्डन को जेल में क्यों रहना चाहिए था।

इयान ने पत्नी के बिताए थे 43 साल

इयान ने पत्नी के बिताए थे 43 साल

सुनवाई के दौरान कोर्ट ने पूरे मामले को गहराई से समझते हुए पाया कि अथॉरिटी और इयान का परिवार यह मानता है कि गॉर्डन प्यार की वजह से अपनी पत्नी को मारने के लिए तैयार हुआ था। इसके बाद गॉर्डन की बाकी की सजा खारिज करते हुए उसे रिहाई दे दी। इयान ने अपनी पत्नी के साथ 43 सालों का लंबा समय बिताया था। वह उनकी अबतक की जिंदगी साफ-सुथरी रही है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Scotland, Troon pensioner who killed wife in "final act of love" is freed from jail after appeal judges quash sentence
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X