• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पूरे चंद्रमा पर चीन की नजर, भारत के करीबी दोस्त से मिलाया हाथ, जल्द वहां बनाएगा प्रयोगशाला

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 19 जून: अमेरिका और रूस के बीच रिश्तों में कड़वाहट बढ़ती ही जा रही है। जिसका असर पृथ्वी के बाहर यानी अंतरिक्ष में भी साफ देखने को मिल रहा है। हाल ही में रूस ने कहा था कि वो 2025 तक अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (ISS) से हट जाएगा। इसके साथ ही उसने 2030 तक ऑरबिट में फ्लोटिंग प्रयोगशाला लॉन्च करने का भी ऐलान कर दिया है। वहीं दूसरी ओर चीन भी पूरे चंद्रमा पर नजर गड़ाए हुए है। जिस वजह से उसने भारत के करीबी दोस्त रूस के साथ हाथ मिला लिया।

स्थापित करेगा ILRS

स्थापित करेगा ILRS

ताज रिपोर्ट्स के मुताबिक रूस और चीन ने चंद्रमा मिशन के लिए हाथ मिलाया है। जिसके तहत वो एक ज्वाइंट इंटरनेशनल लूनर रिसर्च स्टेशन (ILRS) बनाएंगे। ये एक तरह की प्रयोगशाला होगी, जो चंद्रमा पर काम करेगी। दोनों देश अब चंद्रमा की सतह पर दीर्घकालिक, स्वायत्त और व्यापक वैज्ञानिक प्रयोग आधार के लिए अन्य सहयोगी देशों की तलाश कर रहे हैं। इससे जुड़े एक समझौते पर मार्च में दोनों देशों ने हस्ताक्षर भी किया था। जिसमें चंद्रमा और उसकी कक्षा दोनों में रिसर्च सेंटर का निर्माण शामिल है।

क्या है रोडमैप?

क्या है रोडमैप?

रोडमैप के मुताबिक जब तक दोनों देश अपने क्रू को पूरी तरह से ट्रेन्ड नहीं कर देते, तब तक स्टेशन ऑटोमैटिक तरीके से संचालित होगा। इसके अलावा प्रारंभिक खोज मिशन इस साल के अंत तक शुरू होने की संभावना है, जबकि चंद्रमा पर बेस के निर्माण का काम 2025 में शुरू हो सकता है। उम्मीद जताई जा रही है कि पूरा काम 2035 तक पूरा हो जाएगा। वैसे अमेरिका, भारत जैसे देश भी चंद्रमा को लेकर कई मिशन को अंजाम देने में जुटे हैं।

क्या होगी लोकेशन?

क्या होगी लोकेशन?

मामले में चीनी अंतरिक्ष एजेंसी के डिप्टी हेड वू यान्हुआ ने कहा उन्होंने रूस के साथ मिलकर ILRS प्रोग्राम शुरू किया है, जो भी अंतरराष्ट्रीय भागीदार इसमें हिस्सा लेना चाहते हैं, उनका स्वागत है। इस प्रोग्राम का पहला फेस इस साल के अंत तक शुरू हो जाएगा। इसके बाद 2026 से 2035 के बीच दूसरा फेस चलेगा। फिर 2036 से तीसरे फेस की शुरुआत होगी। अमेरिका भी चंद्रमा पर यूएस आर्टेमिस मिशन चला रहा है। ऐसे में चीन-रूस के संयुक्त स्टेशन की लोकेशन साउथ पोल में उसके आसपास ही कहीं हो सकती है।

चीन ने पार की नीचता की सारी हदें, नर चूहों से अमानवीय तरीके से पैदा करवाया बच्चाचीन ने पार की नीचता की सारी हदें, नर चूहों से अमानवीय तरीके से पैदा करवाया बच्चा

English summary
International Lunar Research Station moon China and Russia by 2035
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X