• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

स्कूल में छात्राओं के अंडरगारमेंट्स चेक करने पर अब इस देश ने लगाई रोक, काफी हो रही थी आलोचना

|

टोक्यो: कुछ देशों की परंपरा इतनी अजीब होती है कि उनकी आलोचनाओं के लिए शब्द कम पड़ जाते हैं और जापान की एक परंपरा का भी अब अंत कर दिया है। वो भी सालों की मांग और लगातार हो रही आलोचनाओं के बाद जाकर। जापान ने अब स्कूल जाने वाली लड़कियों के अंडरगारमेंट्स चेक करने के नियम को खत्म करने का फैसला लिया है। यानि, अब जापान में स्कूली छात्राओं के अंडरगारमेंट्स चेक नहीं किए जाएंगे।

बेहद अजीब परंपरा

बेहद अजीब परंपरा

जापान की इस परंपरा की लंबे अर्से से आलोचना की जा रही थी, जिसे अब जापानी प्रशासन ने खत्म करने का फैसला किया है। जापान के सागा प्रांत में सागा प्रांत बोर्ड ऑफ एजुकेशन ने कहा है कि जापान के 51 मिडिल और हाईस्कूलों में स्कूल जाने वाली लड़कियों के अंडरवियर चेक नहीं किए जाएंगे। दरअसल, पता चला था कि जापान के 14 स्कूलों में स्कूल जाने वाली लड़कियों के लिए सफेद अंडरवियर पहनने का नियम था और नियमों की सख्ती से पालन करवाने के लिए हर दिन स्कूल में टीचर लड़कियों की अंडरवियर चेक किया करती थीं।

स्कूल में लड़कियों का अंडरवियर चेक

स्कूल में लड़कियों का अंडरवियर चेक

रिपोर्ट के मुताबिक कई पब्लिक स्कूलों में छात्राओं ने किस कलर का अंडरवियर पहना है उसे चेक किया जाता था। जापान में बकायदा स्कूलों के लिए ये नियम था और नियम के मुताबिक स्कूल टीचरों को स्कूल आने वाली लड़कियों ने सफेद रंग का अंडरवियर पहना है या नहीं, उसे चेक करना पड़ता था, जो लड़कियों के लिए बेहद अपमानजनक था। अगर कोई छात्रा नियम का उल्लंघन करती हुई पकड़ी जाती थी, तो फिर उसके लिए सजा का भी प्रावधान था। स्कूलों के इस नियम को लेकर कई पैरेंट्स ने जमकर आपत्ति जताऊ थी, जिसके बाद इस विवादित नियम को खत्म करने का फैसला लिया गया है।

न्यूज ऑफ जापान की रिपोर्ट

न्यूज ऑफ जापान की रिपोर्ट

न्यूज ऑफ जापान की रिपोर्ट के मुताबिक जापान में अप्रैल के दूसरे हफ्ते से इस नियम को खत्म करने का फैसला लिया गया है। इसके अलावा भी स्कूल में छात्रों के जुड़ाबों से जुड़े रंग को लेकर भी नियम खत्म कर दिया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले साळ जापान के फुकोका शहर में की गई स्टडी में पाया गया था कि 80 प्रतिशत से ज्यादा स्कूलों में छात्राओं के अंडरवियर जांचने के नियम हैं और नियम का बयाकदा सख्ती से पालन किया जाता था।

नियम तोड़ने पर सजा

नियम तोड़ने पर सजा

न्यूज ऑफ जापान की इस रिपोर्ट में ये भी खुलासा हुआ है कि अगर स्टूडेंट्स ने व्हाइट अंडरवियर नहीं पहने हैं तो बकायदा इसके लिए स्कूलों की तरफ से बेहद अपमानजनक सजा दिया जाता था। रिपोर्ट के मुताबिक, नियम तोड़ने वाले स्टूटेंड्स को अंडरवियर उतारने के लिए कहा जाता था और उनके ग्रेड्स खराब कर दिए जाते थे। स्कूलों के इस नियम की आलोचना करने वालों का कहना था कि ये प्राइवेसी और बच्चों के मानवाधिकरों का सरासर उल्लंघन है। रिपोर्ट के मुताबिक, जापान में स्कूली बच्चों के लिए बेहद सख्त नियम हैं। अगर कोई बच्चा स्कूल से लौटते वक्त कुछ शॉपिंग करते हुए पाया जाता है, तो उसके लिए भी उसे सजा दी जाती है।

प्रेग्नेंसी के 3 हफ्ते बाद फिर प्रेग्नेंट हुई महिला, जानिए 'भाग्यशाली' महिला की 'आश्चर्यजनक' कहानी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
the rule of checking the schoolgirl's underwear has been abolished in Japan. This rule made for schoolgirls was greatly criticized.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X