• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

रूस को अब नहीं मिलेगा केमिकल हथियार बनाने वाला सामान, जापान ने लगाया प्रतिबंध

मात्सुनो ने एक मीडिया ब्रीफिंग में यह भी कहा, 'जापान यूक्रेन पर रूस के आक्रमण के दौरान इस्तेमाल किए गए परमाणु हथियारों की संभावना के बारे में चिंतित है।'
Google Oneindia News

टोक्यो, 26 सितंबर : रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (vladmir putin) ने कहा है कि वो सीमा की रक्षा के लिए परमाणु हथियारों के इस्तेमाल के लिए तैयार हैं। इसको देखते हुए जापान ने मास्को के खिलाफ अतिरिक्त प्रतिबंध में रूस को रासायनिक हथियारों से संबंधित सामानों के निर्यात पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है। जापान के मुख्य सचिव हिरोकाजू मात्सुनो ने कहा रूस के यूक्रेन पर संभावित परमाणु हमले के खतरों को देखते हुए जापान चिंतित है और वह रूस पर इस तरह के प्रतिबंध लगाने जा रहा है। (Japan to ban exports of chemical weapons related goods to Russia invasion of Ukraine)

पुतिन की धमकी से चिंतित जापान

पुतिन की धमकी से चिंतित जापान

पुतिन की धमकी के बाद रूस के परमाणु हथियारों के इस्तेमाल की आशंका बढ़ गई है। जापान के मुख्य कैबिनेट सचिव हिरोकाजू मात्सुनो ने कहा कि जापान ने यूक्रेन पर अपने आक्रमण को लेकर मास्को के खिलाफ अतिरिक्त प्रतिबंध में रूस को रासायनिक हथियारों से संबंधित सामानों के निर्यात पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है। जापान रूस के परमाणु हथियारों के संभावित उपयोग के बारे में गहराई से चिंतित है।

रूस कर सकता है परमाणु हमला

रूस कर सकता है परमाणु हमला

सोमवार की कैबिनेट बैठक के बाद जारी एक सरकारी बयान के अनुसार, जापान ने मौजूदा निर्यात प्रतिबंधों के लक्ष्य के रूप में विज्ञान प्रयोगशालाओं जैसे 21 रूसी संगठनों को भी जोड़ा, जिसने पिछले सप्ताह सात बैठक के समूह में विदेश मंत्री द्वारा घोषित नए अनुमोदन उपायों को औपचारिक रूप से मंजूरी दी।

रूस पर प्रतिबंध लगाने के लिए काम करता रहेगा जापान

रूस पर प्रतिबंध लगाने के लिए काम करता रहेगा जापान

मात्सुनो ने एक मीडिया ब्रीफिंग में यह भी कहा, "जापान यूक्रेन पर रूस के आक्रमण के दौरान इस्तेमाल किए गए परमाणु हथियारों की संभावना के बारे में चिंतित है। जापान ने कहा कि यूक्रेन का समर्थन करने और रूस पर प्रतिबंध लगाने के लिए अंतरराष्ट्रीय समूह के साथ वह काम करना जारी रखेगा।

पुतिन के संबोधन से दुनिया चिंतित

पुतिन के संबोधन से दुनिया चिंतित

पुतिन ने 21 सितंबर को राष्ट्र के नाम जारी संदेश में 3 लाख सैनिकों की लामबंदी का आदेश जारी किया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रूस के पास करीब 20-25 लाख रिजर्व सैनिक हैं। हालांकि, रूस का दावा है कि उसके पास 2.5 करोड़ लोगों की रिजर्व फोर्स है। पुतिन का ये आदेश ऐसे समय में आया है, जब हाल के दिनों में जंग से रूसी सेना को भारी नुकसान हुआ है। पुतिन ने इस दौरान परमाणु हमलों की धमकी दी है। इसी को लेकर जापान रूस पर प्रतिबंध लगाने की बात कर रहा है।

ये भी पढ़ें :'किसी को मूर्ख मत समझिए', पाकिस्तान को F-16 पैकेज देने पर जयशंकर ने अमेरिका को लगाई लताड़ये भी पढ़ें :'किसी को मूर्ख मत समझिए', पाकिस्तान को F-16 पैकेज देने पर जयशंकर ने अमेरिका को लगाई लताड़

Comments
English summary
Japan has decided to ban exports of chemical weapons-related goods to Russia in an additional sanction against Moscow over its invasion of Ukraine, and is "deeply concerned" about the possible use of nuclear weapons, Chief Cabinet Secretary Hirokazu Matsuno said on Monday.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X