• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अमेरिकी-भारतीय समुदाय को राष्ट्रपति बाइडेन ने लिखी चिट्ठी, कहा, USA में दुनिया का नेतृत्व करने की क्षमता

|
Google Oneindia News

वॉशिंगटन, मई 17: अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा है कि, 21 वीं सदी में दुनिया का नेतृत्व करने के लिए अमेरिका किसी भी अन्य देश की तुलना में बेहतर स्थिति में है। अमेरिका में भारतीय समुदायों के एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति जो बाइडेन ने एक चिट्ठी लिखी है, जिसमें उन्होंने कहा है कि, अमेरिकी इसे अधिक न्यायपूर्ण, समृद्ध और सुरक्षित राष्ट्र बनाने के लिए एक सामान्य आधार खोजने के लिए मिलकर काम करेंगे। आपको बता दें, कि अमेरिका में इस वक्त ऐशियाई विरासत महीना मनाया जा रहा है और भारतीय समुदायों ने बोस्टन में एक बड़े कार्यक्रम का आयोजन किया है।

भारतीय समुदाय के कार्यक्रम में बोले बाइडेन

भारतीय समुदाय के कार्यक्रम में बोले बाइडेन

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने यह बात बोस्टन स्थित भारतीय-अमेरिकी सामाजिक कार्यकर्ता अभिषेक सिंह, फेडरेशन ऑफ इंडियन एसोसिएशन (एफआईए), न्यू इंग्लैंड के अध्यक्ष को लिखे एक पत्र में कही है। अपनी चिट्टी में बाइडेन ने कहा कि, "हमारा देश कई चुनौतियों का सामना कर रहा है, और जिस रास्ते पर हम एक साथ यात्रा करेंगे, वह हमारे इतिहास में सबसे कठिन रास्तों में से एक होगी। इन कठिन समय के बावजूद, मैं अमेरिका के भविष्य के लिए इससे अधिक आशावादी कभी नहीं रहा'। राष्ट्रपति बाइडेन ने अपनी चिट्ठी में लिखा है कि, 'मेरा मानना है कि हम 21 वीं सदी में दुनिया का नेतृत्व करने के लिए दुनिया के किसी भी बाकी देशो के मुकाबले बेहतर स्थिति में हैं'।

‘अमेरिका को न्यायपूर्ण देश बनाना है लक्ष्य’

‘अमेरिका को न्यायपूर्ण देश बनाना है लक्ष्य’

अभिषेक सिंह को लिखे अपने पत्र में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने सभी अमेरिकियों के लिए राष्ट्रपति बनने का संकल्प लिया। उन्होंने लिखा है कि, "मुझे विश्वास है कि हम अमेरिका को अधिक न्यायपूर्ण, समृद्ध और सुरक्षित राष्ट्र बनाने के लिए साझा आधार खोजने के लिए मिलकर काम कर सकते हैं'। आपको बता दें कि, अमेरिका में भारतीय समुदाय को सबसे ज्यादा ताकतवर समुदाय समझा जाता है और अमेरिका में रहने वाले ज्यादातर भारतीय जो बाइडेन की पार्टी डेमोक्रेटिक पार्टी को ही वोट करते हैं। वहीं, अभिषेक सिंह ने पिछले हफ्ते न्यूयॉर्क और न्यू जर्सी में एफआईए के साथ यूएस कैपिटल में "आजादी का अमृत महोत्सव" के सामुदायिक उत्सव की शुरुआत की है, जिसमें करीब दो दर्जन से ज्याजा अमेरिकी सांसदों ने भाग लिया है। इस कार्यक्रम में सैकड़ों भारतीय-अमेरिकियों और राज्यों के कम से कम 21 अमेरिकी सांसदों ने भाग लिया है।

कई अमेरिकी-भारतीय नेता रहे मौजूद

कई अमेरिकी-भारतीय नेता रहे मौजूद

इस कार्यक्रम में कई भारतीय अमेरिकी नेता पहुंच रहे हैं, जिनमें सीनेटर कोरी बुकर, और राजा कृष्णमूर्ति, फ्रैंक पालोन, डेविड सिसिलीन, शीला जैक्सन ली, मिजी शेरिल, टॉम मालिनोवस्की, अबीगैल स्पैनबर्गर, विन्सेन्ट गोंजालेज, सूसी ली, हकीम सेको जेफ्रीज, ग्रेस मेंग सहित कई अन्य सांसद पहुंचे थे। अमेरिकी सांसद डेबरा रॉस, एड्रियानो एस्पेल, जिम मैकगवर्न, मैट कार्टराईट और जिम लैंगविन भी इस कार्यक्रम में पहुंची थीं। कई अमेरिकी कांग्रेस ने एफआईए को बधाई देते हुए एक प्रशस्ति पत्र जारी किया है। सीनेटर जैक रीड और जीन शाहीन ने भारत का अभिनंदन करते हुए और संयुक्त राज्य अमेरिका में भारतीय-अमेरिकी समुदाय द्वारा किए गए योगदान की प्रशंसा करते हुए विशेष संदेश भेजे हैं।

आजादी का अमृत महोत्सव

आजादी का अमृत महोत्सव

एफआईए के अध्यक्ष अंकुर वैद्य ने कहा कि, "एफआईए इस साल भारत के स्वतंत्रता दिवस के आसपास न्यूयॉर्क शहर के टाइम्स स्क्वायर में झंडा फहराने के साथ 'आजादी का अमृत महोत्सव' के भव्य समापन की योजना बना रहा है।" वहीं, अभिषेक सिंह ने कहा कि, इस तरह का "ऐतिहासिक उत्सव" भारत-अमेरिका संबंधों को बेहतर बनाने की यात्रा को आगे ले जाएगा और सभी के लिए गर्व और सम्मान की एक नई शुरुआत होगी।

राजनीतिक अस्थिरता, दिवालिएयन का खतरा, भारत से अलग होकर पाकिस्तान एक फेल राष्ट्र बन गया?राजनीतिक अस्थिरता, दिवालिएयन का खतरा, भारत से अलग होकर पाकिस्तान एक फेल राष्ट्र बन गया?

Comments
English summary
US President Joe Biden has written a letter addressing the Indian community living in America
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X