• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अमेरिका में भारतीय इंजीनियर और गर्भवती पत्नी की चाकूबाजी में मौत! रोती मिली 4 साल की बेटी

|

वाशिंगटन/मुंबई: अमेरिका में एक भारतीय इंजीनियर और उनकी पत्नी का शव उनके घर में मिला है। रिपोर्ट के मुताबिक मृत इंजीनियर के पड़ोसियों ने 4 साल की बच्ची को घर के बालकनी में रोते देखा जिसके बाद पुलिस को खबर दी गई। जब पुलिस ने घर का दरवाजा खोला तो पता चला कि भारतीय इंजीनियर और उनकी पत्नी घर में मृत अवस्था में हैं। इंजीनियर की पत्नी का खून घर में फैला हुआ था जबकि बगल में इंजीनियर का शव भी बड़ा मिला है।

    America में घर में मिला Indian Couple का शव, बालकनी में रोती दिखी बच्ची | वनइंडिया हिंदी
    मौत की वजह अज्ञात

    मौत की वजह अज्ञात

    4 साल की बच्ची को घर में रोता देख पड़ोसियों ने पुलिस को खबर दी, जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने तफ्तीश शुरू कर दी। पुलिस ने कहा है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद वो मौत की असली वजह बताएंगे। रिपोर्ट के मुताबिक इंजीनियर का नाम बालाजी भारत रूद्रवार था, जिसकी उम्र 32 साल थी वहीं उसकी पत्नी का नाम आरती बालाजी रूद्रवार था, जो 30 साल की थी। ये दोनों महाराष्ट्रा के बीड जिले के रहने वाले थे और इस वक्त अमेरिका के न्यूजर्सी में एक फ्लैट में रहते थे जहां दोनों का शव पाया गया है।

    चाकूबाजी में हुई मौत?

    चाकूबाजी में हुई मौत?

    अमेरिका के न्यूजर्सी की लोकल मीडिया के मुताबिक भारतीय इंजीनियर बालाजी और उनकी पत्नी की मौत चाकूबाजी में हुई है। अमेरिका की लोकल मीडिया का कहना है कि पति ने एक चाकू से पहले गर्भवती पत्नी का पेट चीर दिया और फिर खुद भी आत्महत्या कर ली। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि दोनों के बीच झगड़ा हुआ था, जिसके बाद पति ने सात महीने की गर्भवती पत्नी की हत्या कर दी और फिर अपनी जान ले ली।

    परिवार का बयान

    परिवार का बयान

    बेटे और बहू की मौत के बाद पिता रूद्रवार ने कहा है कि ‘मेरी बहू आरती 7 महीने की गर्भवती थी और हम कुछ दिन पहले उनके घर आए हुए थे। हम उनके यहां फिर से जाने की प्लानिंग कर रहे थे। उनकी अचानक मौत के बारे में हमें कुछ नहीं पता है। वो दोनों अपनी जिंदगी में खुश थे और उनका पड़ोसियों के साथ भी अच्छा रिश्ता था।' बाजाली के पिता ने कहा है कि ‘अमेरिकी अधिकारियों ने मुझे बताया है कि तमाम जरूरी आवश्यकताओं को पूरा करने में करीब 8 से 10 दिनों का वक्त लगेगा और उसके बाद ही दोनों का शव भारत आ पाएगा'

    2015 में गये थे अमेरिका

    2015 में गये थे अमेरिका

    परिवार के मुताबिक महाराष्ट्र के बीड जिले के रहने वाले अंबाजोगई के आईटी इंजीनियर बालाजी रूद्रवार अगस्त 2015 में अमेरिका गये थे और उन्होंने 2014 में आरती के साथ शादी की थी। उनके पिता एक कारोबारी हैं। वहीं, दोनों की मौत के बाद 4 साल की बेटी बालाजी के एक इंडियन दोस्त के घर पर है। न्यूजर्सी में इंडियन्स की अच्छी खासी आबादी है और वहां भारतीयों की आबादी 60 फीसदी से ज्यादा है।

    अमेरिका: टेक्सास के पार्क में हुई अंधाधुंध गोलीबारी, 1 की मौत, 6 घायल

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    In the US, the Indian engineer and his pregnant wife found dead in suspicious condition at home. Their four-year-old daughter is found crying in the balcony.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X