• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

किम जोंग उन ने उत्तर कोरिया में कोरोना नियंत्रण की सफलता की तारीफ और अधिक अलर्ट रहने की दी सलाह

|

नई दिल्ली। उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन ने शुक्रवार कोरोनोवायरस को रोकने में अपने देश उत्‍तर कोरिया की "शानदार सफलता" के लिए जमकर तारीफ की। इसके साथ ही उन्‍होंने कोरोना वायरस क महामारी को लेकर अधिकारियों से अधिक सावधान रहने के लिए आगाह किया हैं।

kim

12 अगस्‍त को रूस से आ रही है पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन, जानिए इसके बारे में सबकुछ

बता दें जहां पूरी दुनिया में अब तक एक करोड़ से अधिक कोरोना के मामले हैं वहीं उत्‍तर कोरिया का दावा हैं कि उनके यहां कोविड-19 का एक भी मामला नहीं है। हालांकि विशेषज्ञ यह मानने को तैयार नहीं देश में अब एक भी मामला नहीं है।

kim

देश में लगाए गए लॉकडाउन के कारण देश की अर्थव्यवस्था पहले ही बुरे दौर से गुजर रही है। उत्तर-पूर्व कोरिया सीमा बंद करने के छह महीने बाद, वायरस के प्रभाव पर चर्चा करते हुए, गुरुवार को एक वर्कर्स पार्टी पोलित ब्यूरो की बैठक में धर्मनिरपेक्ष अधिनायकवादी राज्य के प्रमुख ने बात की। केसीएनए ने बताया कि प्रयासों की समीक्षा करने के बाद, किम ने कहा कि हमने "घातक वायरस के संक्रमण को पूरी तरह से रोका है" और "दुनिया भर में स्वास्थ्य संकट के बावजूद स्थिर एंटी-महामारी की स्थिति को बनाए रखा है"।

corona

केसीएनए ने जारी रखा "पार्टी केंद्रीय समिति के दूरदर्शी नेतृत्व द्वारा हासिल की गई शानदार सफलता और पार्टी केंद्रीय समिति के आदेशों पर चलने वाले सभी लोगों द्वारा दिखाई गई स्वैच्छिक भावना की तारीफ की।

कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

साथ ही उन्होंने विशेष रूप से "पड़ोसी देशों" में कोरोना महामारी के मद्देनजर उत्‍तरी कोरिया के अधिकारियों को अधिकतम सतर्कता बरतने की सलाह दी। "उन्होंने बार-बार चेतावनी दी कि महामारी विरोधी उपायों की जल्दबाजी से अकल्पनीय और अकाट्य संकट पैदा होगा।

corona

उत्‍तर कोरिया ने देश की सीमाओं और स्कूलों को बंद करने और इसके हजारों लोगों को अलग-थलग करने सहित सख्त नियम लागू किए हैं। विश्लेषकों का कहना है कि उत्तर में वायरस से होने वाले संक्रमणों से बचने की संभावना नहीं है। पिछले महीने संयुक्त राष्ट्र के अधिकार विशेषज्ञ ने चेतावनी दी कि खाद्य असुरक्षा गहरा रही है और उत्तर कोरिया के किसी भी प्रकोप को रोकने के प्रयासों के परिणामस्वरूप कुछ लोग "भूखे मर रहे हैं", विशेषकर सीमाओं को बंद कर रहे हैं।

कोरोनोवायरस संकट से पहले, उत्तर कोरिया में 40 प्रतिशत से अधिक लोगों को पहले ही खाद्य असुरक्षित माना गया था, जिसमें कई कुपोषण के शिकार थे।

यूनिलीवर ने फेयर एंड लवली क्रीम का नाम बदलकर किया ग्‍लो एंड लवली, जानें कारण

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Kim praises Corona control success in North Korea and advises to be more alert
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X