• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कोरोना लैब में बना या फिर प्राकृतिक, कैसे फैला वायरस? अमेरिका ने खुफिया एजेंसियों को दिए जांच के आदेश

|
Google Oneindia News

वाशिंगटन,27 मई: कोरोना वायरस की उत्पत्ति को लेकर अमेरिका एक बार फिर सख्त है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने बुधवार (26 मई) को अमेरिकी खुफिया एजेंसियों को कोरोनो वायरस की उत्पत्ति की जांच करने का आदेश दिया है। अमेरिका की खुफिया एजेंसी जांच के दौरान पता लगाएगी कि ये कोरोना वायरस लैब (प्रयोगशाला) से लीक हो गया था या फिर प्राकृतिक था। जांच में देखा जाएगा कि कोरोना वायरस लैब में तैयार किया गया था या फिर जानवर द्वारा मनुष्यों में फैला है। अपने बयान में जो बाइडेन ने स्पष्ट किया कि कोरोना वायरस की उत्पत्ति कैसे हुई, इस पर एजेंसियां आम सहमति तक नहीं पहुंची थीं। लेकिन उन्होंने उन्हें "अपने प्रयासों को दोगुना करने" और 90 दिनों में जांच के रिपोर्ट मांगे हैं। हाल ही में कोरोना वायरस पर व्हाइट वरिष्ठ सलाहकार ने कहा था कि दुनिया को कोरोना वायरस की जड़ का पता लगाने की जरूरत है।

coronavirus

न्यूयॉर्क टाइम्स ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि पिछले कई दिनों में, व्हाइट हाउस ने संयुक्त राज्य अमेरिका के नेतृत्व में एक जांच की आवश्यकता को पर जोर देना कम कर दिया था। अमेरिका ने कहा था कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ( डब्लूएचओ) एक अंतरराष्ट्रीय जांच के लिए उचित स्थान है। अब ऐसे में जो बाइडेन का बयान एक अचानक बदलाव आया है और उन्होंने कोरोना की उत्पति को लेकर खुफिया एजेंसियों को जांच के आदेश दे दिए हैं। हालांकि अधिकारियों ने बदलाव के बारे के कोई भी जानकारी देने से इनकार कर दिया है।

वायरस कैसे फैला? इस मामले पर शीर्ष स्वास्थ्य अधिकारियों ने इस सप्ताह अधिक कठोर जांच के लिए अपील की थी। विशेषज्ञों की एक अंतरराष्ट्रीय टीम द्वारा पहले की रिपोर्ट को खारिज करने के लिए बढ़ती आलोचना का सामना करना पड़ा। ऐसी संभावना है कि कोरोना वायरस गलती से चीनी प्रयोगशाला से लीक हुआ है।

ये भी पढ़ें- राष्ट्रपति जो बाइडेन ने एक और भारतीय को सौंपी बड़ी जिम्मेदारी, अरुण वेंकटरमन बने डिपार्टमेंट ऑफ कॉमर्स के DGये भी पढ़ें- राष्ट्रपति जो बाइडेन ने एक और भारतीय को सौंपी बड़ी जिम्मेदारी, अरुण वेंकटरमन बने डिपार्टमेंट ऑफ कॉमर्स के DG

बता दें कि 2021 की शुरुआत में चीन पहुंची डब्लूएचओ ने अपनी रिपोर्ट में साफ-साफ कहा था कि कोरोना वायरस के लैब से निकलने की आशंका ना के बराबर है। हालांकि चीन ने डब्लूएचओ ने की टीम को रॉ डेटा देने से भी इनकार कर दिया था।

चीन पर शुरुआत से ही आरोप लग रहे हैं कि कोरोना महामारी की शुरुआत के बाद महीनों तक अंतरराष्ट्रीय जांच में देरी की। चीन के वुहान शहर में कोरोना का पहला मामला सामने आया था। चीन पर ये भी आरोप है कि उसने लैब की जांच से पहले ही वर्चुअली लैब की इस तरह सफाई की ताकी किसी के हाथ कोई सबूत ना लगे।

English summary
joe Biden calls US intelligence agencies to investigative origins of coronavirus leaked from lab or transmitted to humans by an animal
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X