• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

चीन से US कंपनियों को वापस लाने के लिए अमेरिकी कांग्रेस में लाया गया कानून

|

वाशिंगटन। कोरोनावायरस महामारी से अमेरिका में अब तक मारे गए 90,000 से अधिक लोगों की मौत के मद्देनजर मंगलवार को एक प्रभावशाली अमेरिकी लॉमेकर ने चीन से अमेरिकी विनिर्माण इकाइयों को वापसी को प्रोत्साहित करने के लिए कांग्रेंस में एक कानून पेश किया है।

us

कांग्रेसी मार्क ग्रीन द्वारा पेश किए गए 'द ब्रिंग अमेरिकन कंपनी होम एक्ट' में विनिर्माण कंपनियों की अमेरिका वापसी का स्थानांतरण लागत का 100 फीसदी के साथ राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प द्वारा चीनी आयात पर लगाए गए शुल्क को कवर करने की बात कही गई है।

us

क्या कोल्ड वार-2 का कारण बनेगा कोरोना? अमेरिका-चीन व्यापार युद्ध से अंतर्राष्ट्रीय शांति को खतरा

अमेरिकी सांसद ग्रीन ने कहा कि अमेरिका अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए निवेश को आकर्षित करना आवश्यक है, लेकिन अमेरिकी कंपनियों के लिए अपनी मिट्टी में वापसी के लिए स्थानांतरण लागत का भार उठा पाना सबसे बड़ी समस्या है। ग्रीन ने कहा कि वैश्विक आर्थिक अनिश्चितता के समय कई कंपनियों के लिए यह कदम बहुत महंगा और बहुत जोखिम भरा हो सकता है।

us

और बिगड़े अमेरिका-चीन के रिश्‍ते, डोनाल्‍ड ट्रंप बोले-जिनपिंग से नहीं करनी है कोई बात, संबंध तोड़ने पर भी विचार

उन्होंने आगे कहा कि चीन ने स्पष्ट किया है कि वह एक विश्वसनीय साझीदार नहीं है। अमेरिका को फिर से विकसित करने और चीन पर अमेरिका की निर्भरता को कम करने के लिए अवसर के द्वार खोलने जरूरी है और उन्हें अमेरिकी कंपनियों को अपने देश में निवेश करने के लिए प्रोत्साहित करना जरूरी है।

us

चेतावनी के बावजूद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिका में स्कूलों के दोबारा खोलने के लिए बढ़ाया दवाब

लॉमेकर ग्रीन ने 'द ब्रिंग अमेरिकन कंपनी होम एक्ट' के अलावा 'सिक्योर ऑर सिस्टम अगेंस्ट चाइनाज टैक्टिक्स एक्ट' भी कांग्रेस मे पेश किया है, जो महामारी के दौरान चीन के रणनीतिक अधिग्रहण को रोकती है और अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण संवेदनशील कंपनियों की वापसी के लिए प्रोत्साहन की वकालत करती है।

us

विशेषज्ञों ने लॉकडाउन में छूट के लिए अमेरिका को चेताया, वायरस के दोबारा लौटने की चेतावनी दी

कांग्रेसमेन रॉन राइट और मार्क वेसी ने भी चीन की जासूसी और आईपी चोरी से सुरक्षा के लिए अमेरिकी परिवहन के महत्वपूर्ण आधारभूत सरंचना के लिए द्विदलीय हवाई अड्डे के आधारभूत संरचना संसाधन (AIR) सुरक्षा कानून पेश किया है। यह कानून संघीय हवाई अड्डे के सुधार निधियों का उपयोग उन कंपनियों से यात्री बोर्डिंग ब्रिजेज खरीदने के लिए किया जाता है, जिन्होंने आईपी अधिकारों का उल्लंघन किया है और जिनसे संयुक्त राज्य की राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा है।

us

Covid19: फिलहाल अधिकांश अमेरिकी फर्मों का चीन छोड़ने का कोई इरादा नहीं: सर्वे

राइट ने कहा कि महामारी के पहले दिन से कम्युनिस्ट चीन ने COVID-19 पर प्रतिक्रिया देने में लापरवाह रहा है। यही नहीं, चीन बाकी वैश्विक समुदाय के लिए बीमारी की गंभीरता को साझा करने में भी विफल रहा, जिससे हजारों अमेरिकियों की मृत्यु हो गई। राइट ने जोड़ते हुए कहा, हम उन्हें अपने सबसे महत्वपूर्ण प्रणालियों को घुसने देने का जोखिम नहीं उठा सकते हैं।

us

अमेरिकाः जहां महामारी ले चुकी है अब तक 50,000 से अधिक की जान, वहां खुलने जा रही हैं दुकानें!

इस बीच, हाउस चाइना टास्क फोर्स के सदस्य कांग्रेसी जिम बैंक्स और कांग्रेसी डैन क्रैंशव और लांस गुडेन ने माइक पोम्पेओ और स्टीवन मेनुचिन को एक पत्र भेजकर उनसे आग्रह किया है कि वे सात सीपीसी अधिकारियों पर सकल मानव अधिकारों के दुरुपयोग, लापरवाही और शत्रुतापूर्ण व्यवहार के लिए मैग्निट्स्की प्रतिबंध लगाए, जिन्होंने COVID-19 महामारी की गंभीरता को बहुत बढ़ा दिया।

us

कोरोनावायरस पर कथित 'झूठ' पर चीनी पलटवार के बाद चीन और अमेरिका के बीच छिड़ा वर्ड वार

उल्लेखनीय है जॉन्स होपिंग यूनिवर्सिटी के अनुसार पूरी दुनिया में अब तक कोरोनावायरस महामारी से 48 लाख से अधिक संक्रमित हो चुके हैं जबकि 3 लाख से अधिक लोग मारे गए हैं। अमेरिका सबसे प्रभावित राष्ट्रों में से एक है, जहां अब तक 90 हजार से अधिक मौत और 15 लाख से अधिक Covid​​-19 मामलों की पुष्टि हो चुकी है।

ट्रंप ने कहा, किसी को नहीं मालूम था महामारी आ रही है, जबकि जनवरी में ही सलाहकार ने उन्हें चेता दिया था!

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
US lawmaker Green said attracting investment is necessary to revive the US economy, but the biggest problem is for US companies to bear the cost of relocation to return to their soil. Green said the move could be very costly and very risky for many companies in times of global economic uncertainty.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more