लावारिस जमीं पर झंडा फहरा बना महाराज सुयश, नाम किंगडम ऑफ दीक्षित रखा

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi
    Indian लड़का बना African देश का राजा, पिता को बनाया प्रधानमंत्री | वनइंडिया हिंदी

    नई दिल्ली। हर बच्चा 'राजा बेटा' होता है। अपने माता-पिता के लिए बर बच्चा ही राजा होता है, लेकिन सुयश दीक्षित ने जो किया उसने उसे सचमुच का राजा बता दिया। जी हां इस भारतीय ने जो किया वो बेहद दिलचस्प है। इनसे लावारिस जमीं पर झंडा फहरा कर खुद को वहां का राजा घोषित कर दिया। सुयश अब महाराज सुयश बन चुका है। उसके राज्य का नाम किंगडम ऑफ दीक्षित है। राजधानी का नाम सुयशपुर है और इस देश के प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति और सेनाध्यक्ष सुयश के पिता है। उन्होंने अपने पिता को जन्मदिन पर ये देश गिफ्ट में दे दिया।

     झंडा फहराकर बन गया राजा

    झंडा फहराकर बन गया राजा

    मध्य प्रदेश का रहने वाला सुयश दीक्षित अपने दफ्तर के काम से मिस्त्र गया था। सुयश ने यहां जो काम किया उसकी वजह से अब वो महाराज सुयश बन चुका है। दरअसल मिस्त्र और सूडान के बीच में करीब 800 स्क्वॉयर मील की एक जगह ऐसी है, जो किसी देश के भीतर नहीं आता। इस जमीन पर न तो मिस्त्र दावा करता है और न ही सूडान। इस लावारिस जगह के बारे में सुयश ने पहले से पढ़ रखा था। उसने मौके का फायदा उठाया और वहां जाकर झंडा फहराकर खुद को वहां का राजा घोषित कर दिया। इस जगह का नाम बीर तवील है, जो पूरी तरह से रेगिस्तान और बंजर का इलाका है। ये एक नोमेंस लैंड है। जहां जाकर सुयश ने अपना झंडा गाड़ा, जमीन में बीज रोपा और खुद को वहां का राजा घोषित कर दिया।

     प्लानिंग के साथ किया काम

    प्लानिंग के साथ किया काम

    सुयश ने ये पूरा काम प्लानिंग के तहत किया। आंतकियों के ठिकानों से घिरे इस जगह पर जाने के लिए सुयश को पुलिस की अनुमति लेनी पड़ी। उनकी शर्तों को मानना पड़ा और अपने जान पर खेलकर ये काम करना पड़ा। आंतकियों के ठिकानों की वजह से इस इलाके में पुलिस को देखते ही गोली मारने की इजाजत मिली हुई है। ऐसे में सुयश ने अपनी जान को जोखिम में डालकर ये काम किया और करीब 319 किलोमीटर की यात्रा करके ये काम किया। इसे करने के लिए उसने पूरी प्लानिंग की और देश घोषित करने के लिए सभी आवश्यक नियमों का अध्ययन किया।

     नागरिकता के लिए आवेदन

    नागरिकता के लिए आवेदन

    सुयश ने अपने इस देश की वेबसाइट भी बना रखी है। आप किंगडम ऑफ दीक्षित के बारे में जानने के लिए https://kingdomofdixit.gov.best/ पर जाकर पूरी जानकारी ले सकते है। इतना ही नहीं आप इस देश के लिए नागरिकता के लिए भी आवेदन कर सकते है। अब तक 5 लोगों ने इस देश की नागरिकता हासिल करने के लिए आवेदन किया है। सुयश अपने नए देश के लिए नियम और कानूनों को बनाने में जुटे हैं। लोग उन्हें सुझाव दे रहे हैं। आप भी इस देश की नागरिकता इस वेबसाइट पर डाकर ले सकते है।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Suyash travelled to Bir Tawil, a strip of land between Egypt and Sudan which is not owned by any country and declared himself the King of the land.

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.