• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Surgical Strike: ये ‘नया पाकिस्तान’ है, इसे घर में घुसकर पीटा जाता है, अब ईरान ने घर में घुसकर मारा

|
Google Oneindia News

Surgical Strike in Pakistan: तेहरान: पाकिस्तान (Pakistan) की बेबसी का आलम देखिए, कोई भी देश आता है और उसे पीटकर चला जाता है और पाकिस्तान को पता तक नहीं चलता है। भारत (Indian) दो बार पाकिस्तान में सर्जिकल स्ट्राइक (Surgical Strike) कर चुका है। और इस बार पाकिस्तान में आतंकियों को निशाना बनाया है ईरान (Iran) ने। भारत के सर्जिकल स्ट्राइक में सैकड़ों पाकिस्तानी आतंकी मारे जा चुके हैं तो ईरान ने पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक कर आतंकी संगठन जैश-उल-अदल के कब्जे से ईरानी सैनिकों को छुड़ा लिया है।

    Iran का Pakistan में Surgical Strike का दावा, छुड़ा ले गए अपने सैनिक | वनइंडिया हिंदी
    IMRAN KHAN

    पाकिस्तान में एक और सर्जिकल स्ट्राइक

    ईरान ने दावा किया है कि उसकी सबसे ज्यादा प्रशिक्षित रिवाल्यूशनरी गार्ड ने पाकिस्तान में जाकर वहां मौजूद आतंकी ठिकाने पर हमला किया और आतंकियों के कब्जे से 2 ईरानी सैनिकों को रिहा करवा लिया है। दरअसल, पाकिस्तानी आतंकी लगातार ईरान पर हमले करते रहते हैं, जिसे लेकर ईरान में भारी गुस्सा है। बताया जा रहा है कि इसी गुस्से की वजह से ईरान ने पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक किया है।

    ईरान की फार्स न्यूज एजेंसी के मुताबिक, करीब ढाई साल से पाकिस्तानी आतंकियों ने ईरान के दो सैनिकों को बंदी बनाकर रखा था। पाकिस्तान में मौजूद आतंकी संगठन जैश-उल-अदल के कब्जे में दो ईरानी सैनिक थे। जिसके ठिकाने पर ईरान ने हमला किया है। इस आतंकी संगठन ने दक्षिण-पश्चिम पाकिस्तान में ईरानी सीमा के पास अपना ठिकाना बना रखा था। ये सैनिक 2018 में किडनैप गए गए 12 सैनिकों में शामिल थे। अनादोलू एजेंसी के मुताबिक, पाकिस्तान के भीतर खुफिया जानकारी के आधार पर इस ऑपरेशन को अंजाम दिया गया।''

    TERRORIST

    जैश-उल-अदल ने किया था ईरान पर हमला

    ईरानी फॉर्स न्यूज एजेंसी के मुताबिक, 2019 में ईरानी सेना पर हमला किया गया था जिसकी जिम्मेदारी जैश उल अदल ने ली थी। बताया जाता है कि 2018 में जैश उल अदल ने ईरानी सेना पर हमला कर 12 गार्ड्स का अपहरण कर लिया था। इन्हें बलूचिस्तान प्रांत में रखा गया था। इसके बाद, दोनों देशों के सैन्य अधिकारियों ने एक जॉइंट कमिटी का गठन किया था। 12 में से 5 सैनिकों को नवंबर 2018 में रिहा करा लिया गया था। इसके बाद 21 मार्च 2019 को पाकिस्तानी सेना ने 4 सैनिकों को मुक्त कराया था। जैश उल-अदल या जैश अल-अदल एक सलाफी जिहादी आतंकी संगठन है जो मुख्यतौर पर दक्षिणी-पूर्वी ईरान में सक्रिय है। यह आतंकवादी संगठन ईरान में नागरिक और सैन्य ठिकानों पर कई हमले कर चुका है।

    पाकिस्तान पर भारत के दो सर्जिकल स्ट्राइक

    आपको बता दें कि भारत भी पाकिस्तान पर दो सर्जिकल स्ट्राइक कर चुका है। जिनमें सैकड़ों पाकिस्तानी आतंकवादी मारे गये थे। भारत ने पहला सर्जिकल स्ट्राइक उरी हमले का बदला लेने के लिए किया था। वहीं, भारत ने दूसरी बार एयरस्ट्राइक किया था। जिसमें पाकिस्तान स्थिति बालाकोट में जाकर भारत ने एयर स्ट्राइक किया था। इसमें 300 से ज्यादा पाकिस्तानी आतंकी मारे गये थे। इससे पहले अमेरिका ने पहली बार पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक कर अलकायदा के मोस्ट वांटेड आतंकवादी ओसामा बिन लादेन को मार गिराया था। अमेरिका के सर्जिकल स्ट्राइस के घंटों बाद जाकर पाकिस्तान को पता चला कि उसकी जमीन पर सर्जिकल स्ट्राइक किया गया है। यानि, पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी और उसकी सेना कैसी है, इसका अंदाजा आप इसी से लगा सकते हैं कि कोई भी देश जब चाहे पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक कर देता है और पाकिस्तान को पता भी नहीं चलता है।

    भारत-अमेरिका से टेंशन के बीच चीन का शक्ति प्रदर्शन, एंटी बैलिस्टिक मिसाइल का किया परीक्षणभारत-अमेरिका से टेंशन के बीच चीन का शक्ति प्रदर्शन, एंटी बैलिस्टिक मिसाइल का किया परीक्षण

    English summary
    Iran has become the third country in the world to enter Pakistan and have a surgical strike. Earlier, India and the United States had carried out surgical strikes in Pakistan.
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X