• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

जनमत संग्रह के बाद रूस का यूक्रेन के 4 शहरों पर जीता का दावा, जेलेंस्की ने कहा, सब 'तमाशा' है!

यूक्रेन और उसके सहयोगियों ने तथाकथित जनमत संग्रह की निंदा करते हुए कहा है कि पश्चिम कभी भी मतपत्रों के परिणामों को मान्यता नहीं देगा।
Google Oneindia News

कीव/मास्को, 28 सितंबर : पश्चिम के भारी विरोध के बीच यूक्रेन के कब्जे वाले क्षेत्रों में जनमत संग्रह समाप्त हो गए। पांच दिनों की वोटिंग के बाद चार यूक्रेन के शहरों के रूस के पक्ष में मतदान करने का दावा किया है। इनमें डोनेटस्क, लुहान्स्क, जापोरिजिया और खेरसॉन शामिल हैं। ये वो इलाके हैं जो कथित रूप से रूस का हिस्सा बनना चाहते हैं। वहीं यूक्रेन और उसके सहयोगियों ने तथाकथित जनमत संग्रह की निंदा करते हुए कहा है कि पश्चिम कभी भी मतपत्रों के परिणामों को मान्यता नहीं देगा।

रूस का यूक्रेन के 4 शहरों पर जीत का दावा

रूस का यूक्रेन के 4 शहरों पर जीत का दावा

वैश्विक आक्रोश के बीच रूसी नियंत्रण के तहत चार यूक्रेनी क्षेत्रों में क्रेमलिन-स्थापित अधिकारियों ने मंगलवार को एनेक्सेशन वोटों में जीत का दावा किया। बता दें कि, मॉस्को ने चेतावनी दी थी कि इन क्षेत्रों की रक्षा के लिए परमाणु हथियारों का वह उपयोग कर सकता है। वहीं दूसरी तरफ यूक्रेन और उसके सहयोगियो ने जनमत संग्रह की कड़ी निंदा करते हिए कहा कि पश्चिम देश जनमत संग्रह के मतपत्रों के परिणामों को कभी भी मान्यता नहीं देगा। उन्होंने रूस पर सात महीने के आक्रमण का दांव चलकर नाटकीय रूप से यूक्रेनी क्षेत्रों को प्रभावित करने का आरोप लगाया।

रूस के पक्ष में मतदान हुआ, अधिकारियों का दावा

रूस के पक्ष में मतदान हुआ, अधिकारियों का दावा

वहीं, जापोरिज्जिया में रूसी समर्थक अधिकारियों का कहना है कि, करीब 93.11 प्रतिशत मतदाताओं ने मंगलवार शाम को प्रारंभिक परिणामों के अनुसार रूस में शामिल होने का समर्थन किया। दूसरी तरफ दक्षिणी यूक्रेन में मास्को के कब्जे वाले एक अन्य क्षेत्र खेरसॉन में, अधिकारियों ने बताया कि सभी मतपत्रों की गिनती के बाद 87.05 फीसदी से अधिक मतदाताओं ने रूस के इस कदम की सराहना की है। रूस समर्थक अलगाववादियों के नियंत्रण वाले पूर्वी लुहान्सक क्षेत्र में, स्थानीय अधिकारियों ने कहा कि यहां 98.42 प्रतिशत से अधिक लोगों ने क्षेत्र को रूस में विलय करने के पक्ष में मतदान दिया।

रूस का ध्यान केंद्रित है

रूस का ध्यान केंद्रित है

वहीं, मॉस्को के कब्जे वाले डोनेट्स्क क्षेत्र के अधिकारियों ने भी जीत का दावा किया है। स्थानीय चुनाव निकाय का कहना है कि, यहां 99.23 प्रतिशत वोट एनेक्सेशन के लिए थे। बता दें कि, रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने टेलीविजन पर अधिकारियों के साथ एक बैठक में कहा कि उन क्षेत्रों में लोगों को बचाना जहां जनमत संग्रह हो रहा है, हमारे पूरे समाज और पूरे देश का ध्यान केंद्रित है।

यह सब रूस का तमाशा है, जेलेंस्की ने कहा

यह सब रूस का तमाशा है, जेलेंस्की ने कहा

रूसी अधिकारियों के कथित रूप से स्वघोषित परिणामों के ऐलान के बाद यूक्रेनी राष्ट्रपति वलोदिमीर जेलेंस्की ने UNSCमें अपना संबोधन भी दिया, जहां उन्होंने कहा कि सबमशीन गन की नोक पर रूसी अधिकारियों ने मतदान कराए हैं। उन्होंने रूसी जनमत संग्रह को तमाशा करार दिया। ज़ेलेंस्की ने कसम खाई कि कीव मास्को के कब्जे वाले क्षेत्रों में अपने नागरिकों की रक्षा करेगा। उन्होंने कहा कि वोटों का मतलब है कि कीव मास्को के साथ बातचीत नहीं करेगा। साथ ही जेलेंस्की ने यूएनएससी से रूस पर दबाव बनाने की अपील की।

पुतिन से बात करने के लिए कुछ भी नहीं, जेलेंस्की

पुतिन से बात करने के लिए कुछ भी नहीं, जेलेंस्की

जेलेंस्की ने कहा, 'वर्तमान रूसी राष्ट्रपति पुतिन के साथ बात करने के लिए कुछ भी नहीं है।' बता दें कि,इस महीने रूसी सेना को यूक्रेन के पूर्व और दक्षिण में गंभीर झटका लगा है। इसी को लेकर पर्यवेक्षकों का कहना है कि पुतिन को वहां मॉस्को के अधिकार को मजबूत करने के लिए वोट के साथ आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया है। पुतिन ने कहा कि रूस अपने क्षेत्र की रक्षा के लिए किसी भी और सभी उपलब्ध साधनों का उपयोग करेगा, जिसका अर्थ है कि कब्जे के बाद, मास्को क्षेत्र को फिर से लेने के यूक्रेनी प्रयासों को खारिज करने के लिए रणनीतिक परमाणु हथियार तैनात कर सकता है।

बहरे केवल खुद की सुनते हैं, रूस ने कहा

बहरे केवल खुद की सुनते हैं, रूस ने कहा

वहीं, पुतिन के सहयोगी और रूस की सुरक्षा परिषद के उपाध्यक्ष दिमित्री मेदवेदेव ने मीडिया को संबोधित करते हुए अमेरिका, यूक्रेन और पश्चिम पर निशाना साधते हुए कहा, वे बहरे जो केवल खुद की सुनते हैं, सुन लें अगर आवश्यकता पड़ी तो रूस को परमाणु हथियारों का उपयोग करने का अधिकार है। नाटो प्रमुख जेन्स स्टोल्टेनबर्ग ने कहा कि "रूस को पता होना चाहिए कि परमाणु युद्ध नहीं जीता जा सकता है और इसे कभी नहीं लड़ा जाना चाहिए।

(Photo Credit : Twitter & PTI)

ये भी पढ़ें :रूस ने जापानी दूत को जासूसी के आरोप में पकड़ा, आंखों पर पट्टी बांधकर पूछे सवाल, बेहद नाराज हुआ जापानये भी पढ़ें :रूस ने जापानी दूत को जासूसी के आरोप में पकड़ा, आंखों पर पट्टी बांधकर पूछे सवाल, बेहद नाराज हुआ जापान

Comments
English summary
Kremlin-installed authorities in four Ukrainian regions under Russian control claimed victory Tuesday in annexation votes, drawing global outrage, as Moscow warned it could use nuclear weapons to defend the territories.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X